• बाबूलाल मरांडी के बेटे व CRPF के सहायक कमांडेंट की हत्या में शामिल कुख्यात नक्सली सिदो कोड़ा की मौत

    दुमका/जमुई : झारखंड के दुमका जिला से गिरफ्तार हार्डकोर नक्सली सिदो कोड़ा की बिहार के जमुई सदर अस्पताल में मौत हो गयी. उसे 22 फरवरी को बिहार-झारखंड पुलिस व एसटीएफ ने गिरफ्तार किया था. गिरफ्तारी के बाद उसने जंगल में पुलिस से पेट व छाती में दर्द की शिकायत की. पुलिस उसे लेकर जमुई सदर अस्पताल गयी, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया. झारखंड के प्रथम मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी के बेटे की हत्या के साथ ही सीआरपीएफ के सहायक कमांडेंट हीरा झा की हत्या में भी वह शामिल था.

  • गिरफ्तार जोनल कमांडर सिद्धो कोड़ा की मौत, छाती में दर्द की थी शिकायत

    दुमका/जमुई : बिहार और झारखंड में आतंक का पर्याय बन चुके कुख्यात नक्सली जोनल कमांडर सिद्धो कोड़ा की गिरफ्तारी के कुछ ही घंटे बाद पुलिस कस्टडी में मौत हो गयी. जानकारी के अनुसार, एसटीएफ पटना की टीम ने दुमका पुलिस की मदद से दुमका शहर के सटे इलाके से शनिवार तड़के सिद्धो कोड़ा को गिरफ्तार किया था. उसकी गिरफ्तारी जमुई जिले में पहले गिरफ्तार हुए किसी नक्सली की निशानदेही पर की गयी.

  • दुमका : पति को बांध कर महिला से सामूहिक दुष्कर्म

    काठीकुंड(दुमका) : दुमका के काठीकुंड में 24 वर्षीया महिला से तीन युवकों ने सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया. घटना के वक्त महिला पति के साथ हाट से वापस लौट रही थी.

  • नाबालिग सहित दो पकड़े गये, छह लोगों की तलाश में छापेमारी जारी

    देवघर में नगर थाना क्षेत्र के कालीराखा हरिशरणम कुटीर के समीप सेंचुरिया गली निवासी अनिल सिंह की पत्नी अरुण देवी व पुत्र अमित कुमार सिंह की हत्या में पुलिस को कई साक्ष्य मिले हैं. हालांकि घटना के दूसरे दिन पुलिस ने अंकित के अलावा एक अन्य नाबालिग को पकड़ा है. नाबालिग एक बड़े प्राइवेट स्कूल के 10वीं का सेंटप का छात्र

  • काठीकुंड में पति को बांधकर महिला से गैंगरेप, तीनों आरोपी गिरफ्तार

    दुमका जिले के काठीकुंड प्रखंड में 24 वर्षीय महिला से उस वक्त सामूहिक दुष्कर्म करने का दुस्साहस तीन युवकों ने किया, जब वह पति के साथ हाट से वापस लौट रही थी. आरोपियों ने उसके पति को बांध दिया और पत्नी को जंगल के बीच ले जाकर बारी-बारी से दुष्कर्म किया.

  • 144 गांव समा गये, 3000 से अधिक परिवार बेघर ; 24000 एकड़ जमीन चली गयी, पर 64 साल बाद भी पानी को तरस रहा संताल

    झारखंड के दुमका जिले के मसानजोर में मयुराक्षी नदी पर बने डैम का लाभ लेने के लिए संताल परगना के लोग पिछले 64 सालों से संघर्ष कर रहे हैं. पर पड़ोसी राज्य पश्चिम बंगाल निर्माण के दौरान तय की गयी शर्तों का उल्लंघन कर यहां के लोगों का हक मार रहा है. और तो और, झारखंड में स्थिति इस विशाल संपत्ति पर कब्जा जमाये बैठा है.

  • झारखंड में डैम : पानी मिल रहा बंगाल को, तरस रहा संताल

    आनंद जायसवाल, दुमका : झारखंड के दुमका जिले के मसानजोर में मयुराक्षी नदी पर बने डैम का लाभ लेने के लिए संताल परगना के लोग पिछले 64 सालों से संघर्ष कर रहे हैं. पर पड़ोसी राज्य पश्चिम बंगाल निर्माण के दौरान तय की गयी शर्तों का उल्लंघन कर यहां के लोगों क