72 results found for ''IPL 2018''
डीबी कसार होंगे दक्षिण पूर्व रेलवे के नये आइजी
दक्षिण पूर्व रेलवे के आरपीएफ आइजी एससी पाढ़ी का तबादला कर दिया गया है. पाढ़ी ने मई 2018 में ही जोन में पीसीएससी का प्रभार लिया था. समय से पूर्व उनका तबादला किये जाने के पीछे डीजी अरुण कुमार की भ्रष्टाचार को लेकर जीरो टॉलरेंस की नीति को ही बड़ा कारण बताया जा रहा है.
ईडी ने Air Asia के सीईओ समेत टॉप अफसरों को पूछताछ के लिए किया तलब
नयी दिल्ली : प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने एयर एशिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) टोनी फर्नांडीस समेत कुछ अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को मनी लॉन्ड्रिंग मामले की जांच के सिलसिले में अगले सप्ताह पूछताछ के लिए बुलाया है. अधिकारियों ने गुरुवार को इसकी जानकारी दी. कंपनी और उसके अधिकारियों पर 2018 में मनी लॉन्ड्रिंग रोकथाम अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया था.
बीसीसीएलकर्मी 46,019 उत्पादन 10.86 एमटी, पढ़ें यह खास रिपोर्ट
बीसीसीएल के कर्मचारियों की वर्तमान संख्या 46,019 है, जबकि आउटसोर्सिंग मजदूरों (अनुबंधित कर्मी) की संख्या करीब 4682 के आसपास है. पर आउटसोर्सिंग मजदूर बीसीसीएल के स्थायी मजदूरों-कर्मियों की तुलना में कई गुणा ज्यादा कोयला उत्पादन कर रहे हैं. वित्तीय वर्ष (2018-19) में 42.40 मिलियन टन के लक्ष्य के मुकाबले बीसीसीएल ने कुल 31.03 मिलियन टन कोयले का उत्पादन किया है.
बेरोजगारों की खुदकुशी से चिंता
भारत में बेरोजगारी अब एक अतिगंभीर समस्या का रूप लेती जा रही है. भारत सरकार की ही संस्था ''नेशनल क्राइम रिकॉर्ड्स ब्यूरो'' (एनसीआरबी) की हाल ही में आयी एक रिपोर्ट के अनुसार, साल 2018 में बेरोजगारी से तंग भारत के युवा बड़ी संख्या में खुदकुशी करने की राह पर चल पड़े हैं.
प्याज-आलू की कीमतों ने दिसंबर में भी उपभोक्ताओं की जेब पर डाला डाका
नयी दिल्ली : प्याज और आलू समेत सब्जियों की कीमतों ने दिसंबर 2019 के दौरान देश के आम उपभोक्ताओं की जेब पर डाका डालने में कोई कसर बाकी नहीं रखी है. इसी का नतीजा है कि दिसंबर में थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति बढ़कर 2.59 फीसदी पर पहुंच गयी. हालांकि, नवंबर में थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति 0.58 फीसदी पर थी. दिसंबर, 2018 में यह 3.46 फीसदी के स्तर पर थी.
नये एमवीआइ एक्ट का दिखा बेहद हल्का असर, 2019 में बढ़ीं सड़क दुर्घटनाएं
पटना : पिछले वर्ष प्रथम छमाही की तुलना में दूसरे छमाही में सड़क दुर्घटना की संख्या घटी, फिर भी वर्ष 2018 की तुलना में 2019 में सड़क दुर्घटना व उसमें मृतकों की संख्या कुल मिला कर अधिक रही.
एलएलबी छात्र आज से भरेंगे के परीक्षा फॉर्म
आरा : वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय ने एलएलबी के परीक्षार्थियों के लिए परीक्षा फॉर्म भरने की तिथि घोषित कर दी है. परीक्षा नियंत्रक डॉ लतिका वर्मा ने बताया कि एलएलबी सेमेस्टर एक, सत्र 2018 -21, सेमेस्टर 4, सत्र 2017-20 ,सेमेस्टर 6, सत्र 2016-19 का परीक्षा फॉर्म बिना विलंब शुल्क के 14 से 21 जनवरी तक संबंधित महाविद्यालय में भरा जायेगा.
टीम इंडिया के फास्ट बॉलर जसप्रीत बुमराह को पॉली उमरीगर पुरस्कार
मुंबई : बीसीसीआइ ने रविवार को घोषणा की कि भारत के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को 2018-19 सत्र में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन करने के लिए प्रतिष्ठित पाली उमरीगर पुरस्कार से सम्मानित किया जायेगा. उन्हें रविवार को यहां होने वाले बीसीसीआइ के सालाना पुरस्कार सम्मेलन में यह पुरस्कार दिया जायेगा.
विशेष बातचीत में बोले मारुति सुजुकी के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर- नये मॉडल लॉन्च करने की तैयारी में, सेल्स ग्राफ और बढ़ेगा
मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर (मार्केटिंग एंड सेल्स) शशांक श्रीवास्तव ने दिया ग्राहकों के विश्वास को बनाये रखने का भरोसा, कहा- रांची : भारत में वाहन उद्योग तेजी से आगे बढ़ रहा है. 2018 में अकेले इस सेक्टर ने भारत के जीडीपी में सात फीसदी का योगदान दिया था. हालांकि कुछ समय पहले तक अन्य देशों की तरह ही भारत के ऑटोमोबाइल उद्योग के अंदर नतीजे उत्साहवर्धक नहीं रहे. बीते साल जुलाई माह में वाहनों की बिक्री बीते दो दशकों में सबसे कम रही थी.
रांची : मेसो अस्पताल के संचालकों को छह माह से भुगतान नहीं
रांची : कल्याण विभाग के 14 मेसो अस्पताल हैं, जहां गरीबों को नि:शुल्क चिकित्सा सुविधा मिलती है. इनमें जनजातीय इलाके (मेसो क्षेत्र) में वर्ष 2009 से संचालित नौ अस्पताल तथा बाद के वर्षों में बने पांच नये अस्पताल शामिल हैं. इन सभी का संचालन गैर सरकारी संस्था करती है. पांच नये अस्पतालों का संचालन नवंबर 2018 से हो रहा है, पर इनका संचालन कर रहीं संस्थाओं को गत छह माह से भुगतान नहीं हुआ है.
गुमला से 10 करोड़ ले भागी कोलकाता की चिटफंड कंपनी
गुमला : पैसे दोगुने करने का दावा करनेवाली कोलकाता की रैंबो मल्टी स्टेट क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसाइटी लि वर्ष 2018 में झारखंड, बिहार और कोलकाता के हजारों लोगों के करोड़ों रुपये लेकर फरार हो गयी थी. गुमला जिले के भी 1000 से अधिक लोगों ने अपनी जमा-पूंजी के करीब 10 करोड़ रुपये इस चिटफंड कंपनी में लगाये थे. यह खुलासा सीबीआइ की शुरुआती जांच में हुआ है.
छात्र आत्महत्या की बढ़ती घटनाएं
नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो ने हाल में देश में आत्महत्या के जो आंकड़े जारी किये हैं, वे चिंताजनक हैं. किसी भी समाज और देश के लिए यह बेहद चिंताजनक स्थिति है. कोई शख्स आत्महत्या को आखिरी विकल्प क्यों मान रहा है? नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो की रिपोर्ट के मुताबिक देश में आत्महत्या के मामलों में 3.6 फीसदी की बढोत्तरी हुई है और औसतन देश में हर दो घंटे में तीन लोग जान दे रहे हैं. रिपोर्ट के अनुसार 2018 में कुल 1, 34, 516 लोगों ने खुदकुशी की, जो 2017 के 1, 29, 887 आत्महत्या के मामलों के मुकाबले 3.6 फीसदी अधिक है.
कोलकाता की चिटफंड कंपनी झारखंड से 10 करोड़ लेकर हुई फरार
दुर्जय पासवान, गुमला : पैसे दोगुने करने का दावा करनेवाली कोलकाता की रैंबो मल्टी स्टेट क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसाइटी लि वर्ष 2018 में झारखंड, बिहार और कोलकाता के हजारों लोगों के करोड़ों रुपये लेकर फरार हो गयी थी.
बस में दोनों तरफ लुकिंग ग्लास नहीं होने पर लगेगा जुर्माना
कोलकाता : प्राइवेट बसों में दोनों तरफ लुकिंग ग्लास नहीं लगे होने पर अब चालकों से जुर्माना वसूला जायेगा. कोलकाता ट्रैफिक पुलिस की तरफ से महानगर के सभी ट्रैफिक गार्ड को यह निर्देश दिया गया है. कोलकाता ट्रैफिक पुलिस सूत्रों के मुताबिक महानगर में गत एक वर्ष के दुर्घटना के आंकड़ों पर नजर डालने पर पाया गया कि महानगर में मुख्यमंत्री के ‘सेफ ड्राइव सेव लाइफ’ अभियान के बाद कोलकाता में सड़क दुर्घटनाओं में काफी कमी आयी है. 2018 में पूरे महानगर में 283 सड़क हादसों में 294 लोगों की मौत हुई थी. 2019 में हादसों की संख्या घट कर 260 हो गयी, जिनमें 267 लोगों ने जान गंवायी.
तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को BCCI आज देगा पाली उमरीगर पुरस्कार
बीसीसीआई ने रविवार को घोषणा की कि भारत के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को 2018-19 सत्र में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन करने के लिये प्रतिष्ठित पाली उमरीगर पुरस्कार से सम्मानित किया जायेगा.
कैबिनेट के फैसले : सुरक्षा देने के लिए हर जिले में बनेगी कमेटी, क्रिमिनल केस के गवाहों को सरकार देगी सुरक्षा
पटना : आपराधिक मामलों के गवाहों को अब राज्य सरकार पर्याप्त सुरक्षा प्रदान करेगी. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में शनिवार को हुई कैबिनेट की बैठक में बिहार गवाह सुरक्षा योजना, 2018 सहित 18 प्रस्तावों को मंजूरी दी गयी. गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव आमिर सुबहानी ने कैबिनेट के फैसले की जानकारी देते हुए बताया कि सर्वोच्च न्यायालय में दायर रिट पिटीशन (क्रिमिनल) के मामले में पारित आदेश के पालन में बिहार गवाह सुरक्षा योजना, 2018 को कैबिनेट में स्वीकृति दी गयी है. उन्होंने बताया कि क्रिमिनल केस में गवाहों को धमकी मिलती थी, उनकी जान को खतरा रहता है. ऐसे में सुरक्षा सुनिश्चित की जानी है.
सीसीएल-बीसीसीएल में कोयला उत्पादन में कमी
रांची : झारखंड की दो कंपनियाें सीसीएल और बीसीसीएल ने दिसंबर 2018 की तुलना में दिसंबर 2019 तक कम कोयला उत्पादन किया है. इसके अतिरिक्त एसइसीएल और एमसीएल का उत्पादन विकास दर भी नकारात्मक है.
मेधा छात्रवृत्ति परीक्षा में 2400 से बढ़कर 10000 हुए अभ्यर्थी
रांची : राज्य में राष्ट्रीय साधन सह मेधा छात्रवृत्ति परीक्षा में शामिल होने वाले विद्यार्थियों की संख्या में रिकार्ड बढ़ोतरी हुई है. राज्य में पहली बार छात्रवृत्ति परीक्षा में लगभग दस हजार विद्यार्थी शामिल हो रहे हैं. वर्ष 2018-19 की परीक्षा में मात्र 2400 विद्यार्थी परीक्षा में शामिल हुए थे. राज्य में कुल 1900 सीट है.
एनसीआरबी की रिपोर्ट : वर्ष 2018 में झारखंड में कुल 841 हत्या की वारदातें हुईं
वर्ष 2018 में झारखंड में हत्या को लेकर नेशनल क्राइम रिकाॅर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) ने रिपोर्ट जारी की है. कुल हत्या की संख्या 841 बतायी गयी हैं. प्रदेश में व्यक्तिगत प्रतिशोध में सबसे ज्यादा 178 हत्या हुई हैं. इसके बाद संपत्ति विवाद में 140, पारिवारिक विवाद में 125, पैसा विवाद में 58 और पानी विवाद में हत्या के 10 मामले सामने आये हैं. वहीं, सुपारी देकर हत्या के 29 मामले दर्ज किये गये. हत्या के 17 ऐसे भी मामले हैं जिसका खुलासा झारखंड पुलिस नहीं कर पायी है. अवैध संबंध में 50 और लव अफेयर में 59 लोगों की हत्या भी बात भी रिपोर्ट में कही गयी है.
बच्चों को क्या बतायेंगे, शिक्षकों को ही पता नहीं
रांची : राज्य के सरकारी विद्यालय के शिक्षकों को शिक्षा विभाग द्वारा पठन-पाठन को लेकर चलाये जानेवाले कार्यक्रमों की भी जानकारी नहीं है. इन कार्यक्रमों में ज्ञानसेतु एक प्रमुख कार्यक्रम है, जिसकी शुरुआत नवंबर 2018 में की गयी थी. कार्यक्रम को लेकर आये दिन विभाग द्वारा दिशा-निर्देश भी जारी किया जाता है. इसके बावजूद हालत यह है कि राजधानी के ही जिला स्कूल के शिक्षकों को भी इसकी जानकारी नहीं है. ऐसे में अन्य स्कूलों का क्या हाल होगा समझा जा सकता है.