376 results found for ''ICC Cricket World Cup 2019''
झारखंड विधानसभा चुनाव : केवल 2014 में हुआ था भाजपा से समझौता, आठ सीट मिली थी आजसू को
रांची : आजसू पार्टी ने 2019 विधानसभा चुनाव को लेकर सोमवार को 11 सीटों पर अपने प्रत्याशियों की सूची जारी कर दी है. राज्य गठन के बाद तीसरी बार भाजपा और आजसू पार्टी में समझौता नहीं हो पाया.
झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 : आनेवाला दिन झाविमो का है: बाबूलाल मरांडी
रांची : सोमवार को झाविमो के केंद्रीय कार्यालय में आहूत मिलन समारोह में गुमला जिला की महिला नेत्री रीता कुजूर की अध्यक्षता में बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं के साथ झाविमो सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी पर आस्था व्यक्त करते हुए झाविमो का दामन थामा.
झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 : आनेवाला दिन झाविमो का है: बाबूलाल मरांडी
रांची : सोमवार को झाविमो के केंद्रीय कार्यालय में आहूत मिलन समारोह में गुमला जिला की महिला नेत्री रीता कुजूर की अध्यक्षता में बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं के साथ झाविमो सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी पर आस्था व्यक्त करते हुए झाविमो का दामन थामा.
झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 : शिबू संग पैतृक गांव नेमरा पहुंचे हेमंत ने कहा, भाजपा अबकी बार झारखंड पार
गोला : जेएमएम सुप्रीमो शिबू सोरेन और पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन सोमवार को अपने पैतृक गांव नेमरा पहुंचे. इस दौरान सोहराय पर्व में शामिल होकर पारंपरिक रूप से कुल देवता की पूजा-अर्चना की.
झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 : शिबू संग पैतृक गांव नेमरा पहुंचे हेमंत ने कहा, भाजपा अबकी बार झारखंड पार
गोला : जेएमएम सुप्रीमो शिबू सोरेन और पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन सोमवार को अपने पैतृक गांव नेमरा पहुंचे. इस दौरान सोहराय पर्व में शामिल होकर पारंपरिक रूप से कुल देवता की पूजा-अर्चना की.
कृषि मंत्रालय की रिपोर्ट : देश में अब 37 फीसदी कम हुई गेहूं की बुआई, तिलहन का रकबा बढ़ा
नयी दिल्ली : फसल वर्ष 2019-20 के मौजूदा रबी सत्र (जाड़े की फसल) में पिछले सप्ताह तक गेहूं बुआई का रकबा 37 फीसदी घटकर 9.69 लाख हेक्टेयर रह गया, लेकिन इस दौरान तिलहन बुआई का रकबा बढ़ गया है. कृषि मंत्रालय के ताजा आंकड़ों में यह जानकारी दी गयी है. गेहूं और अन्य रबी फसलों की बुआई आम तौर पर अक्टूबर से शुरू होती है, जबकि अप्रैल से इसकी कटाई का काम शुरू हो जाता है. गेहूं मुख्य रबी फसल है.
झारखंड विधानसभा में लगातार बढ़ा है महिलाओं का प्रतिनिधित्व, जानें 2019 में अबतक कितनों को मिला टिकट...
झारखंड विधानसभा चुनाव के प्रथम चरण का मतदान 30 नवंबर को होना है, इससे पहले अबतक विभिन्न पार्टियों ने जितने उम्मीदवारों की सूची जारी की है, उसके अनुसार भाजपा ने पांच और झारखंड विकास मोर्चा (प्रजातांत्रिक) ने एक महिला को टिकट दिया है. भाजपा ने जिन महिला उम्मीदवारों पर अपना विश्वास जताया है उनके नाम हैं- डॉ लुईस मरांडी जो दुमका से उम्मीदवार हैं, वे रघुवर कैबिनेट में महिला एवं बाल विकास के साथ-साथ अल्पसंख्यक मामलों की भी मंत्री हैं.
झारखंड विधानसभा में लगातार बढ़ा है महिलाओं का प्रतिनिधित्व, जानें 2019 में अबतक कितनों को मिला टिकट...
झारखंड विधानसभा चुनाव के प्रथम चरण का मतदान 30 नवंबर को होना है, इससे पहले अबतक विभिन्न पार्टियों ने जितने उम्मीदवारों की सूची जारी की है, उसके अनुसार भाजपा ने पांच और झारखंड विकास मोर्चा (प्रजातांत्रिक) ने एक महिला को टिकट दिया है. भाजपा ने जिन महिला उम्मीदवारों पर अपना विश्वास जताया है उनके नाम हैं- डॉ लुईस मरांडी जो दुमका से उम्मीदवार हैं, वे रघुवर कैबिनेट में महिला एवं बाल विकास के साथ-साथ अल्पसंख्यक मामलों की भी मंत्री हैं.
ऑनलाइन नहीं हो सके हैं सभी शस्त्र लाइसेंस
पटना : जिले में सभी शस्त्र लाइसेंस अब तक ऑनलाइन नहीं हो पाये हैं. 160 शस्त्र लाइसेंस का यूआइएन नंबर जेनरेट नहीं हो पाया है, जबकि 31 मार्च, 2019 तक सभी शस्त्र लाइसेंस को नेशनल डाटाबेस ऑफ आर्म्स लाइसेंस के तहत जोड़ना था. वहीं, सत्यापन के दौरान 300 लाइसेंस को रद्द कर दिया है. एडीएम शस्त्र लाइसेंस का कहना है कि अभी आवेदन लिया गया है, लेकिन फीडिंग नहीं हो पायी है.
नेट की परीक्षा में इस बार नहीं मिलेगा ब्रेक
पटना : नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने यूजीसी-नेट परीक्षा दिसंबर 2019 के लिए एडमिट कार्ड जारी कर दिया है. एडमिट कार्ड पहले नौ नवंबर को जारी होना था, लेकिन एनटीए ने नोटिस जारी कर जानकारी दी कि परीक्षा के एडमिट कार्ड 10 तारीख को जारी होंगे.
दूसरे चरण की 20 सीटों पर मतदान के लिए कल जारी होगी अधिसूचना, रांची समेत 7 जिलों में शुरू होगा नामांकन
रांची : झारखंड की राजधानी रांची समेत सात जिलों की 20 विधानसभा सीटों के लिए सोमवार (11 नवंबर, 2019) को अधिसूचना जारी होने के साथ नामांकन शुरू हो जायेगा. दूसरे चरण की वोटिंग 7 दिसंबर को होगी. प्रत्याशी 18 नवंबर तक नामांकन दाखिल कर सकेंगे. 19 नवंबर को नामांकन पत्रों की जांच होगी और 21 नवंबर तक प्रत्याशी अपने नाम वापस ले सकेंगे. दूसरे चरण में पूर्वी सिंहभूम की 6, सरायकेला-खरसावां की दो, पश्चिम सिंहभूम की 5, रांची की दो, खूंटी की दो, गुमला की एक और सिमडेगा की 2 सीटों पर मतदान होगा.
दूसरे चरण की 20 सीटों पर मतदान के लिए कल जारी होगी अधिसूचना, रांची समेत 7 जिलों में शुरू होगा नामांकन
रांची : झारखंड की राजधानी रांची समेत सात जिलों की 20 विधानसभा सीटों के लिए सोमवार (11 नवंबर, 2019) को अधिसूचना जारी होने के साथ नामांकन शुरू हो जायेगा. दूसरे चरण की वोटिंग 7 दिसंबर को होगी. प्रत्याशी 18 नवंबर तक नामांकन दाखिल कर सकेंगे. 19 नवंबर को नामांकन पत्रों की जांच होगी और 21 नवंबर तक प्रत्याशी अपने नाम वापस ले सकेंगे. दूसरे चरण में पूर्वी सिंहभूम की 6, सरायकेला-खरसावां की दो, पश्चिम सिंहभूम की 5, रांची की दो, खूंटी की दो, गुमला की एक और सिमडेगा की 2 सीटों पर मतदान होगा.
झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 : कांग्रेस ने 5 उम्मीदवारों की सूची जारी की, देखें VIDEO
रांची : झारखंड में पहले चरण के विधानसभा चुनावों के लिए कांग्रेस ने अपने सभी पांच उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी है. लोहरदगा (एसी) से प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रामेश्वर उरांव को टिकट दिया गया है. मनिका (एसटी) से रामचंद्र सिंह को उम्मीदवार बनाया गया है.
झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 : कांग्रेस ने 5 उम्मीदवारों की सूची जारी की, देखें VIDEO
रांची : झारखंड में पहले चरण के विधानसभा चुनावों के लिए कांग्रेस ने अपने सभी पांच उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी है. लोहरदगा (एसी) से प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रामेश्वर उरांव को टिकट दिया गया है. मनिका (एसटी) से रामचंद्र सिंह को उम्मीदवार बनाया गया है.
मुगल साम्राज्य, ब्रितानी हुकूमत और आजादी के बाद भी अनसुलझा रहा था अयोध्या मसला
नयी दिल्ली : मुगल साम्राज्य, औपनिवेशिक शासन... और फिर स्वतंत्रता के बाद भी दशकों तक अनसुलझा रहा अयोध्या राम जन्मभूमि विवाद आखिरिकार नौ नवंबर, 2019 को सुप्रीम कोर्ट के ऐतिहासिक फैसले के बाद समाप्त हो गया. सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार को कहा कि 1989 में ‘भगवान श्रीराम लला विराजमान’ की ओर से दायर याचिका बेवक्त नहीं थी, क्योंकि अयोध्या में विवादित मस्जिद की मौजूदगी के बावजूद उनकी ‘पूजा-सेवा’ जारी रही.
मुगल साम्राज्य, ब्रितानी हुकूमत और आजादी के बाद भी अनसुलझा रहा था अयोध्या मसला
नयी दिल्ली : मुगल साम्राज्य, औपनिवेशिक शासन... और फिर स्वतंत्रता के बाद भी दशकों तक अनसुलझा रहा अयोध्या राम जन्मभूमि विवाद आखिरिकार नौ नवंबर, 2019 को सुप्रीम कोर्ट के ऐतिहासिक फैसले के बाद समाप्त हो गया. सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार को कहा कि 1989 में ‘भगवान श्रीराम लला विराजमान’ की ओर से दायर याचिका बेवक्त नहीं थी, क्योंकि अयोध्या में विवादित मस्जिद की मौजूदगी के बावजूद उनकी ‘पूजा-सेवा’ जारी रही.
बाबरी विध्वंस मामले में अप्रैल 2020 तक आ सकता है फैसला, इन बड़े नेताओं का है नाम
लखनऊ : लखनऊ की एक विशेष सीबीआई अदालत में चल रहे अयोध्या में बाबरी मस्जिद ढांचा गिराये जाने के आपराधिक मामले में फैसला अप्रैल 2020 तक आने की संभावना है. विशेष सीबीआई अदालत ने अभियोजन पक्ष द्वारा सबूत और गवाही पेश करने की आखिरी तारीख 24 दिसंबर तय की है. 29 सितंबर, 2019 को आरेाप तय किये जाने के बाद अदालत द्वारा बार-बार आदेश जारी करने के बावजूद तत्कालीन मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के खिलाफ गवाह नहीं लाने पर हाल ही में अभियोजन पक्ष को फटकार लगायी गयी थी.
विंग्स टैलेंट सर्च एग्जाम में शामिल होने के लिए सात दिन शेष, जल्द करें आवेदन
पटना : आइआइटी, जेइइ व एम्स परीक्षाओं की तैयारी करानेवाले प्रसिद्ध कोचिंग संस्थान विंग्स ने टैलेंट सर्च एग्जाम- 2019 की घोषणा की है. इस एग्जाम में इंजीनियरिंग व मेडिकल सहित अन्य कटेगरी में कैरियर बनाने की इच्छा रखने वाले 9वीं से 12वीं तक के छात्र-छात्राएं शामिल हो सकते हैं. इसके लिए उन्हें ऑनलाइन (www.wingsedu.org.in) या ऑफलाइन (विंग्स या प्रभात खबर के किसी कार्यालय में) आवेदन करना होगा.
बिहार विधानसभा के 2020 : समर्पित कार्यकर्ताओं को ही टिकट
पटना : बिहार विधानसभा के 2020 के चुनाव में जदयू अपने समर्पित कार्यकर्ताओं को ही टिकट देगा. इसके लिए सभी संगठन प्रभारियों को जुटने का निर्देश दिया गया है. साथ ही 15 नवंबर से पांच दिसंबर, 2019 के बीच बूथ अध्यक्ष और बूथ सचिव बनाने और महीने में 15 से 20 दिन विधानसभा क्षेत्र में देने का प्रभारियों से कहा गया है. यह निर्देश पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव (संगठन) व राज्यसभा में दल के नेता आरसीपी सिंह ने दिया.
मॉब लिंचिंग मामले में 12 लोग दोषी करार
पश्चिम बंगाल सरकार ने मॉब लीचिंग (भीड़ द्वारा हत्या) के मामलों पर नियंत्रण करने के लिए नया कानून पारित किया है. पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा मानसून सत्र में द वेस्ट बंगाल (प्रीवेंशन ऑफ लिंचिंग) बिल, 2019 पारित किया गया था.