7 results found for ''GST Exemption Limit Doubled''
GST छापा पड़ने से परेशान व्यापारी ने की आत्महत्या, बेटे ने कहा- दो CA कर रहे थे रुपये की मांग
मध्यप्रदेश के इंदौर में कर सलाहकार और अनाज व्यापारी गोविंद अग्रवाल ने गुरुवार को अपने अपार्टमेंट की तीसरी मंजिल से कूद आत्महत्या कर ली. हादसे के बाद परिजन उन्हें आनना-फानन में निजी अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.
GST रिटर्न फाइल करने वाले कारोबारियों के लिए राहत लेकर आया Gujrat HC का यह फैसला...
अहमदाबाद : अर्थव्यवस्था के क्षेत्र में वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) को देश में लागू हुए दो साल पूरे हो गये हैं. क्रांतिकारी ''वन नेशन, वन टैक्स'' कई कानूनी मुद्दों का गवाह भी है, लेकिन धीरे-धीरे अब इसमें गिरावट भी आने लगी है. गुजरात हाई कोर्ट ने अभी हाल ही में आईटीसी से संबंधित जुलाई, 2017 से मार्च, 2018 तक के लिए जारी चालानों को लेकर फैसला सुनाया है. हाईकोर्ट के इस फैसले से कई करदाताओं को राहत मिलेगी.
'GST परिषद और वित्त आयोग के बीच में विचार-विमर्श करने की एक मैकेनिज्म होनी चाहिए'
भोपाल : 15वें वित्त आयोग के चेयरमेन एनके सिंह ने गुरुवार को कहा कि वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) परिषद और वित्त आयोग के बीच में विचार-विमर्श करने की एक व्यवस्था होनी चाहिए. इसके लिए हमने केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन से आग्रह किया है और उनकी ओर से सकारात्मक जवाब मिला है. जीएसटी से भविष्य में राज्यों को होने वाले नुकसान के बारे में पूछे गये एक सवाल के जवाब में सिंह ने यहां संवाददाताओं को बताया कि जीएसटी का मामला वित्त आयोग से सीधे तरह से संबंधित नहीं है, क्योंकि जीएसटी परिषद एक संवैधानिक संस्था है. ...और वे स्वयं स्वायत्त रूप से अपना निर्णय देते हैं.
GST लागू करने वाली सरकार प्रचंड बहुमत से जीत कर वापस आयी : सुशील मोदी
पटना : बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने जीएसटी के दो वर्ष पूरा होने पर ‘जीएसटी दिवस’ पर अधिवेशन भवन में आयोजित समारोह की अध्यक्षता करते हुए अपने संबोधन में कहा कि जीएसटी लागू करने वाले दुनिया के अधिकांश देशों में जहां महंगाई बढ़ी और वहां की सरकारें चुनाव हार गयीं. वहीं भारत में महंगाई नियंत्रण में रहीं, अधिकांश चीजों पर टैक्स की दर में कमी आयी और जीएसटी लागू करने वाली सरकार दुबारा प्रचंड बहुमत से जीत कर सत्ता में वापस आयी.
GST रिटर्न दाखिल करने वालों की संख्या लक्ष्य से कम, रजिस्टर्ड कारोबारियों में से 60 फीसदी ही भरते हैं GSTR-3B
नयी दिल्ली : देश में नयी व्यवस्था वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) के दो साल पूरे होने के बावजूद इसमें कर रिटर्न दाखिल करने वालों की संख्या लगातार अस्थिर बनी हुई है. प्रत्येक तीन महीने में इसमें कुछ वृद्धि दिखाई देती है, लेकिन कुल मिलाकर यह लक्ष्य से कम है. आंकड़ों का विश्लेषण करने से यह स्थिति सामने आती है.
GST के दो साल : कई नये सुधारों को पेश करेगी मोदी सरकार
माल एवं सेवा कर (जीएसटी) के क्रियान्वयन की दूसरी वर्षगांठ पर सोमवार को सरकार इस अप्रत्यक्ष कर प्रणाली में कुछ और सुधार पेश करेगी. इन सुधारों में नयी रिटर्न प्रणाली, नकद खाता प्रणाली को तर्कसंगत बनाना और एकल रिफंड वितरण प्रणाली शामिल है.
GST : अब महीने में केवल एक बार एकल फॉर्मेट में ही भरना होगा रिटर्न : सुशील मोदी
बेंगलुरू : माल एवं सेवा कर (जीएसटी) रिटर्न दायर करने की नयी प्रणाली के तहत व्यापारियों को कई तरह के प्रारूप के बजाय अब महीने में केवल एक बार एकल फॉर्मेट में ही रिटर्न भरना होगा. बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने शनिवार को यहां इसकी जानकारी दी. सुशील मोदी जीएसटी क्रियान्वयन के बाद राजस्व में आयी कमी पर विचार करने के लिये गठित मंत्रियों के समूह के प्रमुख हैं.