65 results found for ''Auto Expo 2018''
पटना : सृजन घोटाले में 27 के खिलाफ आरोपपत्र दाखिल
पटना : सीबीआइ ने करोड़ों रुपये के सृजन गबन मामले में मंगलवार को 27 अभियुक्तों के खिलाफ आरोपपत्र दाखिल किया है. उक्त आरोपपत्र भादवि व पीसी एक्ट की विभिन्न धाराओं में सीबीआइ के प्रभारी न्यायिक दंडाधिकारी रवि कुमार की अदालत में दाखिल किया गया. उक्त मामला भागलपुर के कोतवाली थाना में 28 अगस्त, 2017 को दर्ज किया गया था. जिसे सीबीआइ ने 12 जून, 2018 को मामला दर्ज करते हुए अनुसंधान प्रारंभ किया, तो पाया कि अभियुक्तों ने अपने पद का दुरूपयोग कर बैंककर्मियों व डीडीसी भागलपुर कर्मियों के सहयोग से 36 बैंक ड्राफ्ट के माध्यम से फर्जी तरीके से सृजन के खाते में डालकर 23 करोड़ 74 लाख की सरकारी राशि का गबन कर आपस में बंदरबांट कर ली.
बिहार से फोर्ब्स की सूची में अब तक चार लोग, प्रशांत किशोर-कन्हैया के पहले संप्रदा व अनिल शामिल
पटना : फोर्ब्स मैगजीन की सूची में प्रदेश से अब तक चार लोग शामिल हो गये हैं. इनमें संप्रदा सिंह, अनिल अग्रवाल, प्रशांत किशोर व कन्हैया कुमार शामिल हैं. इससे पूर्व वर्ष 2015, 2016, 2017 व 2018 में जहानाबाद के रहने वाले दवा कारोबारी संप्रदा सिंह शामिल रहे थे. वहीं, वर्ष 2016 में पटना के रहने वाले खनन व्यवसायी अनिल अग्रवाल का नाम भी इस सूची में शामिल था. इस बार इस सूची में जदयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर व भाकपा नेता कन्हैया कुमार का नाम शामिल हुआ है.
तीन गुणा बढ़े राजस्व को पूरा करने में कर्मचारियों के छूट रहे पसीने
नवादा : जिले के माप तौल विभाग अपने ही कर्मियों की गलती के मकड़जाल में उलझ गया है. यहां एक साल में तीन गुणा लक्ष्य निर्धारित कर दिये जाने से इसे पूरे करने में विभाग के अधिकारी को मशक्कत करना पड़ रहा है. वर्ष 2018-19 में इस विभाग के पास राजस्व प्राप्ति का वार्षिक लक्ष्य 27.5 लाख ही हुआ करता था.
आज के युग में कंप्यूटर हर व्यक्ति की है जरूरत : ईओ
लखीसराय : जिले के विश्व कंप्यूटर सेंटर बड़हिया में मंगलवार को विश्व कंप्यूटर साक्षरता मिशन के तहत प्रमाण पत्र वर्ष 2018 का समारोह का आयोजन किया गया, जिसकी अध्यक्षता विश्व कंप्यूटर सेंटर के निदेशक उमाशंकर सिंह ने किया जबकि मंच का संचालन शिक्षक राजू कुमार ने किया.
परीक्षा में देरी होने से छात्रों का कीमती समय हो रहा बर्बाद
मधेपुरा : मंगलवार को बॉयोटेक के छात्रों ने मांगों को लेकर एनएसयूआइ जिलाध्यक्ष निशांत यादव के नेतृत्व में बीएनएमयू प्रति कुलपति प्रो डॉ फारूक अली से मुलाकात कर मांग पत्र सौंपा. मौके पर निशांत यादव ने कहा कि बॉयोटेक टेक्निकल कोर्स है, जिसमें विश्वविद्यालय प्रशासन की चूक छात्रों के लिए नुकसानदेह हो सकता है. इसलिये परीक्षा कैलेंडर को ध्यान में रखकर ससमय परीक्षाओं का आयोजन करवा लिया जाय. निशांत ने कहा कि सत्र 2016-19 की फाइनल परीक्षा व सत्र 2018-21 के प्रथम सेमेस्टर की परीक्षा कैलेंडर के अनुसार नवंबर 2019 में ही हो जानी चाहिये थी,