9 results found for ''2005 Ayodhya Terror Attack''
Success Story : रांची की मुन्नावती आठ साल तक पढ़ाई से दूर रहीं, ईंट-भट्ठा पर मजदूरी कर बनी यूनिवर्सिटी टॉपर
रांची : झारखंड की राजधानी रांची में रहती हैं मुन्नावती. 1998 में मैट्रिक की परीक्षा पास की. वर्ष 2005 तक पढ़ाई-लिखाई से पूरी तरह दूर रहीं. इसी साल ईंट-भट्ठा पर काम करना शुरू किया. मजदूरी भी की. फिर इच्छा जगी की पढ़ाई शुरू करें. मुन्नावती ने बेड़ो के करमचंद भगत कॉलेज में दाखिला लिया. संस्कृत की पढ़ाई शुरू की और अब वर्ष 2019 में यूनिवर्सिटी की टॉपर बनी हैं. एमए में उन्हें गोल्ड मेडल मिला है. इसके साथ ही सरकारी नौकरी भी मिल गयी है. पोस्ट ग्रेजुएट ट्रेंड टीचर नियुक्त हुई हैं मुन्नावती.
दीघा स्टेशन को इको स्मार्ट सर्टिफिकेट
दक्षिण पूर्व रेलवे के दीघा रेलवे स्टेशन को स्टेशन परिसर में स्वच्छता सहित यात्रियों को शुद्ध वातावरण में सुविधाएं प्रदान करने के लिए आइएसओ 14001: 2005 के रूप में प्रमाणित किया गया है.
पत्रकार राजदेव पर 2005 में भी हुआ था हमला : थानाध्यक्ष
मुजफ्फरपुर : पत्रकार राजदेव हत्याकांड में शुक्रवार को सीवान के तत्कालीन थानाध्यक्ष समीरण चौधरी ने विशेष न्यायाधीश सुनील कुमार सिन्हा की कोर्ट में अपनी गवाही दी. चौधरी ने अपनी गवाही में कहा कि 2005 में राजदेव रंजन पर एक समाचार पत्र के कार्यालय में अपराधियों ने हमला किया था.
18 साल में जिले में 1331 लोगों की हुई हत्या, किडनैपिंग के 887 मामले
औरंगाबाद जिले में अपराधों का बढ़ना चिंताजनक है. 2005 में प्रदेश में एनडीए की सरकार बनने के बाद आपराधिक घटनाओं पर लगाम लगी थी. लेकिन, हाल के वर्षों में घटनाओं में काफी वृद्धि हुई है. जिले के थानों से मिले आंकड़ों पर गौर करें, तो 2001 से 2019 के मार्च तक औरंगाबाद जिले में 59,491 संगीन आपराधिक वारदात हुए है. इनमें हत्या, दुष्कर्म, चोरी, अपहरण, लूट, छिनतई, दंगा जैसे आपराधिक वारदात शामिल हैं. औरंगाबाद में 18 साल तीन महीने के अंदर 1331 लोगों की हत्या हुई है. इसके अलावा 299 दुष्कर्म घटनाएं हुई है.
रांची : महिला सिपाही देखती रह गयीं, पुरुष बने हवलदार
मामले को लेकर हाइकोर्ट में रिट याचिका दायर रांची : आरक्षी वरीयता सूची अलग कर देने के कारण जैप-10 की महिला आरक्षी (सिपाही) प्रोन्नति से वंचित हो रही हैं. वर्ष 2004-2005 में नियुक्त लगभग 500 से अधिक महिला आरक्षियों की प्रोन्नति वरीयता सूची अलग होने से प्रभावित हुई है.
पांच करोड़ से अधिक किसानों को मिला पीएम किसान योजना का लाभ, सोशल सर्विस पर बढ़ा खर्च
नयी दिल्ली : संसद में गुरुवार को पेश आर्थिक समीक्षा में कहा गया है कि पिछले पांच वर्षों के दौरान सामाजिक सुरक्षा योजनाओं से जनसंख्या के बड़े हिस्से को लाभ मिला है. पीएम किसान योजना के तहत 5 करोड़ से अधिक किसानों को लाभ मिला है. सामाजिक सेवाओं पर परिव्यय में जीडीपी का एक फीसदी से अधिक की वृद्धि हुई. समीक्षा में कहा गया है कि बैंकिंग सुविधा प्राप्त महिलाओं की संख्या 2005-06 में 15.5 फीसदी थी, जो 2015-16 में बढ़कर 53 फीसदी हो गयी.
महानगरों की बाढ़
साढ़े चार दशकों में सर्वाधिक बारिश से देश की वित्तीय राजधानी मुंबई में आयी बाढ़ ने 2005 की विभीषिका की याद ताजा कर दी है, जिसमें करीब 11 सौ लोग मारे गये थे. राज्य सरकार और महानगरपालिका का दावा है कि बाढ़ से निपटने की तैयारी पुख्ता थी, किंतु जलवायु परिवर्तन की वजह से हुई बहुत ज्यादा बारिश से इंतजाम नाकाफी साबित हुए हैं.
भारत को मिला नाटो जैसा दर्जा
साढ़े चार दशकों में सर्वाधिक बारिश से देश की वित्तीय राजधानी मुंबई में आयी बाढ़ ने 2005 की विभीषिका की याद ताजा कर दी है, जिसमें करीब 11 सौ लोग मारे गये थे. राज्य सरकार और महानगरपालिका का दावा है कि बाढ़ से निपटने की तैयारी पुख्ता थी, किंतु जलवायु परिवर्तन की वजह से हुई बहुत ज्यादा बारिश से इंतजाम नाकाफी साबित हुए हैं.
पटना : इस साल के अंत तक हर खेत को मिलेगी बिजली, सुशील मोदी ने कहा- 2005 की तुलना में बजट का आकार नौ गुना बढ़ा
पटना : उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने मंगलवार को विधानसभा में कहा कि सरकार इस साल दिसंबर के अंत तक हर खेत तक बिजली पहुंचा देगी.