21 results found for ''सर्वेक्षण''
स्टील सिटी में ‘क्वालिटी ऑफ लाइफ’ सबसे बेहतर
स्टील सिटी (जमशेदपुर) में क्वालिटी ऑफ लाइफ नवी मुंबई, चंडीगढ़, नोएडा व वडोदरा से बेहतर है. यह खुलासा शहर में नागरिक सुविधाएं देने वाली टाटा स्टील की सहयोगी कंपनी जुस्को के लिए निलसन के सर्वे में हुआ है. सर्वे एजेंसी नीलसन के जरिये शहर में क्वालिटी ऑफ लाइफ व उपभोक्ता संतुष्टि पर सर्वेक्षण कराया गया. जुस्को ने दोनों रिपोर्ट अपनी वेबसाइट पर साझा कर दी है.
मतदान के दौरान एग्जिट पोल और दो दिन पहले की अवधि में चुनावी सर्वेक्षण पर रोक
चुनाव आयोग ने हरियाणा और महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के साथ विभिन्न राज्यों की विधानसभा एवं लोकसभा की कुछ सीटों के लिए 21 अक्तूबर को होने मतदान के दिन एग्जिट पोल और इससे 48 घंटे पहले की अवधि में किसी भी प्रकार के चुनावी सर्वेक्षणों के प्रसारण पर रोक लगायी है.
अयोध्या मामला : सुप्रीम कोर्ट में बहस जारी, मुस्लिम पक्षकार बोले- श्रद्धा और स्कन्द पुराण से नहीं मिलेगी जमीन
नयी दिल्ली : सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या मामले को लेकर 38वें दिन की सुनवाई शुरू हो चुकी है. चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता में पांच सदस्यीय पीठ मामले की सुनवाई कर रही है. आज डॉ राजीव धवन ने मुस्लिम पक्षकार के तौर पर अपनी बात रखी. उन्होंने कहा, शुक्रवार को चार दिन की बात तय हुई तो मैं हिंदू पक्ष की दलील का जवाब नहीं दे सका था. अब मैं पूरी रफ्तार से अपनी दलीलें रखूंगा, फैक्ट्स बता दिए गए हैं और अब सिर्फ कानून की बात रखूंगा. पुरातात्विक सर्वेक्षण में मस्जिद के नीचे मंदिर होने के अबतक कोई सबूत नहीं मिले हैं जिसे तोड़कर मस्जिद बनी हो.
डीपीइ का सर्वेक्षण: कोल इंडिया कमजोर, इसीएल और बीसीसीएल पैदाइसी बीमार
आसनसोल : कोल सेक्टर में 100 फीसदी प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) की घोषणा के बाद कोल इंडिया के भविष्य पर खतरे के बादल गहराते जा रहे हैं. एफडीआई के विरोध में पांच दिवसीय हड़ताल के तीसरे दिन बीएमएस ने इस दावे के साथ अपनी हड़ताल वापस ले ली थी कि कोयला मंत्री ने ट्विट कर आश्वस्त किया है कि कोल इंडिया और सिगरैनी में एफडीआई नहीं होगा. लेकिन संबंधित दस्तावेज इससे अलग कहानी कह रहे हैं.
डीपीइ का सर्वेक्षण : कोल इंडिया कमजोर बीसीसीएल और इसीएल पैदाइशी बीमार
धनबाद : कोल सेक्टर में 100 प्रतिशत एफडीआइ की घोषणा के बाद कोल इंडिया के भविष्य पर खतरे के बादल गहराते जा रहे हैं. एफडीआइ के विरोध में पांच दिवसीय हड़ताल बीएमएस ने तीसरे दिन इस दावे के साथ वापस ले ली थी कि कोयला मंत्री ने ट्विट कर आश्वस्त किया है कि कोल इंडिया और सिंगरेनी में एफडीआइ नहीं होगा.
स्वच्छता में पूर्व मध्य रेल को मिला तीसरा स्थान
हाजीपुर : भारतीय रेल के स्वच्छता सर्वेक्षण रिपोर्ट-2019 में पूर्व मध्य रेल ने लंबी छलांग लगायी है. क्वालिटी काउंसिल ऑफ इंडिया के इस सर्वेक्षण में पूर्व मध्य रेल ने पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष भारतीय रेल के सभी क्षेत्रीय रेलों में इस वर्ष तीसरे स्थान पर रहा. पूर्व मध्य रेल की इस शानदार उपलब्धि पर गुरुवार को हाजीपुर मुख्यालय में सेमिनार का आयोजन किया गया.
Health Survey: भारत में अंधेपन में आयी 47% की कमी
भारत में अंधेपन के प्रसार में 2007 से अब तक 47 प्रतिशत की कमी आयी है. बृहस्पतिवार को जारी सरकारी सर्वेक्षण में यह बात कही गई है. विश्व स्वास्थ्य संगठन ने अंधेपन को 2020 तक कुल जनसंख्या का 0.3 प्रतिशत तक कम करने का लक्ष्य रखा है.
मुख्यमंत्री ने बाढ़ग्रस्त जिलों का किया हवाई सर्वे, अधिकारियों को दिया निर्देश
पटना : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रविवार की दोपहर बेगूसराय, खगड़िया, भागलपुर, कटिहार, पूर्णिया और उसके आसपास के बाढ़पीड़त क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण किया. मुख्यमंत्री ने मौजूदा स्थिति का जायजा लिया तथा संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये. हवाई सर्वेक्षण के बाद सीएम ने पूर्णिया के चूनापुर हवाई अड्डे पर रुक कर कटिहार और पूर्णिया के डीएम के अलावा जन प्रतिनिधियों के साथ समीक्षा बैठक की.
48 निकायों में धीमा पड़ा कचरा प्रबंधन का काम
पटना : बारिश का असर अगले वर्ष स्वच्छता सर्वेक्षण के परिणाम पर भी पड़ सकता है क्योंकि सर्वेक्षण के लिए समय- सीमा के भीतर किये जाने वाले ठोस कचरा प्रबंधन के तहत कचरा से खाद बनाने का काम धीमा हो गया है. दरअसल बारिश के कारण राज्य के 48 निकायों में शुरू होने वाला प्रबंधन अब तक शुरू नहीं हो पाया है.
पटना के कई इलाकों में अब भी जलजमाव, बढ़ा डायरिया का खतरा, मुख्यमंत्री ने किया हवाई सर्वेक्षण, खाली घरों पर चोरों की नजर
पटना : राजधानी पटना में जलजमाव अब भी कई मोहल्लों में लोगों की परेशानी का सबब बना हुआ है. राजधानी के राजेंद्र नगर, पाटलिपुत्र, राजीव नगर समेत बाइपास के दक्षिण सहित कई मोहल्लों में अब भी लोग अपने घरों में कैद हैं. संप हाउस के ठीक से काम नहीं करने से जलजमाव वाले मोहल्लों में पानी निकालना मुश्किल हो रहा है. हालांकि, कुछ मोहल्लों में पानी घटा है. काफी दिन तक पानी जमा होने से बदबू के कारण लोगों का रहना मुश्किल हो रहा है.
स्वच्छता सर्वेक्षण रैंकिग में सहरसा जंक्शन को मिला 218वां स्थान
सहरसा : मिनिस्ट्री आफ रेलवे द्वारा जारी रिपोर्ट में वर्ष 2019 के स्वच्छता सर्वेक्षण रैकिंग में सहरसा जंक्शन को 218वां स्थान मिला है. देश भर के 611 स्टेशनों में सहरसा जंक्शन को यह अंक प्राप्त हुआ है. जबकि सर्वेक्षण रैकिंग में देश भर में जयपुर पहले व दूसरे नंबर पर जोधपुर है. वहीं समस्तीपुर जंक्शन को 188 रैकिंग मिली. इनमें मोतिहारी स्टेशन ने स्वच्छता सर्वेक्षण रैकिंग में बाजी मारी और 23वां रैकिंग प्राप्त किया. जबकि सहरसा समस्तीपुर डिवीजन के दस स्टेशनों के सर्वेक्षण रैकिंग में चौथा स्थान रहा.
स्वच्छता और स्वास्थ्य
ग्रामीण भारत को खुले में शौच की विवशता से मुक्ति मिल गयी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की यह घोषणा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को उनकी 150वीं जयंती के पावन अवसर पर एक उत्कृष्ट श्रद्धांजलि है. विगत पांच वर्षों से अभूतपूर्व गति से देशभर में शौचालयों का निर्माण हो रहा है. विश्व बैंक के सर्वेक्षण के अनुसार, 90.4 प्रतिशत गांवों तथा 93.1 प्रतिशत ग्रामीण परिवारों को शौचालय की सुविधा प्राप्त हो चुकी है.
स्वच्छता सर्वेक्षण रैंकिंग में जिले को 188 वां रैंक
स्टेशनों पर साफ-सफाई के मामले में विगत साल से समस्तीपुर जंक्शन तीन पायदान नीचे खिसक गया है. भारतीय रेल की ओर से क्वालिटी कंट्रोल ऑफ इंडिया की सर्वे रिपोर्ट 2019 जारी कर दी गयी है. जिसमें समस्तीपुर जंक्शन को 188 वां रैंक मिला है. गत साल इसकी रैकिंग 185 थी. समस्तीपुर के निकटवर्ती स्टेशन मुजफ्फरपुर को इस रैकिंग में 300 वां स्थान दिया गया है. दरभंगा जंक्शन 222 वें स्थान पर है.
स्वच्छता सर्वेक्षण रैंकिंग में गया जंक्शन को 270वां स्थान, जयपुर स्टेशन टॉप पर
गया : मिनिस्ट्री ऑफ रेलवे ने बुधवार की शाम 2019 की स्वच्छता सर्वेक्षण रिपोर्ट जारी कर दी. इसमें देशभर के 611 स्टेशनों में गया जंक्शन 270वें स्थान पर है. वहीं, पूरे देश में जयपुर पहले व जोधपुर दूसरे स्थान पर है. जोन की रिपोर्ट में पहले स्थान पर नॉर्थ वेस्टर्न रेलवे व दूसरे साउथ इस्ट रेलवे को जगह दी गयी है. इस्ट सेंट्रल रेलवे तीसरे स्थान पर है.यह 12 रैंक ऊपर आया है, पिछले वर्ष 15वें स्थान पर था.
कमजोर मांग के चलते सितंबर में मैन्यूफैक्चरिंग सेक्टर की गतिविधियां अगस्त के स्तर पर बरकरार
नयी दिल्ली : घरेलू और वैश्विक स्तर पर मांग में सुस्ती के बीच देश के विनिर्माण क्षेत्र की गतिविधियां सितंबर में पूर्वस्तर पर बनी रहीं. एक मासिक सर्वेक्षण में मंगलवार को यह जानकारी दी गयी. आईएचएस मार्किट का इंडिया मैन्यूफैक्चरिंग पर्चेजिंग मैनेजर्स सूचकांक (पीएमआई) सितंबर महीने में अगस्त के 51.4 पर ही बना रहा.
जमशेदपुर में 85 विक्षिप्त गर्भवती, बनने वाली हैं मां
छह माह तक एक संस्था द्वारा किये गये सर्वेक्षण में सामने आया तथ्य जमशेदपुर : शहर में 85 विक्षिप्त महिलाएं ऐसी पायी गयी है जो गर्भवती हैं अौर मां बनने वाली है. नशा करने वाले बच्चों तथा बाल मजदूरी पर सर्वे करने वाली संस्था बाल मजदूर मुक्ति सेवा संस्थान ने छह माह के सर्वे के बाद यह दावा किया है.
जन-जागरूकता से मिलेगी भूमि सर्वेक्षण की जानकारी
पटना : राज्य में जमीन सर्वेक्षण की जानकारी व आम लोगों का सर्वे में सहयोग करने के लिए अब एक जन जागरण सीरीज चलाया जायेगा. राजस्व व भूमि सुधार विभाग लोगों की सुविधा के लिए अखबारों के माध्यम से जानकारियां प्रसारित करेगा.
कांटाटोली फ्लाइओवर का काम बंद
सुनील चौधरी, रांची : डीपीआर व लागत राशि के फेर में कांटाटोली फ्लाई ओवर का काम 15 दिनों से बंद है. डीपीआर में उल्लेखित मूल राशि में संशोधन कर 100 प्रतिशत राशि बढ़ा दी गयी थी. मूल डीपीआर के डिजाइन में भी कई परिवर्तन कर दिये गये थे. नगर विकास विभाग के आदेश में लिखा गया है कि मूल डीपीआर बिना पर्याप्त तकनीकी सर्वेक्षण के आधार पर तैयार किया गया था.
India में उपभोक्ताओं को सबसे अधिक लुभाने वाला ब्रांड बनी दक्षिण कोरियाई कंपनी Samsung
नयी दिल्ली : उपभोक्ताओं के बीच किसी ब्रांड को खरीदने में कितनी सहजता है और वह ब्रांड अपने उपभोक्ताओं के साथ किस हद तक जुड़ा है, इसे लेकर तैयार की गयी एक सूची में दक्षिण कोरिया की मोबाइल कंपनी सैमसंग देश का सबसे उपभोक्ता केंद्रित ब्रांड बनकर सामने आयी है. ब्रांड सर्वेक्षण करने वाली कंपनी टीआरए रिसर्च ने अपनी ‘मोस्ट कंज्यूमर-फोकस्ड ब्रांड्स रिपोर्ट-2019'' का तीसरा संस्करण पेश किया है.
अयोध्या मामला : सुप्रीम कोर्ट ने कहा- ASI की रिपोर्ट कोई आम राय नहीं
उच्चतम न्यायालय ने शुक्रवार को कहा कि राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद में भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) की 2003 की रिपोर्ट कोई ‘साधारण राय'' नहीं है, क्योंकि पुरातत्ववेत्ता खुदाई में मिली सामग्री के बारे में इलाहाबाद उच्च न्यायालय की ओर से राय देने के लिए काम कर रहे थे.