56 results found for ''सपा''
आजमगढ़ में बोले पीएम मोदी - 'महामिलावट' वाली सरकार चाहने वालों से रहें सावधान
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बृहस्पतिवार को सपा-बसपा और कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि केन्द्र में ‘महामिलावट'' वाली सरकार चाहने वालों से सावधान रहने की जरूरत है. मोदी ने यहां एक चुनावी जनसभा में कहा, ''जो लोग केन्द्र में महामिलावट वाली सरकार चाहते हैं, उनसे सावधान रहना जरूरी है.''
बोले अमित शाह- सपा-बसपा के राज में भू-माफ़ियां गरीबों की जमीन हड़प लेते थे, लेकिन योगी राज में
बलरामपुर : उत्तर प्रदेश के बलरामपुर में भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह ने रैली को संबोधित करते हुइए कहा कि आज पूरे देश में लग रहा मोदी-मोदी का नारा सिर्फ चुनावी नारा नहीं है. ये नारा 125 करोड़ भारतीयों का मोदी जी के लिए आशीर्वाद है. ये नारा बताता है कि जब 23 मई को मतगणना होगी तो मोदी जी पुनः देश के प्रधानमंत्री बनने वाले हैं.
गठबंधन की रैली में बोलीं मायावती - भाजपा ने पिछड़ों के वोट बांटने के लिए सपा प्रमुख के घर में भी डाली डकैती
बसपा प्रमुख मायावती ने बुधवार को भाजपा पर पिछड़े वर्ग के वोट बांटने के लिए विभिन्न बिरादरियों के छोटे-छोटे संगठन बनवाने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि इसके लिए भगवा दल ने सपा प्रमुख अखिलेश यादव के घर में भी डकैती डाल दी है.
आजमगढ़ : जातीय समीकरण अखिलेश के पक्ष में, निरहुआ को लोकप्रियता और मोदी का सहारा
आजमगढ़ : सपा-बसपा का गढ़ मानी जाने वाली आजमगढ़ लोकसभा सीट से उम्मीदवार अखिलेश यादव की स्थिति को जातीय समीकरण के मद्देनजर बेहद मजबूती मिल रही है, हालांकि भाजपा प्रत्याशी दिनेश लाल यादव ‘निरहुआ'' सपा मुखिया को राष्ट्रवाद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बतौर अभिनेता अपनी लोकप्रियता के चलते कड़ी चुनौती दे रहे हैं.
दिल्ली में सपा दो सीटों पर आप का और बाकी पर बसपा उम्मीदवारों का करेगी समर्थन
नयी दिल्ली : समाजवादी पार्टी (सपा) ने सोमवार को कहा कि वह दिल्ली में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) का और दो सीटों पर आम आदमी पार्टी (आप) का भी समर्थन करेगी.
खुद की सीट पर वोट नहीं दे पायेंगे पीएम मोदी व अखिलेश
वाराणसी : पूर्वांचल के चुनावी मैदान में उतरे तमाम प्रत्याशी वोट मांगने को तपती दोपहरी में गांव-मोहल्लों में पसीना बहा रहे हैं, लेकिन खुद अपना ही वोट अपने को नहीं दे सकेंगे. इनमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव, केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय और भोजपुरी स्टार दिनेश लाल यादव निरहुआ शामिल हैं.
खुद की सीट पर वोट नहीं दे पायेंगे पीएम मोदी व अखिलेश
वाराणसी : पूर्वांचल के चुनावी मैदान में उतरे तमाम प्रत्याशी वोट मांगने को तपती दोपहरी में गांव-मोहल्लों में पसीना बहा रहे हैं, लेकिन खुद अपना ही वोट अपने को नहीं दे सकेंगे. इनमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव, केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय और भोजपुरी स्टार दिनेश लाल यादव निरहुआ शामिल हैं.
लोकसभा चुनाव 2019 : आजमगढ़ में विरोधियों पर हमले का चुनावी हथियार बना 'बिरहा'
आजमगढ़ : पूर्वांचल की हाईप्रोफाइल लोकसभा सीट आजमगढ़ में चुनाव की तारीख नजदीक आने के साथ प्रचार अभियान संगीतमय हो गया है जिसमें भाजपा एवं सपा एक दूसरे पर ''चुनावी बिरहा'' के जरिये हमले कर रहे हैं. भाजपा उम्मीदवार एवं भोजपुरी फिल्मों के सुपरस्टार दिनेश लाल यादव ‘निरहुआ'' अपनी सभाओं में ''''नून (नमक)- रोटी खाएंगे, मोदी को जिताएंगे'''' का गीत गाकर चुनावी फ़िज़ा को अपने पक्ष में करने की कोशिश में हैं तो सपा की तरफ से उनके चचेरे भाई एवं ''''बिरहा सम्राट'''' के नाम से मशहूर विजय लाल यादव ''''दूध-रोटी खाएंगे, अखिलेश को जिताएंगे'''' गाकर ‘निरहुआ'' पर जवाबी हमले कर रहे हैं.
लोकसभा चुनाव 2019 : आजमगढ़ में विरोधियों पर हमले का चुनावी हथियार बना 'बिरहा'
आजमगढ़ : पूर्वांचल की हाईप्रोफाइल लोकसभा सीट आजमगढ़ में चुनाव की तारीख नजदीक आने के साथ प्रचार अभियान संगीतमय हो गया है जिसमें भाजपा एवं सपा एक दूसरे पर ''चुनावी बिरहा'' के जरिये हमले कर रहे हैं. भाजपा उम्मीदवार एवं भोजपुरी फिल्मों के सुपरस्टार दिनेश लाल यादव ‘निरहुआ'' अपनी सभाओं में ''''नून (नमक)- रोटी खाएंगे, मोदी को जिताएंगे'''' का गीत गाकर चुनावी फ़िज़ा को अपने पक्ष में करने की कोशिश में हैं तो सपा की तरफ से उनके चचेरे भाई एवं ''''बिरहा सम्राट'''' के नाम से मशहूर विजय लाल यादव ''''दूध-रोटी खाएंगे, अखिलेश को जिताएंगे'''' गाकर ‘निरहुआ'' पर जवाबी हमले कर रहे हैं.
रायबरेली में सोनिया गांधी की पांचवीं बार जीत को लेकर कांग्रेस है आश्वस्त, बसपा-सपा ने नहीं दिया उम्मीदवार
देश की अति महत्वपूर्ण सीटों में शुमार रायबरेली में कांग्रेस नेहरू-गांधी परिवार से वहां के लोगों के सौ साल पुराने रिश्ते की एक बार फिर दुहाई दे रही है. यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी इस सीट पर पांचवीं बार जीत की इबारत लिखने मैदान में हैं. यहां सोमवार को वोट डाले जायेंगे. सोनिया गांधी ने 11 अप्रैल को नामांकन-पत्र दाखिल करने के बाद पहली बार दो मई को रायबरेली में कदम रखा. इस बार वोटरों से वह सीधा संवाद भी नहीं कर पायी हैं. वह अस्वस्थ हैं. उनकी गैर मौजूदगी में चुनाव प्रचार की कमान बेटी प्रियंका गांधी ने संभाल रखी है. बहरहाल, प्रचार में उतनी सक्रिय न होने के बावजूद लोग सोनिया की जीत तय मान रहे हैं.
रायबरेली में सोनिया गांधी की पांचवीं बार जीत को लेकर कांग्रेस है आश्वस्त, बसपा-सपा ने नहीं दिया उम्मीदवार
देश की अति महत्वपूर्ण सीटों में शुमार रायबरेली में कांग्रेस नेहरू-गांधी परिवार से वहां के लोगों के सौ साल पुराने रिश्ते की एक बार फिर दुहाई दे रही है. यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी इस सीट पर पांचवीं बार जीत की इबारत लिखने मैदान में हैं. यहां सोमवार को वोट डाले जायेंगे. सोनिया गांधी ने 11 अप्रैल को नामांकन-पत्र दाखिल करने के बाद पहली बार दो मई को रायबरेली में कदम रखा. इस बार वोटरों से वह सीधा संवाद भी नहीं कर पायी हैं. वह अस्वस्थ हैं. उनकी गैर मौजूदगी में चुनाव प्रचार की कमान बेटी प्रियंका गांधी ने संभाल रखी है. बहरहाल, प्रचार में उतनी सक्रिय न होने के बावजूद लोग सोनिया की जीत तय मान रहे हैं.
आजमगढ़ : ईमानदार पीएम के खिलाफ लड़ रहे अखिलेश : निरहुआ
आजमगढ़ : समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के खिलाफ आजमगढ़ से भाजपा प्रत्याशी भोजपुरी फिल्म स्टार दिनेश लाल यादव ‘निरहुआ'' का कहना है कि अगर मुलायम सिंह यादव या अखिलेश यादव प्रधानमंत्री पद की दौड़ में होते तो वह उनका समर्थन करते, लेकिन सपा प्रमुख तो सिर्फ ''ईमानदार'' नरेंद्र मोदी को हटाने के लिए चुनाव लड़ रहे हैं.
आजमगढ़ : ईमानदार पीएम के खिलाफ लड़ रहे अखिलेश : निरहुआ
आजमगढ़ : समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के खिलाफ आजमगढ़ से भाजपा प्रत्याशी भोजपुरी फिल्म स्टार दिनेश लाल यादव ‘निरहुआ'' का कहना है कि अगर मुलायम सिंह यादव या अखिलेश यादव प्रधानमंत्री पद की दौड़ में होते तो वह उनका समर्थन करते, लेकिन सपा प्रमुख तो सिर्फ ''ईमानदार'' नरेंद्र मोदी को हटाने के लिए चुनाव लड़ रहे हैं.
अखिलेश ने कहा - महागठबंधन करेगा प्रधानमंत्री का फैसला, ‘मोदी 180 डिग्री के प्रधानमंत्री'
नरेंद्र मोदी को ‘180 डिग्री का प्रधानमंत्री'' करार देते हुए समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने रविवार को कहा कि देश को नया प्रधानमंत्री मिलने जा रहा है जो महागठबंधन से हो सकता है. उन्होंने कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा की इस कथित टिप्पणी को गलत बयान कहकर खारिज किया कि उनकी पार्टी ने सपा-बसपा गठबंधन को लाभ पहुंचाने और भाजपा के वोट काटने के लिए उम्मीदवार खड़े किये हैं.
अखिलेश प्रधानमंत्री पद की दौड़ में होते, तो उनका समर्थन करता : दिनेश लाल यादव ‘निरहुआ’
आजमगढ़ : अखिलेश यादव के खिलाफ आजमगढ़ संसदीय सीट से भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे भोजपुरी फिल्मों के सुपरस्टार दिनेश लाल यादव ‘निरहुआ’ का कहना है कि अगर मुलायम सिंह यादव या अखिलेश यादव प्रधानमंत्री पद की दौड़ में होते, तो वह उनका समर्थन करते, लेकिन सपा प्रमुख तो सिर्फ ‘ईमानदार’ नरेंद्र मोदी को हटाने के लिए चुनाव लड़ रहे हैं. उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि अखिलेश और सपा ने यादवों की पहचान ‘देशविरोधी’ के रूप में बना रखी है. यह बात उनके ‘अंधभक्तों’ को समझ नहीं आ रही है.
अखिलेश प्रधानमंत्री पद की दौड़ में होते, तो उनका समर्थन करता : दिनेश लाल यादव ‘निरहुआ’
आजमगढ़ : अखिलेश यादव के खिलाफ आजमगढ़ संसदीय सीट से भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे भोजपुरी फिल्मों के सुपरस्टार दिनेश लाल यादव ‘निरहुआ’ का कहना है कि अगर मुलायम सिंह यादव या अखिलेश यादव प्रधानमंत्री पद की दौड़ में होते, तो वह उनका समर्थन करते, लेकिन सपा प्रमुख तो सिर्फ ‘ईमानदार’ नरेंद्र मोदी को हटाने के लिए चुनाव लड़ रहे हैं. उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि अखिलेश और सपा ने यादवों की पहचान ‘देशविरोधी’ के रूप में बना रखी है. यह बात उनके ‘अंधभक्तों’ को समझ नहीं आ रही है.
पंडित नेहरू की संसदीय सीट रहे फूलपुर में कांग्रेस के लिए पांव जमाना आसान नहीं
देश के राजनीतिक नक्शे में खास जगह रखने वाले यूपी की फूलपुर संसदीय सीट पर इस बार भी मुख्य मुकाबला भाजपा और सपा-बसपा गठबंधन के बीच है.
बोलीं मायावती- पीएम मोदी सपा-बसपा में फूट डालने की कर रहे हैं कोशिश
लखनऊ : बसपा सुप्रीमो मायावती ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर हमला किया. उन्होंने कहा है कि पीएम मोदी अपनी और भाजपा की इज्जत बचाने के लिए सपा-बसपा में फूट डालने की कोशिश कर रहे हैं. भाजपा चुनाव हार रही है.
गाजीपुर : भाजपा और सपा-बसपा के बीच है कांटे की टक्कर, 2004 के बाद अफजाल अंसारी व मनोज सिन्हा फिर आमने-सामने
करीब डेढ़ दशक के बाद चुनावी रणक्षेत्र में अफजाल अंसारी और केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा आमने-सामने हैं. गाजीपुर लोकसभा क्षेत्र में सपा-बसपा और भाजपा के बीच मुकाबला कड़ा है. कांग्रेस ने भी इस सीट से अजीत काे टिकट दिया है. मतदाता बंटे हुए हैं. मुकाबला कड़ा है. पिछले लोकसभा चुनाव 2014 में विजयी भाजपा प्रत्याशी मनोज सिन्हा को 3,06,929 मत मिले थे. वह सिर्फ 32,452 मत से जीते थे.
गाजीपुर : भाजपा और सपा-बसपा के बीच है कांटे की टक्कर, 2004 के बाद अफजाल अंसारी व मनोज सिन्हा फिर आमने-सामने
करीब डेढ़ दशक के बाद चुनावी रणक्षेत्र में अफजाल अंसारी और केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा आमने-सामने हैं. गाजीपुर लोकसभा क्षेत्र में सपा-बसपा और भाजपा के बीच मुकाबला कड़ा है. कांग्रेस ने भी इस सीट से अजीत काे टिकट दिया है. मतदाता बंटे हुए हैं. मुकाबला कड़ा है. पिछले लोकसभा चुनाव 2014 में विजयी भाजपा प्रत्याशी मनोज सिन्हा को 3,06,929 मत मिले थे. वह सिर्फ 32,452 मत से जीते थे.