56 results found for ''सपा''
Election Results 2019 : प्रज्ञा ठाकुर, आजम खान सहित कई विवादास्पद नाम भी जीतने में सफल
लोकसभा चुनाव के दौरान अपने बयानों को लेकर विवादों में रही भाजपा उम्मीदवार प्रज्ञा सिंह ठाकुर से लेकर सपा के आजम खान तक ने अपनी-अपनी सीट पर जीत दर्ज की है. लगभग दो महीनों से अधिक समय तक चले चुनाव प्रचार के दौरान विवादित टिप्पणी करने वाले उम्मीदवारों में भाजपा के गिरिराज सिंह, नलिन कुमार कतील, अनंतकुमार हेगड़े, तेजस्वी सूर्या, सनी देओल और कांग्रेस के दिग्विजय सिंह भी शामिल हैं.
Election Results 2019 : प्रज्ञा ठाकुर, आजम खान सहित कई विवादास्पद नाम भी जीतने में सफल
लोकसभा चुनाव के दौरान अपने बयानों को लेकर विवादों में रही भाजपा उम्मीदवार प्रज्ञा सिंह ठाकुर से लेकर सपा के आजम खान तक ने अपनी-अपनी सीट पर जीत दर्ज की है. लगभग दो महीनों से अधिक समय तक चले चुनाव प्रचार के दौरान विवादित टिप्पणी करने वाले उम्मीदवारों में भाजपा के गिरिराज सिंह, नलिन कुमार कतील, अनंतकुमार हेगड़े, तेजस्वी सूर्या, सनी देओल और कांग्रेस के दिग्विजय सिंह भी शामिल हैं.
यूपीः मोदी लहर के सामने महागठबंधन का प्रयोग फेल, बसपा को फायदा, सपा को घाटा
उत्तर प्रदेश से भाजपा को उखाड़ फेंकने के संकल्प के साथ बनी सपा-बसपा-रालोद महागठबंधन को लोकसभा चुनाव में उम्मीद से कहीं कम सफलता हाथ लगी.
मोदी की जीत: यूपी में अजेय दिख रहा सपा-बसपा-रालोद महागठबंधन क्यों हारा?
चुनाव पूर्व सपा बसपा के गठबंधन को लेकर जितनी उम्मीदें थीं, बीजेपी की रणनीति के सामने सब धाराशाई हो गईं.
उत्तर प्रदेश : अमेठी में हारे राहुल, मोदी लहर में भी हारे भाजपा के मनोज सिन्हा
लखनऊ: मोदी लहर'' पर सवार उत्तर प्रदेश ने लोकसभा चुनाव में भाजपा को एक बार फिर जोरदार समर्थन दिया है. भाजपा ने प्रदेश की 80 में से 62 सीटें जीती हैं. इसके अलावा बसपा ने 10, सपा ने पांच, अपना दल-सोनेलाल ने दो और कांग्रेस ने एक सीट जीती है. चुनाव आयोग द्वारा घोषित परिणाम के मुताबिक वाराणसी से प्रत्याशी प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने अपनी निकटतम प्रतिद्वंद्वी सपा-बसपा-रालोद गठबंधन प्रत्याशी सपा की शालिनी यादव को चार लाख 79 हजार 505 मतों से परास्त किया .
PM मोदी- CM योगी के गढ़ पूर्वांचल में ही सबसे मजबूत रहा सपा-बसपा गठबंधन
कहा जाता है कि देश की सत्ता का रास्ता उत्तर प्रदेश से होकर जाता है और यूपी को जीतने के लिए पूर्वांचल को जीतना जरूरी है.
काशी ने दोहराया फैसला, मोदी को ही फिर से चुना
वाराणसी : वाराणसी ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भारी मतों से जिताया है. इस बार उन्हें 479505 वोटों की बढ़त मिली है. उन्होंने सपा की शालिनी यादव को 479505 वोटों के अंतर से हराया. मोदी की जीत का यह अंतर 2014 के चुनाव के मुकाबले 1,07,721 वोट अधिक है. 2014 के चुनाव में नरेंद्र मोदी ने आम आदमी पार्टी के अरविंद केजरीवाल को 371784 वोटों के अंतर से हराया था.
काशी ने दोहराया फैसला, मोदी को ही फिर से चुना
वाराणसी : वाराणसी ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भारी मतों से जिताया है. इस बार उन्हें 479505 वोटों की बढ़त मिली है. उन्होंने सपा की शालिनी यादव को 479505 वोटों के अंतर से हराया. मोदी की जीत का यह अंतर 2014 के चुनाव के मुकाबले 1,07,721 वोट अधिक है. 2014 के चुनाव में नरेंद्र मोदी ने आम आदमी पार्टी के अरविंद केजरीवाल को 371784 वोटों के अंतर से हराया था.
अटल बिहारी वाजपेयी की विरासत रही कायम
लखनऊ : लखनऊ लोकसभा सीट पर भाजपा ने लगातार आठवीं बार जीत का सिलसिला जारी रखा़ केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह इस सीट से दूसरी बार सांसद चुन लिये गये. उन्होंने अटल बिहारी वाजपेयी और लालजी टंडन की विरासत को कायम रखा. राजनाथ सिंह ने सपा की उम्मीदवार और अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा की पत्नी पूनम सिन्हा को 347302 वोटों के भारी अंतर से शिकस्त दी. सिंह को 633026 तथा पूनम सिन्हा को 285724 वोट मिले.
रवि किशन ने भाजपा को दिलायी आठवीं जीत
गोरखपुर : गोरखपुर लोकसभा सीट पर भाजपा ने आठवीं बार जीत दर्ज की़ भाजपा के उम्मीदवार और भोजपुरी स्टार रवि किशन शुक्ल ने वोटों के बड़े अंतर से जीत कर 2018 के उपचुनाव में भाजपा की हार का बदला ले लिया. रवि किशन ने सपा के राम भुआल निषाद से 301664 वोटों के भारी अंतर से हराया. रवि किशन को 717122 व भुआल को 415458 वोट मिले.
UP में भाजपा की बढ़त बरकरार, रिकॉर्ड मतों से जीते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश की वाराणसी लोकसभा सीट से रिकॉर्ड मतों से जीत हासिल की. लोकसभा चुनाव में प्रदेश में अभी तक घोषित आठ चुनाव परिणामों में से छह भाजपा के पक्ष में गये हैं. चुनाव आयोग द्वारा घोषित परिणाम के मुताबिक मोदी ने अपनी निकटतम प्रतिद्वंद्वी सपा-बसपा-रालोद गठबंधन प्रत्याशी सपा की शालिनी यादव को चार लाख 79 हजार 505 मतों से परास्त किया.
UP : भाजपा दो सीटें जीतीं, 58 पर बढ़त, बसपा एक जीत के साथ 10 पर आगे, सपा की 5 सीटों पर बढ़त
लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में भी भाजपा का धमाकेदार प्रदर्शन जारी है और अब तक घोषित चार चुनाव परिणामों में से दो उसके पक्ष में जा चुके हैं. गोरखपुर सीट से भाजपा उम्मीदवार भोजपुरी अभिनेता रवि किशन ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी सपा-बसपा गठबंधन के राम भुआल निषाद को तीन लाख एक हजार 664 मतों से हराया. किशन को 717122 मत मिले जबकि निषाद को 415458 वोट हासिल हुए.
पांच साल बाद यूपी में बसपा का खुला खाता, लोकसभा में दस्तक देने की जागी उम्मीद
नयी दिल्ली : पिछले लोकसभा चुनाव में शून्य पर पहुंची बसपा के लिए पांच साल बाद संसद के निचले सदन में फिर से दस्तक देने की उम्मीद जागी है. गुरुवार को लोकसभा चुनाव की मतगणना के शुरुआती रुझान में बसपा ने उत्तर प्रदेश की दर्जन भर सीटों पर बढ़त बना ली थी. हालांकि, चुनाव परिणाम के रुझान उत्तर प्रदेश में भाजपा को मजबूत चुनौती देने के उद्देश्य से बने सपा बसपा गठबंधन के लिए निराशाजनक रहे, लेकिन कम से कम बसपा के लिए इससे लोकसभा में अपनी मौजूदगी सुनिश्चित करने की उम्मीद पैदा हुई है.
#ElectionResults2019 : मथुरा में हेमामालिनी गठबंधन प्रत्याशी से 5000 मतों से आगे
मथुरा : मथुरा लोकसभा सीट से दूसरी बार चुनाव मैदान में उतरीं मौजूदा सांसद हेमामालिनी पहले दो दौर की मतगणना के बाद सपा-बसपा समर्थित राष्ट्रीय लोकदल के प्रत्याशी कुंवर नरेंद्र सिंह से करीब पांच हजार मतों से आगे चल रही हैं. हेमामालिनी को अब तक की गणना के अनुसार 10,136 मत मिले जबकि रालोद उम्मीदवार को 5256 तथा कांग्रेस के महेश पाठक को मात्र 480 मत मिले हैं.
चुनावी नतीजों से पूर्व 22 विपक्षी दलों का जुटान, EVM और VVPAT को लेकर पहुंचे चुनाव आयोग
लोकसभा चुनाव के नतीजे आने से पहले ईवीएम एवं वीवीपीएटी के मुद्दे पर कांग्रेस, सपा, बसपा, तृणमूल कांग्रेस सहित 22 प्रमुख विपक्षी दलों के नेताओं ने मंगलवार को चुनाव आयोग का रुख किया और उससे यह आग्रह किया कि मतगणना से पहले चुनिंदा मतदान केंद्रों पर वीवीपीएटी पर्चियों का मिलान किया जाए.
ईवीएम एवं वीवीपैट के मुद्दे पर 22 पार्टियों के नेता चुनाव आयोग पहुंचे, कहा, दर्ज करायी शिकायत
लोकसभा चुनाव के नतीजे आने से पहले ईवीएम एवं वीवीपैट के मुद्दे पर कांग्रेस, सपा, बसपा, तृणमूल कांग्रेस सहित सभी प्रमुख विपक्षी दलों के नेताओं ने मंगलवार को चुनाव आयोग का रुख किया और उससे यह आग्रह किया कि मतगणना से वीवीपैट पर्चियों का मिलान किया जाये. विपक्षी दलों ने यह भी कहा कि अगर किसी एक बूथ पर भी वीवीपैट पर्चियों का मिलान सही नहीं पाया जाता तो संबंधित विधानसभा क्षेत्र में सभी वीवीपैट पर्चियों की गिनती की जाए. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने संवाददाताओं कहा, ‘‘हमने मांग की है कि वीवीपैटपर्चियों का मिलान पहले किया जाए और फिर मतगणना की जाये.'''' विपक्षी नेताओं ने कई स्थानों पर स्ट्रांगरूम से ईवीएम के कथित स्थानांतरण से जुड़ी शिकायतों पर कार्रवाई की मांग की.
चुनाव परिणाम आने तक मायावती ‘वेट एंड वॉच’ की मुद्रा में रहेंगी
बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती 23 मई को लोकसभा चुनाव के नतीजों तक ‘वेट एंड वाच'' नीति पर अमल करेंगी.सोमवार को उनके और समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव के बीच करीब एक घंटे तक विचार विमर्श हुआ.हालांकि, इस विचार-विमर्श में किन मुद्दों पर बात हुई इसके बारे में सही जानकारी तो नहीं लग पायी लेकिन ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि दोनों नेताओं के बीच चर्चा का मुख्य मुददा एक्जिट पोल रहे होंगे.
कितना भरोसेमंद है एग्जिट पोल ?
चुनाव खत्म हुए. अब चर्चा है एग्जिट पोल की. एग्जिट पोल पर आप कितना भरोसे करते हैं, आपके भरोसे का आधार क्या है ? क्या आपका आकलन और एग्जिट पोल पर एक जैसा हो तभी भरोसा होता है. मैं ऐसा इसलिए पूछ रहा हूं क्योंकि एग्जिट पोल का इतिहास देखेंगे तो पायेंगे राजनीतिक पार्टियों के विश्वास का आधार यही है. इस बार यानि 2019 के आम चुनाव के बाद हुए एग्जिट पोल में ज्यादातर पोल इस बात की तरफ इशारा कर रहे हैं कि एनडीए को बहुमत मिलेगा. एनडीए के नेता खुश हैं, तो यूपीए समेत सपा- बसपा सरीखे पार्टियों के नेता इसे गलत बता रहे हैं.
Exit Polls के मुताबिक़ उत्तर प्रदेश और बिहार में आगे कौन
सबसे ज़्यादा लोकसभा सीटों वाले राज्य उत्तर प्रदेश में इस बार सपा-बसपा गठबंधन है, किस दल को मिलेगी कितनी सीटें.
सोशल मीडिया पर सपा-बसपा लड़ रहीं साफ-सुथरा चुनाव
भाजपा के नेताओं और पार्टी से जुड़े आधिकारिक फेसबुक पेजों पर 28 प्रतिशत यानी हर चौथी खबर फेक होती है. कांग्रेस के मामले में यह आंकड़ा 21 प्रतिशत है. वहीं