26 results found for ''लौटने''
जनरेटर में बाल फंसने से महिला की मौत
कार्तिक पूजा के बाद घर लौटने के दौरान जनरेटर में बाल फंसने से एक महिला की मौत हो गयी. यह घटना सोमवार रात जगतबल्लभपुर के पूर्वी हिस्से में चंघोरलाई इलाके की है. मृतका का नाम डॉली हाजरा (40) था. वह कोलकाता के श्यामबाजार इलाके की रहने वाली थी.
नेपाल गये खूंटी के आठ युवक सकुशल लौट आये
खूंटी : नेपाल में फंसे खूंटी के सभी युवक सकुशल वापस लौट गये हैं. शनिवार रात लगभग दो बजे वे अपने घर पहुंचे. उनके वापस लौटने के बाद शहर में खुशी की लहर है.
सड़क हादसे में रमौल के अधेड़ की हुई मौत
दिल्ली से लौटने के क्रम में इटावा के पास वाहन दुर्घटना में रमौल गांव गांव निवासी रामविलास मंडल के पुत्र विष्णुदेव मंडल (45) की मौत हो गयी. वहीं वाहन पर सवार पांच अन्य लोग गंभीर रूप से घायल हो गये. जिनका इलाज इटावा में जारी है. घायलों में ठनका गांव के लालटून मंडल, संभीर कुमार, अखतबारा गांव निवासी संदीप कुमार के आलवा परिवार का एक अन्य सदस्य व चालक शामिल हैं.
हाथी ने अधेड़ को पटक कर मार डाला, ग्रामीणों में खौफ
नेतरहाट थाना क्षेत्र के माईल गांव में 50 वर्षीय फुलजेन ठिठियो को हाथी ने कुचल कर मार डाला. शुक्रवार की शाम सात बजे घर लौटने के क्रम में फुलजेन पर हाथी ने हमला कर दिया था. इसकी सूचना ग्रामीणों ने वन विभाग महुआडांड़ दी. शनिवार सुबह रेंजर वृंदा पांडेय, वनपाल अजय टोप्पो व अन्य वन कर्मी माईल गांव पहुंचे.
आधुनिक सुविधाओं से लैस होगा जिले का पशु अस्पताल, कार्य हुआ शुरू
सीवान : लंबे समय से जर्जर भवन में चल रहे जिला पशु अस्पताल के दिन लौटने वाले हैं. शीघ्र जर्जर भवन को तोड़कर वहां आधुनिक सुविधाओं से लैस एक मंजिला पशु अस्पताल का निर्माण एक करोड़ 15 लाख की लागत से किया जायेगा. प्रशासनिक स्वीकृति मिल चुकी है, टेंडर की प्रक्रिया भी शीघ्र प्रारंभ होगी.
क्षेत्रीय विज्ञान मेला : उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले प्रतिभागी हुए सम्मानित
मुंगेर : पिछल दिनों सीतामढ़ी में आयोजित क्षेत्रीय विज्ञान मेला में सरस्वती शिशु मंदिर सादीपुर के भैया-बहनों ने शिशु वर्ग में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया. जिसके बाद वहां से लौटने पर सफल प्रतिभागियों को सादीपुर स्थित विद्यालय के वंदना सभागार में एक समारोह आयोजित कर सम्मानित किया गया. समारोह की अध्यक्षता विद्यालय के प्रधानाचार्य अखिलेश पाण्डेय ने की.
चतरा में भाजपा प्रत्याशी का नामांकन कराने गये थे बड़े नेता, हेलीकॉप्टर हो गया खराब
रांची : झारखंड के उग्रवाद प्रभावित जिला चतरा के चतरा विधानसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रत्याशी जनार्दन पासवान ने बुधवार को अपना नामांकन दाखिल किया. उनका पर्चा दाखिल कराने के लिए चतरा के सांसद सुनील कुमार सिंह और बिहार के मंत्री एवं झारखंड विधानसभा चुनाव के सह प्रभारी नंदकिशोर यादव भी चतरा पहुंचे थे. नामांकन दाखिल कराने के बाद जब वे लोग लौटने लगे, तो हेलीकॉप्टर उड़ नहीं सका.
मसौढ़ी में ट्रेन से कट 35 वर्षीय एक युवक की मौत
मसौढ़ी : पटना-गया रेलखंड के नदवां स्टेशन से कुछ दूर पहले ट्रेन से गिर युवक की मौत हो गयी. बाद में मंगलवार की सुबह मौके पर पहुंची जीआरपी ने शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. जीआरपी थानाध्यक्ष दुर्गेश कुमार शर्मा ने बताया कि मृतक के पाॅकेट से मिले मोबाइल के आधार पर उसकी पहचान पटना जक्कनपुर थाने के पुरंदरपुर निवासी राजेंद्र पासवान के 35 वर्षीय पुत्र अशोक पासवान के रूप में की गयी. उन्होंने बताया कि बाद में मृतक के घर वाले भी पहुंच गये. घरवालों ने बताया कि अशोक बीते सोमवार को जहानाबाद किसी काम से गया था. लौटने के क्रम में किसी अज्ञात ट्रेन से गिर गया.
1000 से ज्यादा गीत गा चुके हैं प्रमोद प्रेमी
शिक्षा का उद्देश्य है सीखना और विकास करना है. ये बातें भोजपुरी गायक प्रमोद प्रेमी यादव ने औपचारिक मुलाकात में कही. वे छत्तीसगढ़ से लौटने के क्रम में स्थानीय कलाकार अर्जुन यादव के घर कुछ देर के लिए रुके हुए थे. उन्होंने कहा कि संगीत की रुचि दिल व दिमाग के जीतने के करीब होगी, उतना ही वह आगे बढ़ेगा.
सुप्रीम कोर्ट के आदेश को सबको स्वीकार करना चाहिए : नीतीश कुमार
पटना : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को कहा कि अयोध्या के मसले पर हमलोगों का शुरू से ही यह विचार रहा है कि इस समस्या का हल या तो आपसी सहमति से हो या न्यायालय के आदेश से हो. वाल्मीकिनगर से लौटने के क्रम में पटना एयरपोर्ट पर उन्होेंने कहा कि अब तो सुप्रीम कोर्ट का आदेश है, सबको इसे स्वीकार करना चाहिए और स्वागत करना चाहिए.
चांदमारी से अधिवक्ता पुत्र लापता, शिकायत दर्ज
शहर के चांदमारी मोहल्ला निवासी हिमांशु कात्यायन बुधवार दोपहर से लापता है. उसके मोबाइल पर किसी ने फोन कर बुलाया. वह घर से निकला, उसके बाद वापस नहीं लौटा. देर रात तक घर वापस नहीं लौटने पर परिजनों ने खोजबीन शुरू की, लेकिन उसका कही सुराग नहीं मिला.
अपना गांव छोड़ रोजी-रोटी की तलाश में जाने लगे परदेसी बाबू
अपने जीविकोपार्जन को लेकर परदेस में रहने वाले लोग महापर्व छठ खत्म होते ही वापसी की तैयारी करने लगे है़ रोजी- रोटी की तलाश में दरे दराजों में रहने वाले लोग पर्व में तो अपने गांव आये किंतु इनकी मजबूरियां ही अपने परिवार के साथ परदेश लौटने को विवश कर रहा है.
ट्रेन में जबरदस्त भीड़: खड़े-खड़े सफर करने को मजबूर हैं यात्री, छठ पूजा खत्म होने के चार दिन बाद भी परेशान लोग
महापर्व छठ पूजा खत्म हुए चार दिन हो गये. लेकिन, दिल्ली लौटने वाले यात्रियों की भीड़ कम नहीं हो रही है. इससे पटना से दिल्ली जाने वाली नियमित ट्रेनों के स्लीपर व जनरल डिब्बे में खड़े होने तक की जगह नहीं है. वहीं, स्पेशल ट्रेनें खाली रवाना हो रही हैं. इसका वजह है कि दिल्ली जाने वाली स्पेशल ट्रेन का किराया नियमित ट्रेन के किराये से दोगुना है.
परदेस जानेवाले यात्रियों को ट्रेन में नहीं मिल रहा रिजर्वेशन टिकट
झाझा : दीपावली, दशहरा, छठ के पर्व पर घर आए लोगों को अब काम पर जाने के लिए ट्रेनों में आरक्षित सीट नहीं मिल रही है. इस कारण अपने काम को लौटने वाले लोगों को काफी मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है. इस कारण छठ के बाद से ही रेलवे स्टेशन स्थित आरक्षण काउंटर पर सुबह 6:00 बजे से 2:00 बजे तक लंबी लाइनें लग रही है. बावजूद इसके दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, साउथ जाने वाले लोगों को ट्रेनों में सीट नहीं मिल रही है. इसलिए वेलोग लगातार इसके लिए प्रयासरत हैं.
तत्काल टिकट के लिए काउंटर पर रात में ही लग जाती है लंबी लाइनें
सहरसा : छठ पर्व समाप्ति के बाद घरों से वापस प्रदेशों में काम पर लौटने वाले लोगों की काफी मुश्किलें बढ़ गयी है. रेल यात्री को नियमित ट्रेनों में कंफर्म टिकट नहीं मिल रहा है. सहरसा जंक्शन पर स्थिति यह है कि तत्काल टिकट के लिए सहरसा जंक्शन पर सुबह से ही लंबी लाइन लग जाती है. कंफर्म टिकट नहीं मिलने पर हर दिन हंगामे की स्थिति बनी रहती है.
11 नवंबर से वाया मुंगेर होकर चलेगी स्पेशल ट्रेन
छठ पर्व पर घर आये लोगों को कार्यस्थल पर लौटने के लिए रेलवे ने भागलपुर से गांधीधाम (गुजरात) के बीच स्पेशल ट्रेन का विकल्पक दिया है. यह ट्रेन भागलपुर से 11 नवंबर से दो दिसंबर तक हर सोमवार सुबह 6:30 बजे चलेगी और तीसरे दिन बुधवार को सुबह आठ बजे गांधीधाम पहुंचेगी.
11 घंटे का विरोध, शिकायत निपटारे के आश्‍वासन के बाद दिल्ली पुलिस ने खत्‍म किया प्रदर्शन
दिल्ली के पुलिसकर्मियों ने अपनी शिकायतों के निपटारे का आश्वासन मिलने के बाद लगभग 11 घंटे चला प्रदर्शन खत्म कर दिया. विशेष पुलिस आयुक्त (अपराध) सतीश गोलचा ने तीस हजारी अदालत परिसर में पुलिस और वकीलों के बीच झड़प की घटना के बाद हड़ताल पर गये पुलिसकर्मियों से काम पर लौटने की अपील की और कहा कि इस संबंध में दिल्ली उच्च न्यायालय में पुनर्विचार याचिका दायर की जायेगी.
छठ पूजा के बाद ट्रेनों में बढ़ी भीड़, जान जोखिम में डाल कर यात्रा करने को मजबूर लोग
छठ पूजा पर घर आये बिहार व झारखंड के लोग वापस लौटने लगे हैं. इससे ट्रेनों में भीड़ काफी बढ़ गयी है. खासकर दिल्ली, पंजाब, मुंबई आदि जगहों पर जाने वाली ट्रेनों ठसाठस भीड़ चल रही है. कई यात्री जो पहले से आरक्षित टिकट ले चुके हैं उन्हें तो दिक्कत नहीं हो रही है, लेकिन जिन्होंने पहले से टिकट नहीं लिया है
मुश्किल में सफर : सुविधा स्पेशल ट्रेनों में साढ़े तीन गुणा अधिक किराया देकर भी असुविधा, शौचालय में पैर रखने तक जगह नहीं
पटना : छठ पूजा खत्म होने के बाद सोमवार से वापस काम पर लौटने वाले रेल यात्रियों की भीड़ पटना जंक्शन पर दिखने लगी है. जंक्शन से दिल्ली, कोटा, अमृतसर, रांची आदि शहरों की ओर जाने वाली ट्रेनों में यात्रियों की भीड़ सामान्य दिनों से दो से तीन गुणा अधिक बढ़ गयी है. इसकी वजह से स्लीपर व जनरल डिब्बों का अंतर खत्म हो गया है. जनरल डिब्बे में तो यात्री भेंड़-बकरी की तरह लदे दिखे. इनके शौचालयों में भी यात्रियों के खड़े होने की जगह नहीं थी. स्लीपर डिब्बे के एक बर्थ पर पांच-छह यात्री बैठने के बावजूद सैकड़ों यात्री गेट से लेकर डिब्बे के पाथवे में खड़े होकर सफर करने को मजबूर दिखे.
पटना : लौटने वालों की भीड़ से बसों में जगह ढूंढ़ना हुआ मुश्किल
पटना : महापर्व छठ के समाप्त होने के बाद सोमवार को लौटने वालों की भीड़ पटना के दोनों बस स्टैंडों पर उमड़ पड़ी. मीठापुर बस स्टैंड में यह भीड़ सबसे अधिक दिखी. जो बस स्टैंड में लगे हुए थे, उनके सीट पहले से ही फूल हो चुके थे. साथ ही लोग बीच की जगह में बेंच लगा कर भी बैठे हुए थे. कुछ लोग खड़े भी दिखे और कई बसों में तो लोग छत पर भी लदे दिखे.