16 results found for ''लांसेट अध्ययन''
राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद पर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, तय होगा रोजाना सुनवाई होगी या नहीं
उच्चतम न्यायालय अयोध्या में राजनीतिक रूप से संवेदनशील राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद में मध्यस्थता की प्रगति पर गुरुवार को एक रिपोर्ट का अध्ययन कर सकता है.
कुचाई में जनता दरबार का आयोजन, डीसी ने मौके पर किया लोगों की समस्‍याओं का निपटारा
कुचाई प्रखंड के मरांगहातु पंचायत अंतर्गत बिरसा मुंडा स्टेडियम में उपायुक्त श्री ए दोड्डे की अध्यक्षता में जनता दरबार आयोजित की गई. इस मौके पर उपायुक्त ने कहा कि जनता दरबार का उद्देश्य सरकार की सभी योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने तथा स्थानीय समस्या का बारीकी से अध्ययन करने का महत्वपूर्ण जरिया है.
परनिंदा के बदले अपने नजरिए को सकारात्मक बनाए
मैं एक बहुत ही सम्मानित पत्रकार के साथ काम करने का अनुभव साझा कर रहा हूं. हर विषय को लेकर उनकी मौलिक जानकारी का स्तर देख कर मुझे हर बार लगता था कि किसी भी व्यक्ति को इतनी जानकारी कैसे हो सकती है. इतिहास और वर्तमान को लेकर इतनी जानकारी हासिल करना किसी भी व्यक्ति के लिए बिना गहन अध्ययन के संभव नहीं है और इसके लिए बहुत समय की आवश्यकता है. कोई व्यक्ति अपने काम के साथ कैसे इतना वक्त पढ़ने के लिए निकाल सकता है. ये यक्ष प्रश्न मेरे मन में हमेशा चलता रहता था. मैंने उनके काम करने के तरीके को बहुत ही सूक्ष्मता से देखना शुरू किया, तो पाया कि वो हर व्यक्ति से संवाद करते हैं. अपने निजी कार्यों के लिए भी समय निकाल लेते हैं. उसके इतर अपने मूल काम लिखने-पढ़ने के लिए भी समय निकाल लेते हैं.
पटना : बीपीएससी ने राज्यपाल पर गलत तरीके से प्रश्न पूछने पर जताया खेद, सेटर ब्लैकलिस्टेड
पटना : बिहार लोक सेवा आयोग ने 64वीं संयुक्त मुख्य परीक्षा में पूछे गये विवादास्पद प्रश्न के लिए खेद प्रकट किया है. साथ ही आयोग ने प्रश्न सेट करने वाले को भी ब्लैकलिस्टेड कर दिया है. आयोग द्वारा रविवार को ली गयी सामान्य अध्ययन के दूसरे पेपर की परीक्षा में पूछा गया था कि भारत में राज्य की राजनीति में राज्यपाल की भूमिका का आलोचनात्मक परीक्षण कीजिए, विशेष रूप से बिहार के संदर्भ में. क्या वह केवल एक कठपुतली हैं?
BPSC : मुख्य परीक्षा में राज्यपाल की भूमिका के बारे में पूछे गये सवाल को लेकर बीपीएससी विवादों में घिरा
पटना : बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) की मुख्य परीक्षा में राज्यपाल की भूमिका से जुड़े एक सवाल को लेकर बीपीएससी विवादों में घेरे में आ गया है. मुख्य परीक्षा में एक सवाल पूछा गया था कि क्या राज्यपाल महज एक ‘कठपुतली'' भर होता है. बीपीएससी की रविवार को हुई 64वीं मुख्य परीक्षा के सामान्य अध्ययन पेपर-दो में पूछे गये उक्त सवाल में परीक्षार्थियों से भारत में राज्य की राजनीति में राज्यपाल की भूमिका का विशेष रूप से बिहार के संदर्भ में, कि क्या वे केवल एक कठपुतली हैं, आलोचनात्मक परीक्षण करने को कहा गया था.
रांची बनेगा जोनल ऑफिस रेलवे बोर्ड कर रहा अध्ययन : सुरेश अंगड़ी
रांची : रेल राज्यमंत्री सुरेश अंगड़ी चन्नबसप्पा ने कहा कि रांची को रेलवे जोन बनाने की मांग झारखंड के सीएम, सांसद और विधायकों ने की है. इस पर मंत्रालय अध्ययन कर रहा है. जल्द ही इस दिशा में निर्णय लिया जायेगा. चन्नबसप्पा ने उक्त बातें रविवार को आरडीसीआइएस सभागार में 64वें राष्ट्रीय रेल सप्ताह के तहत आयोजित कार्यक्रम में पत्रकारों से कही.
बजट-भाषण में कवि, लेखक, विचारक
अभी तक संभवत: इस पर विचार-विमर्श नहीं हुआ है कि स्वाधीन भारत के वित्त मंत्रियों ने अपने बजट-भाषण में कवियों, लेखकों और विचारकों को उद्धृत करने की आवश्यकता क्यों समझी और यह सिलसिला कब से आरंभ हुआ. यह एक रोचक, अध्ययन-विवेचन का विषय है, जिस पर न तो लेखकों का ध्यान गया, न अर्थशास्त्रियों-समाजशास्त्रियों का. संभव है, उनके लिए यह महत्वहीन हो, पर उन वित्त मंत्रियों के लिए, जिन्होंने अपने बजट-भाषण में इन्हें उद्धृत किया है, महत्वहीन नहीं था. समय-समय पर एक अति संक्षिप्त सूची पेश की गयी है, पर वह मात्र उल्लेख है.
रांची : मिड डे मील, मेगालिथ कल्चर विषयों पर होगा शोध
रांची : डॉ रामदयाल मुंडा जनजातीय शोध संस्थान में शुक्रवार को शोधकर्ताअों अौर संस्थान के पदाधिकारियों की बैठक हुई. बैठक में संस्थान में हो रहे शोध कार्यों की समीक्षा की गयी. साथ ही भविष्य के शोध के लिए राज्य में मिड डे मील का दूसरे राज्यों से तुलनात्मक अध्ययन, मेगालिथ कल्चर, गैर आदिवासी पुरुषों के साथ आदिवासी महिलाअों की शादी अौर इसके प्रभाव, आदिवासी समुदायों के द्वारा राज्य गठन अौर शासन जैसे विषयों को चुना गया.
AES पर लोकसभा में अश्विनी चौबे ने कहा, ज्यादातर परीक्षण में संक्रमण फैलानेवाले नमूने नकारात्मक
पटना : केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने लोकसभा में आज एक सवाल का जवाब देते हुए बताया कि सीमित संख्या में सीरम और लीची के नमूनों का मिथाइलीनसाइक्लोप्रोपाइग्लिसिन (MCPG) टॉक्सिन परीक्षण किया गया. इनमें कम-से-कम आधे एमसीपीजी पॉजिटिव पाये गये. मालूम हो कि लोकसभा में सवाल किया गया था कि क्या सरकार द्वारा एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम / जापानी इंसेफेलाइटिस के विभिन्न पहलुओं पर कोई अध्ययन किया गया है, जिसमें उनके प्रकट होने के कारण भी शामिल हैं?
2023 तक सभी तिपहिया वाहनों को इलेक्ट्रिक वाहनों में बदला जायेगा
वाहन उद्योग इलेक्ट्रिक वाहन या बिजली चालित वाहन पर रूपरेखा तैयार करने के लिए एक बाहरी एजेंसी से अध्ययन कराएगा. सूत्रों ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी. उल्लेखनीय है कि नीति आयोग चाहता है कि 2023 तक सभी तिपहिया वाहनों को इलेक्ट्रिक वाहनों में बदल दिया जाये.
बजट में मर्चेंट डिस्काउंट रेट खत्म करने से पेमेंट इंडस्ट्री को सता रहा बर्बाद होने का डर
मुंबई : भुगतान (पेमेंट) उद्योग ने आगाह किया है कि मर्चेंट डिस्काउंट रेट (एमडीआर) को समाप्त करने से वे बुरी तरह प्रभावित होंगे और भुगतान कारोबार उद्योग ढह जायेगा. पेमेंट काउंसिल ऑफ इंडिया ने सोमवार को बयान में कहा कि सरकार का यह कदम तमाम अध्ययनों, यहां तक कि हाल में जारी रिजर्व बैंक के दृष्टि दस्तावेज का उलट है. अभी प्रत्येक डिजिटल लेन-देन पर दो फीसदी एमडीआर देने का प्रावधान है. इससे मध्यस्थ इकाइयों को ढांचे की लागत निकालने में मदद मिलती है.
दांतों के खराब होने और मसूड़ों की बीमारी के लिए आपका 'जीन' हो सकता है जिम्मेदार
मोटापा, शिक्षा और व्यक्तित्व जैसे कई आनुवंशिक गुण और कारक दांतों के खराब होने और मसूड़ों की बीमारियों के लिए जिम्मेदार हो सकते हैं. इसका खुलासा एक नये अध्ययन से हुआ है. ब्रिटेन में यूनिवर्सिटी ऑफ ब्रिस्टल के अनुसंधानकर्ताओं ने कहा कि दो लोग जो एक जैसा खाना खाते हैं और अपने मुंह का ख्याल भी एक ही तरह से रखते हैं,
जिले को सूखाग्रस्त घोषित करने को ले एरियल सर्वे, ड्रोन कैमरा से खरीफ की फसल हुई जांच
पूर्णिया : पूर्णिया जिले को सूखाग्रस्त क्षेत्र घोषित करने को लेकर एरियल सर्वे किया गया है. गुरुवार को सर्वेक्षण दल ने ड्रोन कैमरा की मदद से खरीफ के फसलों की जांच की. इसके तहत खरीफ फसलों का आच्छादन और सूखे की स्थिति का आकलन किया गया. टीम के प्रतिवेदन का अध्ययन करने के बाद राज्य सरकार की ओर से पूर्णिया को सूखाग्रस्त क्षेत्र घोषित करने को लेकर अंतिम निर्णय लिया जाएगा.
Research: गंभीर बीमारियों को रोकने में मददगार हैं दूध और डेयरी प्रोडक्ट्स
जीवन के विभिन्न चरणों में दूध और डेयरी उत्पादों के पर्याप्त सेवन से कई पुरानी व गंभीर बीमारियों को रोकने में मदद मिल सकती है. एक अध्ययन के अनुसार यह जानकारी सामने आयी है.
दिल को हेल्दी रखना है तो छुट्टियों के लिए निकालें वक्त
अपनी भागदौड़ भरी व्यस्त दिनचर्या से कुछ वक्त छुट्टियों के लिए भी निकालें. इन छुट्टियों की मदद से आप न केवल खुद को स्ट्रेस से मुक्ति दिला सकते हैं, बल्कि इससे दिल की बीमारियों के होने का खतरा भी काफी हद तक कम हो जाता है. हाल ही में किये गये एक अध्ययन में ऐसा दावा किया गया है.
बांटी गयी लेखन व अध्ययन सामग्री
विश्व हिंदू परिषद के जिला अध्यक्ष अशोक उपाध्याय की अध्यक्षता में एकल विद्यालय अभियान के मुख्य अतिथि अभियान के बिहार झारखंड प्रभारी राकेश तिवारी के द्वारा जिले के जाफरपुर गांव में विद्यालय केंद्र पर बच्चों के बीच स्लेट, कॉपी, कलम एवं पुस्तक का वितरण किया गया.