961 results found for ''रांची''
रांची : केंद्रीय जनसंघर्ष समिति ने खड़ा किया प्रत्याशी
रांची : केंद्रीय जनसंघर्ष समिति, लातेहार-गुमला ने विस चुनाव में गुमला विधानसभा क्षेत्र से प्लासिदियुस टोप्पो को प्रत्याशी बनाने का निर्णय लिया है़
रांची : सभी सीटों पर लड़ेंगे: बीडी बोरकर
रांची : पीपुल्स पार्टी ऑफ इंडिया (डेमोक्रेटिक) की पहली वर्षगांठ मोरहाबादी मैदान में मनायी गयी. इसमें राष्ट्रीय अध्यक्ष बीडी बोरकर ने कहा कि पार्टी ने झारखंड की सभी सीटों पर चुनाव लड़ने का निर्णय लिया है़ झारखंड की पार्टियां संविधान के खिलाफ काम कर रही है़ं देश में आबादी के हिसाब से उचित प्रतिनिधित्व नहीं मिल रहा है़
रांची : भाजपा कार्यालय पहुंचे सीएम, लोगों से मिले
रांची : मुख्यमंत्री रघुवर दास मंगलवार को शाम में भाजपा कार्यालय पहुंचे. यहां पर उन्होंने एक घंटे तक कार्यकर्ताओं से अलग-अलग मुलाकात की. विभिन्न जिलों से आये कार्यकर्ताओं ने विधानसभा चुनाव में टिकट को लेकर अपनी दावेदारी पेश की. इसके बाद मुख्यमंत्री ने संगठन महामंत्री के साथ बैठक कर पार्टी की ओर से चलायी जाने वाले चुनावी गतिविधि के बारे में जानकारी हासिल की.
रांची : चिराग के अध्यक्ष बनने पर लोजपा में जश्न
रांची : जमुई से सांसद चिराग पासवान को लोजपा का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाए जाने पर झारखंड एलजेपी ने सड़कों पर उतरकर खुशी का इजहार किया. अल्बर्ट एक्का चौक पर सदस्यों ने गुलाल लगाकर एक-दूसरे को बधाई दी. झारखंड लोजपा के प्रवक्ता उमेश तिवारी ने कहा कि रामविलास पासवान की विरासत को चिराग आगे बढ़ायेंगे. घोषणा के बाद लोजपा की एक बैठक ड्यूक मेंशन में हुई. बैठक में उषा खलको, प्रियंका राज, उत्तम राय सहित कई कार्यकर्ता शामिल थे.
रांची : सरकारी खर्च पर नजर रखें : सीएस
रांची : मुख्य सचिव डॉ डीके तिवारी ने मंगलवार को सारे सचिवों के साथ वित्तीय प्रबंधन व प्रशासनिक सुधार के विषय पर बैठक की. उन्होंने कहा कि अफसर सरकारी खर्च पर पैनी नजर रखें. साथ ही यह सुनिश्चित करें कि खर्च युक्तिसंगत हो. मुख्य सचिव ने सभी विभागों व उसकी अनुषंगी इकाइयों में अनावश्यक बिजली खपत पर रोक लगाने, ऊर्जा खपत की अधिकतम सीमा तय करने और सरकारी कार्यालयों में बिजली मीटर लगाने का भी निर्देश दिया है. वहीं यात्रा भत्ता, कार्यालय खर्च को भी युक्ति संगत बनाने को कहा है.
रांची : स्वास्थ्य निदेशालय में पदस्थापित कर्मियों की प्रतिनियुक्ति रद्द
रांची : स्वास्थ्य निदेशालय में प्रतिनियुक्त 10 कर्मियों की प्रतिनियुक्ति रद्द कर दी गयी है. पांच नवंबर को इससे संबंधित आदेश स्वास्थ्य निदेशालय ने जारी कर दिया है. छह नवंबर तक सभी कर्मियों को विरमित करने का आदेश भी जारी कर दिया गया है.
रांची :एक लाख हितचिंतक सदस्य बनायेगा विहिप
श्रीजन्मभूमि पर आने वाले फैसले से उत्साहित व हतोत्साहित होने की जरूरत नहीं : केशव राजू रांची : विश्व हिंदू परिषद की ओर से 10 नवंबर से दो दिसंबर तक वार्षिक हितचिंतक सदस्यता अभियान चलाया जायेगा. यह अभियान राज्य के सभी जिलों में चलाया जायेगा. परिषद ने इसके तहत एक लाख सदस्य बनाने का लक्ष्य रखा है.
रांची : सुविधा ऐप व सिंगल विंडो सिस्टम से करें आवेदन
रांची : विधानसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर पूरे रांची जिला में आदर्श चुनाव आचार संहिता प्रभावी हो गयी है. इस दौरान किसी भी व्यक्ति या राजनीतिक पार्टी के द्वारा रैली, जुलूस, बैठक, अस्थायी पार्टी कार्यालय, रोड शो अथवा किसी भी प्रकार का चुनाव प्रचार कार्य हेतु चुनाव आयोग के निर्देशानुसार सुविधा एेप या सिंगल विंडो सिस्टम के द्वारा समुचित कागजात के साथ आवेदन दे सकते हैं.
रांची : इवीएम-वीवीपैट का रेंडमाइजेशन से चयन
रांची : जिला निर्वाचन पदाधिकारी राय महिमापत रे ने रांची समाहरणालय स्थित कार्यालय कक्ष में इवीएम/ वीवीपैट का फर्स्ट रेंडमाइजेशन किया. रेंडमाइजेशन के दौरान सभी मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय राजनीतिक दल के प्रतिनिधि, सभी विधानसभा क्षेत्र के आरओ और उप निर्वाचन पदाधिकारी मौजूद थे.
रांची : छात्रों को दी गयी इवीएम-वीवीपैट की जानकारी
रांची : स्वीप के तहत रांची जिला के विभिन्न शिक्षण संस्थानों में इवीएम/वीवीपैट जागरुकता कार्यक्रम चलाया जा रहा है. इसके तहत मंगलवार को वीमेंस कॉलेज के भूगोल विभाग और मारवाड़ी कॉलेज के छात्रों को इवीएम/वीवीपैट की जानकारी दी गयी. मास्टर ट्रेनर अरुण सिन्हा और विनोद कुमार ने छात्रों को इवीएम/वीवीपैट की जानकारी दी और बताया कि वीवीपैट में मतदान करने पर वोटर को सात सेकेंड के लिए प्रत्याशी से संबंधित पर्ची दिखाई देगी, जिसे उसने वोट किया है. इस दौरान छात्रों ने मॉकपोल कर देखा कैसे वीवीपैट काम करता है.
रांची : 3253 हथियार में जमा हुए 1480 हथियार
रांची : विधानसभा चुनाव को लेकर को लेकर रांची जिला के सभी लाइसेंसधारी हथियार धारकों को जिला प्रशासन ने पांच नवंबर तक अपने सभी हथियार को जमा करने का निर्देश दिया था. इसके तहत 25 अक्तूबर से ही लोगों ने हथियार जमा करने शुरू किये. लेकिन मंगलवार पांच नवंबर तक जिले के 3253 हथियार में से 1480 हथियार जमा हुए हैं.
झारखंड विधानसभा चुनाव 2019: जमानत नहीं मिली, तो जेल से लड़ेंगे चुनाव : बंधु तिर्की
रांची : मंगलवार को आय से अधिक संपत्ति के मामले के आरोपी पूर्व मंत्री बंधु तिर्की सीबीआइ के विशेष न्यायाधीश एक के मिश्रा की अदालत में पेश हुए़ इस मामले की अगली सुनवाई 19 नवंबर को होगी़ कोर्ट से निकलने के बाद श्री तिर्की ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि महागठबंधन को लेकर अंतिम समय तक कुछ भी हो सकता है.
झारखंड विधानसभा चुनाव 2019: जमानत नहीं मिली, तो जेल से लड़ेंगे चुनाव : बंधु तिर्की
रांची : मंगलवार को आय से अधिक संपत्ति के मामले के आरोपी पूर्व मंत्री बंधु तिर्की सीबीआइ के विशेष न्यायाधीश एक के मिश्रा की अदालत में पेश हुए़ इस मामले की अगली सुनवाई 19 नवंबर को होगी़ कोर्ट से निकलने के बाद श्री तिर्की ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि महागठबंधन को लेकर अंतिम समय तक कुछ भी हो सकता है.
झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 : झाविमो से जुड़ने लगे बागी, पूर्व विधायक बोबोंगा व सुशीला बारला ने थामा दामन
रांची : बदलते राजनीतिक घटनाक्रम के बीच झाविमो से विभिन्न दलों के बागी जुड़ने लगे है़ं मंगलवार को कोल्हान क्षेत्र के दर्जनों लोगों ने झाविमो का दामन थामा़ झामुमो नेता व जगन्नाथपुर से पूर्व विधायक मंगल सिंह बोबोंगा, कांग्रेस प्रत्याशी रहे सुशील बारला, आंदोलनकारी नरेश चंद्र मुर्मू, हरमोहन महतो, घाटशिला की डा सुनीता सोरेन, पोटका की पंचायत समिति सदस्य, बबलू सरदार सहित कई लोगों ने झाविमो की सदस्यता ली़
झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 : झाविमो से जुड़ने लगे बागी, पूर्व विधायक बोबोंगा व सुशीला बारला ने थामा दामन
रांची : बदलते राजनीतिक घटनाक्रम के बीच झाविमो से विभिन्न दलों के बागी जुड़ने लगे है़ं मंगलवार को कोल्हान क्षेत्र के दर्जनों लोगों ने झाविमो का दामन थामा़ झामुमो नेता व जगन्नाथपुर से पूर्व विधायक मंगल सिंह बोबोंगा, कांग्रेस प्रत्याशी रहे सुशील बारला, आंदोलनकारी नरेश चंद्र मुर्मू, हरमोहन महतो, घाटशिला की डा सुनीता सोरेन, पोटका की पंचायत समिति सदस्य, बबलू सरदार सहित कई लोगों ने झाविमो की सदस्यता ली़
झारखंड की राजनीति का फ्लैशबैक : नौ बार जीते, केवल एक बार चुनाव हारे थे विशेश्वर खान
रांची : भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के विशेश्वर खान 45 साल तक विधायक रहे. संताल परगना के नाला विधानसभा से इनको हराना आसान नहीं था. श्री खान का जीवनकाल 94 साल का रहा. इसमें से 45 साल वह विधायक रहे. नौ बार उन्होंने नाला विधानसभा क्षेत्र का नेतृत्व किया. 1962 से उनका विजयी अभियान शुरू हुआ. एक बार छोड़ वर्ष 2000 तक लगातार चुनाव जीते. अलग राज्य गठन के बाद वह झारखंड विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर भी रहे. विशेश्वर खान को पहली बार कांग्रेस की राजकुमारी हिम्मत सिंघका ने 1990 में हराया था. इस चुनाव में वह श्रीमती सिंघका से 5163 मतों के अंतर से हार गये थे.
झारखंड की राजनीति का फ्लैशबैक : नौ बार जीते, केवल एक बार चुनाव हारे थे विशेश्वर खान
रांची : भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के विशेश्वर खान 45 साल तक विधायक रहे. संताल परगना के नाला विधानसभा से इनको हराना आसान नहीं था. श्री खान का जीवनकाल 94 साल का रहा. इसमें से 45 साल वह विधायक रहे. नौ बार उन्होंने नाला विधानसभा क्षेत्र का नेतृत्व किया. 1962 से उनका विजयी अभियान शुरू हुआ. एक बार छोड़ वर्ष 2000 तक लगातार चुनाव जीते. अलग राज्य गठन के बाद वह झारखंड विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर भी रहे. विशेश्वर खान को पहली बार कांग्रेस की राजकुमारी हिम्मत सिंघका ने 1990 में हराया था. इस चुनाव में वह श्रीमती सिंघका से 5163 मतों के अंतर से हार गये थे.
झारखंड विधानसभा चुनाव : 20 गुना बढ़ गये करोड़पति विधायक, जानें 2014 में चुने गये विधायकों का ब्योरा
रांची : झारखंड गठन के बाद विधानसभा में करोड़पति विधायकों की संख्या में 20 गुना वृद्धि हुई है. अलग राज्य बनने के बाद 2005 में पहला विधानसभा चुनाव हुआ. इसमें दो करोड़पति विधायक बने. 2009 के विधानसभा चुनाव में करोड़पति विधायकों की संख्या दो से बढ़ कर 24 हो गयी. 2014 विधानसभा चुनाव के बाद विधानसभा में करोड़पति विधायकों की संख्या 21 से बढ़ कर 41 हो गयी. इस तरह सिर्फ 10 साल के अंदर करोड़पति विधायकों की संख्या में 20 गुना वृद्धि हुई.
झारखंड विधानसभा चुनाव : 20 गुना बढ़ गये करोड़पति विधायक, जानें 2014 में चुने गये विधायकों का ब्योरा
रांची : झारखंड गठन के बाद विधानसभा में करोड़पति विधायकों की संख्या में 20 गुना वृद्धि हुई है. अलग राज्य बनने के बाद 2005 में पहला विधानसभा चुनाव हुआ. इसमें दो करोड़पति विधायक बने. 2009 के विधानसभा चुनाव में करोड़पति विधायकों की संख्या दो से बढ़ कर 24 हो गयी. 2014 विधानसभा चुनाव के बाद विधानसभा में करोड़पति विधायकों की संख्या 21 से बढ़ कर 41 हो गयी. इस तरह सिर्फ 10 साल के अंदर करोड़पति विधायकों की संख्या में 20 गुना वृद्धि हुई.
झारखंड विधानसभा चुनाव 2019: जनाकांक्षाओं के अनुरूप होगा पार्टी का संकल्प पत्र : भाजपा
रांची : भाजपा ने घोषणा पत्र को संकल्प पत्र का नाम देते हुए राज्यभर में आकांक्षा पेटी लगा कर लोगों से सुझाव मांगे़ मिस्ड कॉल, सोशल मीडिया के माध्यम से भी लोगों से सुझाव मांगे गये़ पार्टी का दावा है कि राज्यभर में लगाये गये आकांक्षा पेटी सहित दूसरे माध्यमों से पार्टी को पांच लाख, 12 हजार सुझाव आये है़ं