1 results found for ''मुहावरा''
पानी जब कर दे पानी-पानी!
पानी की बढ़ती कमी के कारण मानवता पानी-पानी हो रही है. ‘नानी याद आना’ मुहावरा जगह-जगह बह रहा है. स्वार्थ की जुगाड़-जंग जारी है. जिसे आराम से पानी मिल जाता है, चुप रहता है.