9 results found for ''मुसलमान''
अमरीका की दो मुसलमान महिला सांसदों के प्रवेश पर इसराइल ने लगाया प्रतिबंध
अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप के साथ विवादों में रही हैं ये मुसलमान महिला सांसद.
इमरान ख़ान को भारतीय मुसलमानों की चिंता क्यों- नज़रिया
पाकिस्तान के पूर्व राजनयिक अक़ील नदीम ने लिखा है कि भारतीय मुसलमानों को एकजुट करना भी एक विकल्प हो सकता है.
अनुच्छेद-370 के समर्थन में कश्मीरी मुसलमानों के जुलूस निकालने का सच: फ़ैक्ट चेक
दावा किया जा रहा है कि कर्फ़्यू में ढील मिलते ही कश्मीर के लोगों ने अनुच्छेद-370 के समर्थन में जुलूस निकाला.
सावन मास की अंतिम सोमवारी व बकरीद आज
शिव उपासना के महापर्व के रूप में ख्यात सावन मास की आखिरी सोमवारी को लेकर जहां एक तरफ श्रद्धालुओं का उत्साह परवान चढ़ा है, वहीं बकरीद पर्व को लेकर मुसलमान अकीदतमंदों में भी गजब का उत्साह नजर आ रहा है. दोनों पर्वों में श्रद्धालुओं व अकीदतमंदों की भीड़ जुटने एवं धूमधाम से अपने-अपने त्योहार मनाने की परंपरा को ध्यान में रखते हुए प्रशासन पूरी तरह से सतर्क है.
हम मुसलमान हैं और डर शब्द हमारी डिक्शनरी में नहीं हैः पाकिस्तान विदेश मंत्रालय
एक सवाल के जवाब में पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने ये बात कही है.
‍विवादों के घेरे में मंगलेश डबराल
पिछले दिनों हिंदी के वरिष्ठ साहित्यकार मंगलेश डबराल ने फेसबुक पर एक स्टेटस लिखा कि ‘‘हिंदी में कविता, कहानी, उपन्यास बहुत लिखे जा रहे हैं, लेकिन सच यह है कि इन सबकी मृत्यु हो चुकी है। हालांकि ऐसी घोषणा नहीं हुई है और शायद होगी भी नहीं, क्योंकि उन्हें खूब लिखा जा रहा है। लेकिन हिंदी अब सिर्फ ‘जय श्रीराम’ और ‘वंदे मातरम’ तथा ‘मुसलमान का एक ही स्थान- पाकिस्तान या कब्रिस्तान’ जैसी चीजें जीवित हैं। इस भाषा में लिखने की मुझे बहुत ग्लानि है। काश इस भाषा में न जन्मा होता!’’
‍विवादों के घेरे में मंगलेश डबराल
पिछले दिनों हिंदी के वरिष्ठ साहित्यकार मंगलेश डबराल ने फेसबुक पर एक स्टेटस लिखा कि ‘‘हिंदी में कविता, कहानी, उपन्यास बहुत लिखे जा रहे हैं, लेकिन सच यह है कि इन सबकी मृत्यु हो चुकी है। हालांकि ऐसी घोषणा नहीं हुई है और शायद होगी भी नहीं, क्योंकि उन्हें खूब लिखा जा रहा है। लेकिन हिंदी अब सिर्फ ‘जय श्रीराम’ और ‘वंदे मातरम’ तथा ‘मुसलमान का एक ही स्थान- पाकिस्तान या कब्रिस्तान’ जैसी चीजें जीवित हैं। इस भाषा में लिखने की मुझे बहुत ग्लानि है। काश इस भाषा में न जन्मा होता!’’
ज़ोमैटो के मुस्लिम डिलीवरी ब्वॉय से खाना ना लेने वाले को पुलिस वॉर्निंग
पुलिस ने उस व्यक्ति को नोटिस देने का फैसला किया है जिसने ज़ोमैटो के डिलीवरी ब्वॉय के मुसलमान होने की वजह से ऑर्डर कैंसिल कर दिया था.
ज़ोमैटो राइडर ने कहा, ग़रीब हूँ, क्या कर सकता हूँ- प्रेस रिव्यू
ज़ोमैटो के मुसलमान राइडर ने कहा, पूरे घटनाक्रम से दुख पहुंचा. अख़बारों की सुर्खियां.