59 results found for ''महिलाएं''
बंगाल से निर्वाचित सांसदों में से एक-चौथाई महिलाएं
कोलकाता : पश्चिम बंगाल से निर्वाचित हुए 42 सांसदों में से एक चौथाई से अधिक महिलाएं हैं. इनमें से नौ तृणमूल कांग्रेस और दो भाजपा की सांसद हैं. तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी ने लोकसभा चुनाव में 40 प्रतिशत से अधिक महिला उम्मीदवारों को खड़ा किया और उन्होंने चुनाव में अपने पुरुष साथियों से बेहतर प्रदर्शन किया.
बंगाल से निर्वाचित सांसदों में से एक-चौथाई महिलाएं
कोलकाता : पश्चिम बंगाल से निर्वाचित हुए 42 सांसदों में से एक चौथाई से अधिक महिलाएं हैं. इनमें से नौ तृणमूल कांग्रेस और दो भाजपा की सांसद हैं. तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी ने लोकसभा चुनाव में 40 प्रतिशत से अधिक महिला उम्मीदवारों को खड़ा किया और उन्होंने चुनाव में अपने पुरुष साथियों से बेहतर प्रदर्शन किया.
17वीं लोकसभा : एक नजर में पढ़ लें कुछ जरूरी आंकड़े
नयी दिल्ली : सत्रहवीं लोकसभा के लिए हुए आम चुनावों के परिणाम आ गये हैं. पार्टियों की स्थिति स्पष्ट हो गयी. तय हो गया है कि किस पार्टी की सरकार बनेगी. पुरानी सरकार ने इस्तीफा दे दिया है और नयी सरकार कुछ दिनों में शपथ लेगी. इस बार की संसद कैसी होगी? कितने पढ़े-लिखे लोग संसद पहुंचे हैं, कितनी महिलाएं इस बार संसद में पहुंचीं हैं, महिला सांसदों की संख्या घटी है या बढ़ी है? किन दलों की सीटों में इजाफा हुआ है, किसकी सीटें पिछले आम चुनावों की तुलना में कम हुई हैं. किस पेशे से जुड़े लोग संसद में पहुंचे हैं इस बार. हमारे सांसदों में युवा सांसद कितने हैं. एक नजर में पूरी रिपोर्ट देख लीजिए.
17वीं लोकसभा : एक नजर में पढ़ लें कुछ जरूरी आंकड़े
नयी दिल्ली : सत्रहवीं लोकसभा के लिए हुए आम चुनावों के परिणाम आ गये हैं. पार्टियों की स्थिति स्पष्ट हो गयी. तय हो गया है कि किस पार्टी की सरकार बनेगी. पुरानी सरकार ने इस्तीफा दे दिया है और नयी सरकार कुछ दिनों में शपथ लेगी. इस बार की संसद कैसी होगी? कितने पढ़े-लिखे लोग संसद पहुंचे हैं, कितनी महिलाएं इस बार संसद में पहुंचीं हैं, महिला सांसदों की संख्या घटी है या बढ़ी है? किन दलों की सीटों में इजाफा हुआ है, किसकी सीटें पिछले आम चुनावों की तुलना में कम हुई हैं. किस पेशे से जुड़े लोग संसद में पहुंचे हैं इस बार. हमारे सांसदों में युवा सांसद कितने हैं. एक नजर में पूरी रिपोर्ट देख लीजिए.
वोट देने में आधी आबादी ने पुरुषों को पछाड़ा
पटना : राज्य में 2019 के लोकसभा चुनाव में 2014 की तुलना में 4.66 फीसदी अधिक महिलाओं ने वोट दिये. राज्य में इस बार 59.92 फीसदी महिलाओं ने जबकि 55.26 फीसदी पुरुषों ने वोट दिये. पूरे देश में 79 महिलाएं जीतकर लोकसभा में पहुंची हैं. बिहार से तीन महिलाएं चुनाव जीत कर संसद पहुंचीं.
पश्चिम बंगाल से 11 महिलाएं संसद में प्रतिनिधित्व करेंगी
लोकसभा चुनाव के नतीजे आ चुके हैं. भले ही देश के हर राज्य से महिलाओं को चुनावी मैदान में उतारा गया हो, फिर भी संसद में महिलाओं की भागेदारी काफी कम है, जबकि देश की कमान लंबे समय तक महिला प्रधानमंत्री के हाथों में रही है और समय-समय पर राज्यों में मुख्यमंत्री तथा सदन के अध्यक्ष पद पर महिलाएं आसीन रही हैं.
लोकसभा में बदल गये बिहार की महिलाओं के चेहरे, अब रमा, कविता और वीणा बनेंगी बिहार की आधी आबादी की आवाज
पटना : लोकसभा के अंदर बिहार की तीन महिलाओं पर राज्य की आधी आबादी की पूरी बात रखने का जिम्मा होगा. इस बार भी लोकसभा चुनाव में तीन महिलाओं को जीत हासिल हुई हैं. सदन में संख्याबल तो नहीं बदला है, लेकिन चेहरे बदल गये हैं. दो महिलाएं पहली बार संसद पहुंची हैं. 2019 के नतीजे महिला उम्मीदवारों के लिए उत्साहवर्धक रहे. एनडीए ने तीन महिला उम्मीदवारों को मैदान में उतारा था और सभी जीत गयीं. सांसद रमा देवी ने दूसरी बार जीत दर्ज की है. महागठबंधन की सभी छह उम्मीदवार चुनाव हार गयीं. इसमें लोकसभा की स्पीकर रहीं मीरा कुमार और लालू प्रसाद की बेटी एवं राज्यसभा सदस्य मीसा भारती भी शामिल हैं.
लोकसभा में बदल गये बिहार की महिलाओं के चेहरे, अब रमा, कविता और वीणा बनेंगी बिहार की आधी आबादी की आवाज
पटना : लोकसभा के अंदर बिहार की तीन महिलाओं पर राज्य की आधी आबादी की पूरी बात रखने का जिम्मा होगा. इस बार भी लोकसभा चुनाव में तीन महिलाओं को जीत हासिल हुई हैं. सदन में संख्याबल तो नहीं बदला है, लेकिन चेहरे बदल गये हैं. दो महिलाएं पहली बार संसद पहुंची हैं. 2019 के नतीजे महिला उम्मीदवारों के लिए उत्साहवर्धक रहे. एनडीए ने तीन महिला उम्मीदवारों को मैदान में उतारा था और सभी जीत गयीं. सांसद रमा देवी ने दूसरी बार जीत दर्ज की है. महागठबंधन की सभी छह उम्मीदवार चुनाव हार गयीं. इसमें लोकसभा की स्पीकर रहीं मीरा कुमार और लालू प्रसाद की बेटी एवं राज्यसभा सदस्य मीसा भारती भी शामिल हैं.
10 वर्षों के बाद झारखंड को मिलीं दो महिला सांसद
झारखंड को 10 वर्षों के बाद कोई महिला जनप्रतिनिधि मिली हैं. वह भी दो-दो महिला सांसद. दोनों महिलाएं झारखंड के दो दिग्गजों को हराकर सांसद बनी हैं. कोडरमा सीट से भाजपा की अन्नपूर्णा देवी भारी मतों से विजयी हैं. उन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी झाविमो सुप्रीमो व पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी को हराया है.
झारखंड के 19 कोच ए लेवल में उत्तीर्ण
बीसीसीआइ और नेशनल क्रिकेट अकादमी के संयुक्त देखरेख में जेएससीए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में दो से 10 मई तक लेवल ए कोर्स का आयोजन कोच के लिए किया गया था. जिसमें झारखंड के 19 कोच शामिल हुए थे. जिसमें चार महिलाएं थी. बीसीसीआइ द्वारा कोर्स का रिजल्ट जारी कर दिया गया. जिसमें सभी पास हो गये.
छिनताई के आरोप में दो महिलाएं अरेस्ट
ऑफिस टाइम के समय में मेट्रो स्टेशन में सफर के दौरान एक यात्रियों पर्स व बैग से मोबाइल व रुपये गायब करने के आरोप में दो महिलाओं को चारू मार्केट थाने की पुलिस ने गिरफ्तार किया है. पुलिस के हाथ आयी महिलाओं के नाम सीमा वैद्य व माला वैद्य हैं. दोनों‍ बांकुड़ा जिले की रहनेवाली हैं. लेकिन रवींद्र सरोवर इलाके में दोनों रह रही हैं.
हर दिन एक नया चुआं खोदती हैं महिलाएं, तब बुझती है प्यास
भीषण गर्मी से जहां तालाब एवं कुआं सूख गये हैं या सूखने के कगार पर हैं, वहीं लगातार गिरते भू-जल स्तर से चापाकलें जवाब देने लगे हैं. यही स्थिति हमसदा गांव की है. यहां भू-जल स्तर घटने से गांव के दो चापकल ठप हो गये हैं. ऐसे में यहां के ग्रामीणों को चुआं के गंदे पानी से अपनी प्यास बुझानी पड़ रही है.
रमजान माह में मुश्किल, शादी पर भी आफत
प्रखंड के डाड़ीकला एवं चेपाखुर्द में भीषण गर्मी में पानी की घोर किल्लत है. इन गांवों में सुबह होते ही बच्चे से लेकर महिलाएं पानी की तलाश में निकल पड़ते हैं. इन दिनों रमजान का पर्व चल रहा है, वहीं शादी-विवाह का भी मौसम है. ऐसे में ग्रामीणों की दिक्कतें और अधिक बढ़ गयी है.
कोयलांचल में पानी की किल्लत, डेढ़ किलोमीटर दूर से पानी लाने को मजबूर लोग
प्रखंड के कोयलांचल क्षेत्र स्थित डाड़ी कला एवं चेपा खुर्द में पानी की घोर किल्लत हो गई है . सुबह होते ही बच्चे और महिलाएं पानी की खोज में निकल पड़ते हैं. रमजान के दिनों एवं शादी विवाह में पानी की भारी किल्‍लत को लेकर परेशानी बढ़ गई है.डाड़ीकला में जनसंख्या 3500 व चेपा खुर्द में 25 00 है.
पटना : नौ सीटों पर वाेट डालने में महिलाएं रहीं पीछे
पटना : राज्य की 40 लोकसभा क्षेत्रों में 31 लोकसभा क्षेत्रों में महिलाओं ने पुरुषों की तुलना में अधिक मतदान किया. वहीं, राज्य की नौ लोकसभा क्षेत्रों गया, नालंदा, पटना साहिब, पाटलिपुत्र, आरा, बक्सर, सासाराम, काराकाट और जहानाबाद में महिलाओं ने कम मतदान किया. अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी संजय कुमार सिंह ने बताया कि 40 लोकसभा सीटों पर चुनाव में कुल 57.46 प्रतिशत मतदान हुआ है.
महिलाएं परिवार की रीढ़ होती हैं
प्रखंड क्षेत्र के टुकूपानी पंचायत के जामबहार स्कूल मैदान में कहुपानी जीइएल चर्च महिला समिति का 12वां वार्षिक सम्मेलन का आयोजन किया गया. मौके मुख्य अतिथि के रूप में पादरी मनमसीह सुरीन उपस्थित थे. उन्होंने कहा कि महिलाएं परिवार की रीढ़ होती हैं. आज महिलाएं अपने
मोहनपुर के 13 बूथों में देर से शुरू हुई वोटिंग
मोहनपुर प्रखंड के 152 बूथों में 76.06 फीसदी मतदान हुआ. सुबह से ही वोटरों में उत्साह देखा गया. सुबह 11 बजे तक 36 फीसदी मतदान हो चुका था. महिलाएं पहले ही कतार में लग गयी थी. वहीं बुजूर्गों को प्राथमिकता के तौर पर वाेट दिलाया जा रहा था. रमजान में रोजा की वजह से मुस्लिम बहुल बूथों में महिलाएं सुबह 11 बजे तक वोट डाल चुकी थी. हालांकि 13 बूथों में इवीएम व वीवीपैट में आयी खराबी की वजह से देर से मतदान चालू हुआ. जिस कारण 15 मिनट से लेकर डेढ़ घंटे तक मतदान बाधित हुआ है.
मोहनपुर के 13 बूथों में देर से शुरू हुई वोटिंग
मोहनपुर प्रखंड के 152 बूथों में 76.06 फीसदी मतदान हुआ. सुबह से ही वोटरों में उत्साह देखा गया. सुबह 11 बजे तक 36 फीसदी मतदान हो चुका था. महिलाएं पहले ही कतार में लग गयी थी. वहीं बुजूर्गों को प्राथमिकता के तौर पर वाेट दिलाया जा रहा था. रमजान में रोजा की वजह से मुस्लिम बहुल बूथों में महिलाएं सुबह 11 बजे तक वोट डाल चुकी थी. हालांकि 13 बूथों में इवीएम व वीवीपैट में आयी खराबी की वजह से देर से मतदान चालू हुआ. जिस कारण 15 मिनट से लेकर डेढ़ घंटे तक मतदान बाधित हुआ है.
बारासात और दमदम में तृणमूल कांग्रेस का कैंप तोड़ा गया
कोलकाता : दमदम और बारासात लोकसभा केंद्र अंतर्गत दो जगहों पर तृणमूल कैंप पर हमला करने का मामला सामने आया है और साथ ही कुछ अवैध जमायत को केंद्रीय बल के जवानों ने दो मीटर के दायरे से बाहर किया. इस दौरान दोनों जगहों पर केंद्रीय बल के जवानों ने लाठीचार्ज का सहारा लिया. जानकारी के मुताबिक, दमदम केंद्र अंतर्गत कमरहट्टी में मतदान के दौरान 24 नम्बर वार्ड में कुछ महिलाएं कैम्प लगाकर बैठी थीं.
लोकसभा चुनाव 2019: वोट देने में नया रिकॉर्ड बनाने से महिलाएं कुछ ही क़दम दूर
भले ही हर जगह महिलाएं कम दिखती हों लेकिन इस बार पोलिंग बूथ पर वो बढ़ चढ़कर अपनी उपस्थिति दर्ज करा रही हैं.