74 results found for ''प्रयोग''
गांव का विकास नहीं हुआ, करेंगे नोटा का प्रयोग
30 घर और इन घरों में रहने वाले करीब 200 लोगों की दर्द भरी कहानी सुनने वाला कोई नहीं है. चारों तरफ घनघोर जंगलों से घिरा रमकंडा प्रखंड की सीमा पर स्थित बलिगढ़ पंचायत का बैदेशी गांव आजादी के 72 वर्षों बाद भी मूलभूत सुविधाओं से वंचित है. ग्रामीणों की सुध लेने के लिए आजादी के
दलित परिवार को श्मशान गृह से लौटाया, जंगल में हुआ अंतिम संस्कार
शिमला : हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले के फोजल घाटी के एक गांव के श्मशान गृह का कथित तौर पर प्रयोग नहीं करने देने पर एक दलित परिवार को जंगल में बुजुर्ग महिला का अंतिम संस्कार करने पर मजबूर होना पड़ा . धारा गांव की निवासी करीब 100 साल की एक महिला का लंबी बीमारी के बाद बृहस्पतिवार को निधन हो गया था.
'बसपा सुप्रीमो मायावती का टूट चुका है तिलिस्म, दलितों ने ही कर दिया बेदम'
लखनऊ : भारतीय जनता पार्टी ने बसपा सुप्रीमो मायावती पर तंज कसते हुए शुक्रवार को कहा कि पहले चरण के चुनाव ने ही मायावती को हार का आभास करा दिया है. भाजपा के उत्तर प्रदेश महामंत्री विद्यासागर सोनकर ने कहा कि मायावती अपनी हार के कारणों के लिए बहानेबाजी का पूर्वाभ्यास करने लगी हैं. सोनकर ने कहा कि मायावती का तिलस्म टूट चुका है. लम्बे समय तक दलितों के वोटों के दम पर सौदेबाजी करने वाली मायावती को दलितों ने ही बेदम कर दिया है. चुनाव परिणाम आने के बाद अपनी हार पर बोलने के लिए मायावती ने ईवीएम और प्रशासन जैसे शब्दों का प्रयोग अभी से शुरू कर दिया है.
पहला चरण : नवादा, जमुई, औरंगाबाद और गया में हुआ मतदान, पड़े 53 फीसदी वोट, 2.27% पिछली बार से अधिक
पटना : लोकसभा चुनाव के पहले चरण में राज्य की चार सीटों गया, जमुई, नवादा और औरंगाबाद में गुरुवार को वोट डाले गये. कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच शाम छह बजे तक 53.06% मतदाताओं ने मताधिकार का प्रयोग किया, जो 2014 के लोकसभा चुनाव (50.79%) से 2.27% अधिक है.
पहला चरण : नवादा, जमुई, औरंगाबाद और गया में हुआ मतदान, पड़े 53 फीसदी वोट, 2.27% पिछली बार से अधिक
पटना : लोकसभा चुनाव के पहले चरण में राज्य की चार सीटों गया, जमुई, नवादा और औरंगाबाद में गुरुवार को वोट डाले गये. कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच शाम छह बजे तक 53.06% मतदाताओं ने मताधिकार का प्रयोग किया, जो 2014 के लोकसभा चुनाव (50.79%) से 2.27% अधिक है.
बच्चे चलायेंगे मतदाता जागरूकता अभियान
अररिया : लोकसभा चुनाव को लेकर अब स्कूली बच्चे मतदाता जागरूकता रैली निकाल कर मतदाताओं को अपने मताधिकार का प्रयोग करने के लिए प्रेरित करेंगे. तीन दिवसीय कार्यक्रम में 16 अप्रैल को मुख्यालय के सभी मध्य विद्यालय व निजी विद्यालय के छात्र-छात्राएं सुबह आठ बजे प्रभात फेरी निकाल कर शहर के विभिन्न मार्गों का भ्रमण करेगा. 17 अप्रैल को माध्यमिक व उच्च माध्यमिक विद्यालय के छात्र-छात्राएं साइकिल रैली निकाल कर मतदाताओं को मतदान करने के लिए जागरूक करेंगे.
बच्चे चलायेंगे मतदाता जागरूकता अभियान
अररिया : लोकसभा चुनाव को लेकर अब स्कूली बच्चे मतदाता जागरूकता रैली निकाल कर मतदाताओं को अपने मताधिकार का प्रयोग करने के लिए प्रेरित करेंगे. तीन दिवसीय कार्यक्रम में 16 अप्रैल को मुख्यालय के सभी मध्य विद्यालय व निजी विद्यालय के छात्र-छात्राएं सुबह आठ बजे प्रभात फेरी निकाल कर शहर के विभिन्न मार्गों का भ्रमण करेगा. 17 अप्रैल को माध्यमिक व उच्च माध्यमिक विद्यालय के छात्र-छात्राएं साइकिल रैली निकाल कर मतदाताओं को मतदान करने के लिए जागरूक करेंगे.
छह बजे से ही मतदान केंद्र पर पहुंचने लगे वोटर
गुलशन कश्यप, जमुई : बेंगलुरु में रहता हूं तो क्या हुआ, मताधिकार हमारा सबसे बड़ा अधिकार है और संविधान के अनुसार यह एकमात्र ऐसा अधिकार है जो हम सबों को एक बराबर बनाता है. इसका प्रयोग करने के लिए तो मुझे घर आना ही था. कुछ ऐसी मानसिकता के साथ नवडीहा के रहने वाले मानस मयंक सुबह 9:25 बजे मतदान केंद्र की तरफ आगे बढ़ रहे हैं.
छह बजे से ही मतदान केंद्र पर पहुंचने लगे वोटर
गुलशन कश्यप, जमुई : बेंगलुरु में रहता हूं तो क्या हुआ, मताधिकार हमारा सबसे बड़ा अधिकार है और संविधान के अनुसार यह एकमात्र ऐसा अधिकार है जो हम सबों को एक बराबर बनाता है. इसका प्रयोग करने के लिए तो मुझे घर आना ही था. कुछ ऐसी मानसिकता के साथ नवडीहा के रहने वाले मानस मयंक सुबह 9:25 बजे मतदान केंद्र की तरफ आगे बढ़ रहे हैं.
... और मताधिकार से वंचित रह गयी वृद्ध महिला
मुंगेर : एक ओर जहां पिछले कई महीने से नये तथा छूटे हुए मतदाताओं का नाम मतदाता सूची में जोड़ने का काम चल रहा था. वहीं दूसरी ओर जो मतदाता पूर्व के सभी चुनाव में अपने मताधिकार का प्रयोग करते आ रहे थे, उसका नाम ही मतदाता सूची से गायब कर दिया गया. ऐसा ही एक मामला मध्य विद्यालय रमनकाबाद के मतदान केंद्र संख्या 217 पर देखने को मिला. जहां रमनकाबाद तूरी टोला निवासी जगदेव मांझी की 60 वर्षीय पत्नी सिया देवी को मतदान कर्मियों ने वोट नहीं डालने दिया.
... और मताधिकार से वंचित रह गयी वृद्ध महिला
मुंगेर : एक ओर जहां पिछले कई महीने से नये तथा छूटे हुए मतदाताओं का नाम मतदाता सूची में जोड़ने का काम चल रहा था. वहीं दूसरी ओर जो मतदाता पूर्व के सभी चुनाव में अपने मताधिकार का प्रयोग करते आ रहे थे, उसका नाम ही मतदाता सूची से गायब कर दिया गया. ऐसा ही एक मामला मध्य विद्यालय रमनकाबाद के मतदान केंद्र संख्या 217 पर देखने को मिला. जहां रमनकाबाद तूरी टोला निवासी जगदेव मांझी की 60 वर्षीय पत्नी सिया देवी को मतदान कर्मियों ने वोट नहीं डालने दिया.
धन-बल के प्रयोग पर विशेष नजर : डीएम
: लोकसभा चुनाव में धन-बल के प्रयोग पर विशेष नजर रहेगी और शिकायत मिलने पर कार्रवाई की जायेगी. आदर्श आचार संहिता का जिले में सख्ती के साथ अनुपालन कराया जा रहा है. उक्त बातें जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह डीएम रमण कुमार गुरुवार को समाहरणालय परिसर स्थित प्रेस क्लब के सभागार में पत्रकारों से बातचीत के दौरान कही.
चुनाव को लेकर युवाओं में खासा उत्साह लोकतंत्र की मजबूती के लिए करेंगे वोट
लोकसभा चुनाव को लेकर अभी से ही युवा मतदाताओं में काफी उत्साह देखा जा रहा है. खास कर वैसे मतदाता जो पहली बार लोकतंत्र के महापर्व में भाग लेकर अपने मत का प्रयोग करेंगे. चुनाव को लेकर प्रभात खबर ने कई युवाओं से बात की. अनिल इग्नेश ने कहा कि वह पहली बार अपने मत का प्रयोग करेंगे. राष्ट्रहित के लिए सोच समझ कर अपना मत देंगे. स्वच्छ छवि के नेता को ही अपना बहुमूल्य वोट देंगे. युवा गुड्डू करमाली का कहना है कि मतदान देना सबसे बड़ा अधिकार है.
l36 घंटे के उपवास के बाद भी व्रतियों में दिखा मतदान के लिए जज्बा, एक साथ किया सूर्योपासना व लोकतंत्र का महापर्व
औरंगाबाद सदर : 36 घंटे का कठिन निर्जला व्रत व भगवान सूर्य में असीम आस्था के बीच सशक्त राष्ट्र के निर्माण को लेकर व्रतियों ने सूर्योपासना व लोकतंत्र के महापर्व में एक साथ अपनी भागीदारी निभायी. छठ पर्व व मतदान एक ही दिन होने के बावजूद मतदाताओं में अपने मताधिकार के प्रयोग को लेकर खासा उत्साह दिखा.
लोकसभा चुनाव : भयमुक्त मतदान के लिए चौपारण के 7 बूथों पर होगी हेलीकॉप्टर से निगरानी
लोकसभा चुनाव को भयमुक्त व शत प्रतिशत मतदान कराने के लिए प्रशासन हर हथकंडे को अपनायेगी. हजारीबाग जिले के झारखंड-बिहार के सीमा पर बसे चौपारण प्रखंड के जंगल-पठार तथा दुर्गम नक्सल प्रभावित क्षेत्र के सात बूथों पर मतदान के दिन हेलीकॉप्टर का प्रयोग होगा. जिसमें मुख्य रूप से चोरदाहा, भगहर एवं दैहर पंचायत के 7 बूथों को चिन्हित किया गया है.
लोकसभा चुनाव 2019: गूगल ने डूडल बनाकर मतदाताओं को किया प्रेरित, दिया ये संदेश
लोकसभा चुनाव 2019 के पहले चरण की मतदान प्रक्रिया गुरुवार सुबह से शुरू हो गई है. वोटिंग को लेकर मतदाताओं में जबरदस्‍त उत्‍सा‍ह देखा जा रहा है. लोकतंत्र के इस महापर्व पर दुनिया का सबसे बड़ा सर्च इंजन गूगल भी अपनी अहम भूमिका निभा रहा है. गूगल ने डूडल के माध्‍यम से मतदाताओं को बढ़-चढ़कर वोट देने के लिए प्रेरित किया है. साथ ही बताया है कि लोकतंत्र में मतदान की कितनी अहमियत है और वे लोग अपने मत का कैसे प्रयोग कर सकते हैं.
193 मतदान केंद्रों पर 179512 मतदाता करेंगे अपने मताधिकार का प्रयोग
झाझा : लोकसभा चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न कराने को लेकर झाझा में 193 मतदान केंद्रों पर 179512 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे, जिसमें 95177 पुरुष और 84335 महिला मतदाता है. जबकि 2615 मतदाता पहली बार इस मतदान में अपने मत का प्रयोग करेंगे. प्रखंड के ग्रामीण क्षेत्रों में 163 और नगर क्षेत्र में 30 मतदान केंद्र हैं.
193 मतदान केंद्रों पर 179512 मतदाता करेंगे अपने मताधिकार का प्रयोग
झाझा : लोकसभा चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न कराने को लेकर झाझा में 193 मतदान केंद्रों पर 179512 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे, जिसमें 95177 पुरुष और 84335 महिला मतदाता है. जबकि 2615 मतदाता पहली बार इस मतदान में अपने मत का प्रयोग करेंगे. प्रखंड के ग्रामीण क्षेत्रों में 163 और नगर क्षेत्र में 30 मतदान केंद्र हैं.
1965 मतदान केंद्रों पर 17 लाख मतदाता करेंगे मताधिकार का प्रयोग
औरंगाबाद नगर : औरंगाबाद संसदीय क्षेत्र में गुरुवार को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच 1965 मतदान केंद्रों पर वोट डाले जायेंगे. इसकी सारी प्रशासनिक तैयारी कर ली गयी है. वहीं मतदान केंद्रों के लिए मतदानकर्मी ईवीएम व वीवीपैट लेकर बुधवार को जिला मुख्यालय के सच्चिदानंद कॉलेज से रवाना हुए. बूथ पर रवाना होने से पूर्व जिलाधिकारी राहुल रंजन महिवाल, पुलिस अधीक्षक दीपक वर्णवाल, एसडीओ प्रदीप कुमार ने मतदान कर्मियों को कई दिशा-निर्देश दिया.
11 विकल्पों के आधार पर वोटिंग कार्ड के बगैर भी कर सकेंगे मतदान
नवादा नगर : चुनाव के महापर्व में हर वोटर अपने मताधिकार का प्रयोग आसानी से कर सके इसके लिए पहचान पत्र उपलब्ध कराने में छूट दी गयी है. वोटर आईडी कार्ड यदि किसी वोटर के पास नहीं है या ढुंढ़ने पर नहीं मिल रहा है तो घबराने की जरूरत नहीं है. वोटर आयोग के द्वारा घोषित 11 अन्य फोटो पहचान पत्रों की मदद से अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकते हैं.