7 results found for ''चंद्रमा''
ज्योतिष जिज्ञासा : भाग्यशाली होते हैं पुनर्वसु नक्षत्र में जन्म लेनेवाले
आपकी राशि धनु और लग्न वृष है. अष्टम भाव में चंद्रमा विराजकर जहां आपके स्वभाव को नाटकीयता के साथ संवेदनशीलता भी प्रदान कर रहे हैं, वहीं शनि की उपस्थिति आपके मनोभाव को विचित्र बना कर आपके व्यक्तिगत संबंधों को प्रभावित कर रही है. साथ षष्ठ भाव में बुध की मौजूदगी आपके गलत फैसले की दास्तान लिखने जा रही है.
NASA से पहले ISRO ने ढूंढ लिया था विक्रम लैंडर का लोकेशन, इसरो प्रमुख के. सिवन ने किया दावा
चंद्रमा की सतह पर दुर्घटनाग्रस्त हुए चंद्रयान-2 के लैंडर विक्रम का लोकेशन नासा (NASA) से पहले भारतीय स्पेस रीसर्च ऑर्गनाइजेशन(ISRO) ढूंढ लिया था. इस बात का दावा खुद इसरो प्रमुख के सिवन ने किया है
एक भारतीय जिसने NASA और ISRO को पीछे छोड़ दिया
भारत के शौकिया अंतरिक्ष वैज्ञानिक षनमुगा सुब्रमण्यम ने चेन्नई स्थित अपनी ‘प्रयोगशाला'' में बैठकर चंद्रयान-2 के लैंडर विक्रम के अवशेषों को खोजने में नासा और इसरो दोनों को पीछे छोड़ दिया. उन्होंने अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी के चंद्रमा की परिक्रमा लगाने वाले अंतरिक्ष यान द्वारा भेजे चित्रों की मदद से यह खोज की.
एक भारतीय जिसने NASA और ISRO को पीछे छोड़ दिया
भारत के शौकिया अंतरिक्ष वैज्ञानिक षनमुगा सुब्रमण्यम ने चेन्नई स्थित अपनी ‘प्रयोगशाला'' में बैठकर चंद्रयान-2 के लैंडर विक्रम के अवशेषों को खोजने में नासा और इसरो दोनों को पीछे छोड़ दिया. उन्होंने अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी के चंद्रमा की परिक्रमा लगाने वाले अंतरिक्ष यान द्वारा भेजे चित्रों की मदद से यह खोज की.
ग्रहों के योग से बदलता है मानव स्वभाव
मानव स्वभाव कभी स्थिर नहीं रहता. वह हमेशा बदलता रहता है. ज्योतिष के अनुसार ग्रहों की बदलती स्थिति के कारण मानव स्वभाव और कर्म भी बदल जाता है, किंतु गोचर में ग्रहों की चाल में परिवर्तन मनुष्यों के कर्मगत स्वभाव को भी बदल देता है. ज्योतिष में कर्म का भाव दशम है, उस पर बैठने तथा दृष्टि रखने वाले ग्रहों पर निर्भर करता है कर्म. कर्म स्थान से नवम यानी छठा भाव या चंद्रमा से दशम से कर्म का प्रारंभ, रुचि, भाग्य उन्नति आदि के विषय में जानकारी मिलती है.
ग्रहों के योग से बदलता है मानव स्वभाव
मानव स्वभाव कभी स्थिर नहीं रहता. वह हमेशा बदलता रहता है. ज्योतिष के अनुसार ग्रहों की बदलती स्थिति के कारण मानव स्वभाव और कर्म भी बदल जाता है, किंतु गोचर में ग्रहों की चाल में परिवर्तन मनुष्यों के कर्मगत स्वभाव को भी बदल देता है. ज्योतिष में कर्म का भाव दशम है, उस पर बैठने तथा दृष्टि रखने वाले ग्रहों पर निर्भर करता है कर्म. कर्म स्थान से नवम यानी छठा भाव या चंद्रमा से दशम से कर्म का प्रारंभ, रुचि, भाग्य उन्नति आदि के विषय में जानकारी मिलती है.
योगापट्टी के चार राजस्व कर्मचारियों का वेतन रुका
ऑनलाइन दाखिल-खारिज आवेदनों के निपटारे में लापरवाही बरतने के मामले में योगापट्टी के चार राजस्व कर्मचारियों के वेतन भुगतान पर रोक लगा दी गयी है. वहीं इन चारों से जबाब-तलब भी किया गया है. जिन राजस्व कर्मचारियों के वेतन भुगतान पर रोक लगायी गयी है, उसमें विनय कुमार चौधरी, राजकुमार प्रसाद, चंद्रमा मांझी व बलिराम पांडेय शामिल हैं.