12 results found for ''गंदगी''
न अतिक्रमण हटा, न पॉलीथिन ही पूरा बैन, गलियों में घूम रहे आवारा पशु
शहर को आवारा पशु, अतिक्रमण व पॉलीथिनमुक्त बनाने के नगर निगम का अभियान फिर से ठंडा पड़ गया है. नतीजतन शहर की स्थिति सुधरने के बजाय बिगड़ती ही जा रही है. गंदगी के साथ चहुंओर जाम लग रहा है. नाला जाम के कारण शहर के कई प्रमुख सड़कें व गली-मुहल्लों में घुटने भर पानी लगा है.
रांची : कोकर इंडस्ट्रियल एरिया में जगह-जगह गंदगी का अंबार, नालियां जाम, स्ट्रीट लाइट भी खराब
है कोई देखनेवाला!. सड़क किनारे सालों से पड़े हैं कई वाहन, आने-जाने में होती है परेशानी रांची : कोकर-कांटाटोली मार्ग से कोकर इंडस्ट्रियल एरिया में प्रवेश करते ही लोगों का कचरों से स्वागत होता है. ठीक यही नजारा लालपुर-कोकर मार्ग की ओर से प्रवेश करने पर दिखता है. झारखंड स्मॉल इंडस्ट्रीज एसोसिएशन (जेसिया) के कार्यालय के बाहर कचरों का अंबार लगा हुआ है, पर इस पर अभी तक किसी अधिकारी की नजर नहीं पड़ी है. जेसिया कार्यालय वाली पूरी सड़क पर ही जगह-जगह कचरों का ढेर लगा है.
डेढ़ माह बाद भी नहीं निकली निविदा, सफाई व्यवस्था बदहाल
एक ओर सरकार द्वारा स्वच्छता अभियान चलाकर लोगों को साफ सफाई के प्रति जागरूक किया जा रहा है. वहीं शहर में पिछले कई दिनों से सफाई व्यवस्था चरमरायी हुई है. सफाई के अभाव में जगह-जगह गंदगी का ढेर लगे हुए हैं. दरअसल, पिछले जून माह में शहर में सफाई का कार्य कर रहे एनजी
स्वच्छता के लिए चलायें जनजागरण अभियान
रांची : रांची विवि स्नातकोत्तर वाणिज्य विभाग में शुक्रवार को एनएसएस के तत्वावधान में स्वच्छता पखवाड़ा के तहत संगोष्ठी आयोजित की गयी. इस मौके पर विभागाध्यक्ष डॉ जीपी त्रिवेदी ने कहा कि देश के सभी लोगों में स्वच्छता के लिए व्यापक जनजागरण कार्यक्रम चलाना होगा. दुनिया के जो भी देश स्वच्छ दिखते हैं, उसका मुख्य कारण है कि वहां के लोग न तो गंदगी करते हैं और न ही करने देते हैं.
डीएमसीएच के आउटसोर्सिंग सफाई कर्मी गये हड़ताल पर
डीएमसीएच में आउटसोर्सिंग पर कार्यरत सभी सफाई कर्मी अपनी मांगों को लेकर गुरुवार से हड़ताल पर चले गये. कर्मियों के कार्य बहिष्कार से अस्पताल परिसर में चारों तरफ गंदगी फैल गयी है. ओपीडी, आपताकालीन, सर्जरी, आर्थो, मेडिसिन, गायनी एवं अन्य विभागों में मेडिकल वेस्टेज व कुड़ा- कचड़ा पसर गया है.
ध्वस्त सड़कें, जमींदोज नाला व गंदगी बनी है गुलाबबाग मंडी की पहचान
पूर्णिया : ध्वस्त सड़कें, जमींदोज नाला, टूटी चहारदीवारी, गंदगी और जलजमाव गुलाबबाग मंडी की पहचान बन गयी है. इन समस्याओं को लेकर आवाज उठाने वाले व्यापारियों को कई-कई बार योजनाओं-परियोजनाओं का सब्जबाग दिखाया गया.
गंदगी के कारण जन्म लेती हैं विभिन्न प्रकार की बीमारियां : डॉ भोला चौधरी
केसठ : राष्ट्रीय फाइलेरिया उन्मूलन कार्यक्रम के तहत पीएचसी केसठ में प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ भोला चौधरी ने बुधवार को बच्चों को दवा खिला कर कार्यक्रम का प्रारंभ किया. इस दौरान फाइलेरिया रोग के लक्षण, रोग होने के कारण, मच्छरों की रोकथाम, फाइलेरिया से बचाव के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी. इसके साथ ही लोगों को दवा भी खिलायी गयी.
एडवांस राशि के लंबित भुगतान ने नालों की सफाई पर लगाया ब्रेक
गया : शहर के सभी 53 वार्डों में नालियों की सफाई का काम पूरी तरह ठप पड़ा है. इसके कारण नालियों में गंदगी बजबजा रही है वहीं मौसमी बीमारियों के फैलने का खतरा भी बढ़ गया है. लेकिन इसे लेकर नगर निगम प्रशासन गंभीर नहीं है. यह स्थिति तब है जब पितृपक्ष मेले का समय नजदीक आ रहा है.
कंट्रोल रूम से दुम्मा बॉर्डर तक चला स्वच्छता अभियान
कटोरिया : डीएम कुंदन कुमार के निर्देश पर मंगलवार को वरीय अधिकारियों की टीम ने जिला नियंत्रण कक्ष से लेकर दुम्मा बॉर्डर तक सघन रूप से स्वच्छता अभियान चलाया. इस क्रम में स्वच्छता रथ व स्वच्छता दूतों को साथ लेकर अधिकारियों ने कच्ची कांवरिया पथ एवं सभी सरकारी धर्मशालाओं से गंदगी व कूड़ा-कचरा को साफ करवाया.
बस पड़ाव बना कूड़ेदान, सड़क पर उतरते हैं यात्री
रामकृष्ण, राजधनवार : यात्री सुविधाओं से वंचित धनवार बस पड़ाव में फैली गंदगी स्वच्छता अभियान का मुंह चिढ़ा रही है. बारिश के मौसम में यह बस पड़ाव तालाब में तब्दील हो जाता है, इस कारण यहां वाहनों का प्रवेश नहीं होता है. वाहनों के ठहराव नहीं होने के कारण इस बस पड़ाव का उपयोग कूड़ेदान के रूप में हो रहा है.
मच्छड़ उत्पादन केंद्र बन गया हाबरा अस्पताल : सुजन
कोलकाता : हाबरा स्टेट जनरल अस्पताल में अभी 136 मरीज भर्ती हैं. यहां किसी तरह की व्यवस्था नहीं है, बल्कि चारों तरफ गंदगी है. अस्पताल परिसर में ना ही रोगियों को मच्छड़दानी की व्यवस्था है और ना ही आस-पास साफ-सफाई है, यह अस्पताल मच्छड़ उत्पादन केंद्र बन गया है, यहां रोगी ठीक होने की बजाय और बीमार होते जा रहे हैं. ये बातें माकपा विधायक दल के नेता सुजन चक्रवर्ती ने कहीं.
छात्राओं के बेड पर गंदगी फेंकने की हुई पुष्टि
बोकारो : डीइओ नीलम आइलिन टोप्पो व डीएसइ रेणुका तिग्गा ने गुरुवार को कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय में छात्राओं के घटिया खाना देने की शिकायत थाना में करने के मामले में जांच की. दोनों पदाधिकारियों ने जरीडीह प्रखंड के बाराडीह स्थित कस्तूरबा पहुंचकर छात्राओं व शिक्षकों से पूरे मामले की जानकारी ली.