110 results found for ''किसान''
किसानों की समस्या को लेकर सीएम से मिली अंबा
रांची : बड़कागांव के किसानों की समस्याओं को लेकर विधायक अंबा प्रसाद ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से मुलाकात की. सीएम को ज्ञापन सौंप कर विधायक ने पूर्व सरकार में कंपनी द्वारा किसानों पर किये गये पुलिसिया अत्याचार, हत्या और झूठे मुकदमों की एसआइटी से निष्पक्ष जांच कराने और प्रभावित होने वाले वैसे ग्रामीणों को जिनकी जमीन दो डिसमिल से कम है, उनको भी नौकरी दिलाने की मांग रखी.
बजट में किसानों के खाते में खाद सब्सिडी देने का इंतजाम कर सकती है सरकार
केंद्र सरकार आगामी आम बजट में किसानों के खाते में खाद सब्सिडी डालने का इंतजाम कर सकती है. यह अनुमान जताते हुए इफको के प्रबंध निदेशक डॉ यूएस अवस्थी ने यहां फूलपुर इकाई में कहा कि इससे किसान अपनी पसंद से खाद खरीदने के लिए स्वतंत्र हो जायेगा. उन्होंने कहा कि किसान सम्मान निधि के तहत किसानों को 49,000 करोड़ रुपये अब तक वितरित किये जा चुके हैं. इससे साबित हो गया है कि जिन खाद पर सरकार सब्सिडी देती है, उनके लिए प्रत्यक्ष लाभ अंतरण की व्यवस्था हो सकती है.
अच्छे विचारों के बीज के लिए मन की जमीन तैयार करें
एक किसान बीज बोने निकला. जब वह बुवाई कर रहा था तो कुछ बीज राह के किनारे जा पड़े. चिड़िया आयीं और उन्हें चुग गयीं. थोड़े बीज चट्टानी जमीन पर जा गिरे. वहां मिट्टी बहुत उथली थी, बीज तुरंत उगे. लेकिन वहां मिट्टी तो गहरी थी नहीं इसलिए जब सूरज चढ़ा तो वे पौधे झुलस गये. क्योंकि उन्होंने ज्यादा जड़ें तो पकड़ी नहीं थीं इसलिए वे सूख कर गिर गये. बीजों का एक हिस्सा कंटीली झाड़ियों में जा गिरा, झाड़ियां बड़ी हुईं और उन्होंने उन पौधों को दबोच लिया.
तमाड़ : हाथियों ने तमाड़ के चार गांवों में मचाया उत्पात
खलिहान में रखे धान चट कर गये, किसान परेशान तमाड़ : हाथियों का उत्पात जारी है. गुरुवार की रात चार गांवों में हाथियों ने उत्पात मचाया. इनमें बांडवा, जाराडीह, बारेडीह व रोलाड़ीह गांव शामिल हैं. बारेडीह में तड़के शौच के लिए निकली एक महिला हाथी की चपेट में आने से बाल-बाल बची. वहीं हाथियों ने बांडवा गांव के मुहाने स्थित खलिहानों को निशाना बनाया. कृषकों के वर्ष भर की खुराक हाथी चट कर गये.
मुरलीधर के निधन पर कॉलेज में शोक सभा
किसान मजदूर इंटर महाविद्यालय गिद्दी सी में शुक्रवार को शोक सभा का आयोजन किया गया. शोक सभा में महाविद्यालय के संस्थापक सचिव मुरलीधर विश्वकर्मा के निधन पर मौन रखा गया और उन्हें याद किया गया.
किसानों की आमदनी बढ़ा रहा पश्चिम बंगाल, सब्जी उत्पादन में यूपी को पछाड़ने के बाद बना अव्वल
कोलकाता : वित्त वर्ष 2018-19 के दौरान सब्जी उत्पादन मामले उत्तर प्रदेश को पीछे छोड़ते हुए पश्चिम बंगाल सबसे आगे रहा है, जबकि गुजरात सबसे निचले स्थान पर चला गया. केंद्र सरकार की ओर से हाल ही में जारी बागवानी उत्पादन आंकड़ों में यह जानकारी दी गयी है.
खलिहान में लगी आग, 300 बोझे धान जल कर हुआ राख
कुटुंबा : अंबा थाना क्षेत्र के बलिया टोले लोहा बिगहा गांव में एक खलिहान में आग लग गयी. घटना बुधवार की रात की है. इस घटना में उक्त गांव के किसान रामेश्वर भुइंया का 300 बोझा धान जल कर राख हो गया. आग कैसे लगी इसकी जानकारी किसी को नहीं है.
शीतलहर से गेहूं की फसल में पीलिया रोग का प्रभाव
किशनगंज: लगातार जारी ठंड की वजह से जहां आमलोग परेशान हैं, वहीं इससे कृषि कार्य भी प्रभावित हो रहा है. ठंड की वजह से गेहूं, सरसों एवं आलू की फसलों को नुकसान हो रहा है. साथ ही किसानों का अन्य कृषि कार्य भी प्रभावित हो रहा है. लगातार ठंड के कारण गेहूं की फसलें पीला होने लगा है. वहीं अत्यधिक ठंढ की वजह से आलू की फसलें झुलसने लगी है.
लड़की जन्म पर महोत्सव मनाना चाहिए, ताकि लिंग अनुपात में हो कमी: बीडीओ
लखीसराय : जिले के बड़हिया ई-किसान भवन में गुरुवार को बाल विकास परियोजना की ओर से बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ पर जनप्रतिनिधियों की बैठक आयोजित की गयी, जिसकी अध्यक्षता बीडीओ नीरज कुमार ने किया. जिसमें प्रभारी सह पिपरिया सीडीपीओ श्वेता रानी, सीओ रामआगर ठाकुर, प्रभारी चिकित्सक डॉ विनोद कुमार सिंह, राजस्व पदाधिकारी पुष्पलता कुमारी सहित जनप्रतिनिधियों उपस्थित थे.
बोले मुख्यमंत्री नीतीश, प्रीपेड बिजली मीटर लगाने का तेजी से हो काम, लक्ष्य से अधिक लगाएं पौधे
पटना : राज्य में प्रीपेड बिजली मीटर तेजी से लगाये जायेंगे. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार को अधिकारियों को इसका निर्देश दिया. मुख्यमंत्री आवास पर उन्होंने जल-जीवन-हरियाली अभियान की समीक्षा बैठक की. इसमें सीएम ने पुआल नहीं जलाने और मौसम के अनुकूल फसलचक्र के लिए किसानों को प्रेरित करने और पॉपुलर पेड़ों का बेहतर बाजार उपलब्ध करवाने का टास्क अफसरों को सौंपा.
गौ संरक्षण केंद्र बन गया किसानों के गले की फांस
नगरा : विकास खंड क्षेत्र के रघुनाथपुर गांव में बना गौ संरक्षण केंद्र किसानों के गले की फांस बन गया है. कभी बछड़े की मौत से दुर्गंध तो कभी केंद्र मे लाये बछड़े किसानों की फसलों के नुकसान से किसान आजिज है. गांव के पांच दर्जन किसानों ने गुरुवार को जिलाधिकारी को पत्र भेजकर ध्यान आकृष्ट कराया है.
फुलवरिया में सड़क दुर्घटना में किसान की मौत, मचा कोहराम
फुलवरिया : बिरछा बथुआ गांव में मीरगंज-भागीपट्टी समउर मुख्य पथ पर बुधवार की देर शाम किसी वाहन ने एक किसान को रौंद दिया, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया. दुर्घटना के बाद चालक वाहन लेकर फरार हो गया. परिजन घायल किसान को मरछिया देवी रेफरल अस्पताल ले गये, जहां से चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए सदर अस्पताल गोपालगंज के लिए रेफर कर दिया.
बौंसी में 2.50 करोड़ की लागत से फूड प्रोसेसिंग उद्योग की होगी स्थापना
बांका : टमाटर, मशरूम सहित अन्य फसल उत्पादन करने वाले किसान को अब अपने फसल की चिंता नहीं करनी होगी. डीएम कुंदन कुमार के प्रयास से जल्द ही फूड प्रोसेसिंग इंडस्ट्री की स्थापना की जायेगी. पंजाब प्रांत के मोहाली में अवस्थित डीके फूड प्रोसेसिंग कंपनी अपनी एक शाखा बौंसी के अपूर्ण अभिजीत प्लांट के समीप स्थापित करने जा रही है.
केंद्र और राज्य की सरकारें हर मोर्चे पर हुई विफल
मंसूरचक : गरीब, किसान, बेघर को वासगीत का पर्चा दिलवाने सहित अन्य जन समस्याओं को लेकर संघर्ष करते हुए लाल झंडा के सिपाही कॉमरेड देव कुमार, ग्यासउद्दीन,देवनारायण सिंह,जगदीश झा,योगी यादव के अतिरिक्त किसानों के मसीहा कॉमरेड भासो कुंवर ने अपनी शहादत देकर लाल झंडा को बुलंद करने का काम किया है. उक्त बातें मार्क्सवादी चिंतक गणेश शंकर विद्यार्थी ने बहरामपुर चौपाल परिसर में जनसभा को संबोधित करते हुए कहीं. उन्होंने कहा कि बछवाड़ा में शहीदों ने अपनी जिम्मेदारियों को युवा नेता रामोद कुंवर के कंधे पर छोड़ गये हैं जिसका निर्वहण रामोद कुंवर ने करते रहे हैं.
बड़े व भारी वाहनों के शहर में प्रवेश पर रहेगी रोक
बिहारशरीफ : शहरवासियों को सड़क जाम से मुक्ति दिलाने की ठोस पहल बिहार राज्य पुल निर्माण निगम लिमिटेड ने की है, जिसके तहत किसान सिनेमा सोहसराय के समीप पुराने पुल को तोड़कर नया आरसीसी पुल का निर्माण कार्य शुरू कर दिया है. नये पुल के निर्माण होने तक इस पथ को पूर्णत: बड़े एवं भारी वाहनों के लिए बंद कर दिया गया है. जबकि, छोटे वाहनों के परिचालन के लिए पुराने पुल के बगल में डायवर्सन बनाया गया है.
सहकारिता से किसानी को कर रहे हैं मजबूत : मंत्री
दी नेशनल सेंट्रल को-ऑपरेटिव बैंक की वार्षिक सभा बुधवार को आयोजित की गयी. इसका उद्घाटन सूबे के सहकारिता मंत्री राणा रणधीर सिंह ने किया. उन्होंने कहा कि सूबे की सरकार किसानों के विकास के लिये संकल्पित है. सहकारिता को आंदोलन का रूप देकर किसानों को मजबूत करने के लिये
वितरित हुआ मृदा स्वास्थ्य कार्ड
बड़हरिया : प्रखंड के जगतपुरा गांव में राष्ट्रीय संधारणीय कृषि मिशन के तत्वावधान में मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना के मृदा स्वास्थ्य कार्ड को पढ़ने की विधि, अनुशंसित उर्वरक अनुशंसा व प्रत्यक्षण आयोजन हेतु मेला सह प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया.इसकी अध्यक्षता बीएओ रवि शुक्ला ने की. साथ ही, किसानों के बीच मृदा स्वास्थ्य कार्ड वितरित किया गया.
किसान कॉलेज के दो व्याख्याता और एक आदेशपाल सेवामुक्त
शहर से सटे बरियापुर स्थित आरकेपीएलडी किसान कॉलेज के प्रबंधन एवं शासी निकाय ने संयुक्त रूप से कॉलेज के दो व्याख्याताओं व एक आदेशपाल को बर्खास्त कर दिया है. कॉलेज के प्राचार्य सह सचिव कौशल किशोर सिंह ने बयान जारी कर बताया कि 20 जनवरी को कॉलेज के प्राचार्य कक्ष में शासी निकाय एवं प्रबंध समिति की बैठक संपन्न हुई, जिसमें कॉलेज के व्याख्याता प्रो नरेंद्र कुमार व प्रो रामप्रीत महतो समेत आदेशपाल शंकर ठाकुर को बर्खास्त करने का सर्वसम्मति निर्णय लिया गया.
पटना : अब 75 की जगह 81 कृषि यंत्रों पर मिलेगा अनुदान
पटना : मीठापुर कृषि प्रक्षेत्र में दो दिवसीय कृषि यांत्रिकीकरण मेले की शुरुआत की गयी. मेले का उद्घाटन कृषि मंत्री डाॅ प्रेम कुमार ने किया. मौके पर उन्होंने कहा कि राज्य के किसानों को वर्ष 2019-20 में कृषि यांत्रिकीकरण योजना के तहत खेत की जुताई, बुआई, निकाई, गुड़ाई, कटाई व दौनी आदि से संबंधित कुल 75 प्रकार के कृषि यंत्रों पर अनुदान दिया जा रहा था.
अधिक पैदावार के लिए किसान करें आधुनिक खेती : मंत्री
कटिहार : जिला कृषि कार्यालय परिसर में मंगलवार को दो दिवसीय कृषि यंत्रीकरण मेला का आयोजन किया गया. मेला का शुभारंभ पिछड़ा एवं अति पिछड़ा कल्याण मंत्री विनोद कुमार सिंह, प्रमंडलीय आयुक्त डॉ एन सफीना, विधानसभा में सत्तारूढ़ दल के सचेतक व विधायक तारकिशोर प्रसाद, जिला पदाधिकारी पूनम ने संयुक्त रूप से किया. इस अवसर पर मंत्री श्री सिंह ने कहा कि किसानों को सरकार के द्वारा अनुदानित दर पर कई कृषि यंत्र उपलब्ध कराया जा रहा है. जिससे किसान नवीन तकनीक के जरिए अपनी खेती कर सकते है.