42 results found for ''कारोबार''
नये सिरे से फूडपांडा के कारोबार का गठन करेगी Ola, किचेन का किया जायेगा विस्तार
नयी दिल्ली : कैब सेवा प्रदान करने वाली कंपनी ओला अपने खाद्य कारोबार फूडपांडा का नये सिरे से गठन कर रही है. इसके तहत, वह खुद के रसोई नेटवर्क के माध्यम से क्यूरेटेड (चयनित खाद्य पदार्थ, व्यवस्था) खाद्य ब्रांड बनाने और ऑफलाइन स्टोर पर ध्यान केंद्रित कर रही है. सूत्रों के मुताबिक, फूडपांडा पहले ही दिल्ली, बेंगलुरु, पुणे समेत पांच शहरों में 50 से अधिक रसोईघर (किचन) स्थापित कर चुकी है और इस नेटवर्क को बढ़ाने के लिए काम कर रही है.
लोकसभा चुनाव के नतीजे आने से एक दिन पहले सेंसेक्स 140 अंक चढ़ा
मुंबई : आम चुनाव के नतीजों से एक दिन पहले बुधवार को बैंकिंग और वाहन कंपनियों के शेयरों में उछाल से सेंसेक्स 140 अंक चढ़ गया. बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स दिन में कारोबार के दौरान 300 अंक ऊपर नीचे हुआ. अंत में सेंसेक्स 140.41 अंक या 0.36 फीसदी की बढ़त के साथ 39,110.21 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान इसने 39,249.08 अंक का उच्चस्तर तथा 38,903.87 अंक का निचला स्तर भी छुआ.
पाकिस्तानी रुपया सर्वकालिक निम्न स्तर पर पहुंचा
पाकिस्तानी रुपया बृहस्पतिवार को 152.25 रुपये प्रति डॉलर के ताजा सर्वकालिक निम्न स्तर पर पहुंच गया, जबकि खुले बाजार में मंगलवार को इसमें 153.50 के स्तर पर कारोबार हो रहा था.
Tech Mahindra ने की 5जी नेटवर्क के लिए स्पेक्ट्रम नीलामी शुरू मांग
हैदराबाद : दूरसंचार विभाग को देश में 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी शुरू करनी चाहिए, क्योंकि कई अन्य देशों के नियामकों ने पहले ही इसके लिए नीतियां बना ली हैं और स्पेक्ट्रम नीलामी शुरू कर दी है. आईटी क्षेत्र की कंपनी टेक महिंद्रा के अध्यक्ष (संचार कारोबार) तथा नेटवर्क सेवाओं के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) मनीष व्यास ने कहा कि अभी देश के सभी हिस्सों में 4जी सेवा नहीं पहुंची है. हालांकि, यह काम बड़े पैमाने पर किया गया है. वहीं, 5जी परीक्षणों के लिए निश्चित रूप से कुछ हलचल दिख रही है.
Indian Oil को पछाड़ देश की टॉप ट्रेडिंग कंपनी बनी Reliance Industries
नयी दिल्ली : देश के सबसे धनी व्यक्ति मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) सार्वजनिक क्षेत्र की इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) को पीछे छोड़ते हुए देश में सबसे अधिक आय दर्ज करने वाली कंपनी बन गयी है. पेट्रोलियम से लेकर, खुदरा व्यापार और दूरसंचार जैसे विविध क्षेत्रों में फैली आरआईएल का 2018- 19 में कुल कारोबार 6.23 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गया, जबकि आईओसी ने 31 मार्च 2019 को समाप्त वित्त वर्ष में 6.17 लाख करोड़ रुपये का एकीकृत कारोबार किया. दोनों कंपनियों द्वारा दी गयी नियामकीय सूचना में यह जानकारी सामने आयी है.
एक दशक की रिकॉर्ड ऊंचाई से फिसला शेयर बाजार, मुनाफावसूली से 383 अंक टूटा सेंसेक्स
मुंबई : शेयर बाजार मंगलवार को शुरुआती कारोबार में रिकॉर्ड स्तर तक जाने के बाद मुनाफावसूली का सिलसिला चलने से नीचे आ गये. सोमवार को बाजार में आयी तेजी के बाद निवेशकों ने जमकर मुनाफा काटा, जिससे सेंसेक्स 383 अंक नीचे आ गया. निफ्टी में भी 119 अंक की गिरावट आयी. एक्जिट पोल में भाजपा की अगुवाई वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार के दोबारा सत्ता में आने का अनुमान लगाया गया है. शुरुआती कारोबार में बाजार में तेजी आयी, लेकिन बाद में मुनाफावसूली का सिलसिला चला और अंत में बाजार नुकसान के साथ बंद हुआ.
अवैध कारोबार के कारण होती है वारदात
जमशेदपुर : जुगसलाई-बागबेड़ा क्षेत्र में अवैध कारोबार फल-फूल रहा है. इलाके में अवैध शराब और स्क्रैप टाल छोटी-बड़ी घटनाओं का कारण बनते है. छोटे विवाद में बात हत्या तक पहुंच जाती है. जुगसलाई में स्क्रैप के अवैध धंधे में वर्चस्व को लेकर ही राजा गद्दी गिरोह के लोगों ने नवसाद गद्दी के परिवार के लोगों पर तेज धार हथियार से हमला बोला था. राजा गद्दी और उसके सहयोगियों ने घर पर पथराव भी किया.
डी कंपनी ने सिलीगुड़ी शहर को बनाया ‘ड्रग्स सेंटर’
मोहन झा, सिलीगुड़ी : सिलीगुड़ी शहर में डी कंपनी फिर काफी सक्रिय हो गयी है. शहर ड्रग्स कारोबार का डेरा बन गया है. ड्रग्स के कारोबार को चलाने वाला दाउद उर्फ डेविड एक्का के बाद अब तमन्ना सिलीगुड़ी मेट्रोपोलिटन पुलिस का सिर दर्द बन गया है. हालांकि इसके बाद भी पुलिस इस पर हाथ डालने से कतरा रही है.
चीन से ट्रेड वार, ईरान से तकरार
नाजुक दौर से उबर रही वैश्विक अर्थव्यवस्था को अमेरिका-चीन व्यापार युद्ध से एक बार फिर झटका लगा है. आर्थिक मोर्चे पर चीन की घेराबंदी करने की ट्रंप की सनक चीन ही नहीं, बल्कि अमेरिका को भी नुकसान पहुंचा रही है. वहीं दूसरी ओर, वैश्विक तेल कारोबार से जुड़े अहम देश ईरान को सबक सिखाने के लिए अमेरिका ने उसे प्रतिबंधों के जाल में उलझाने के बाद अब सैन्य तनातनी बढ़ा दी है. दक्षिण-पूर्व एशिया में बीते कई वर्षों से अराजकता और अस्थिरता की स्थिति बनी हुई है.
देश के विभिन्न ऊर्जा क्षेत्रों में आगामी पांच-सात साल में दो लाख करोड़ का निवेश करेगा आईओसी
नयी दिल्ली : पेट्रोलियम उत्पादों का कारोबार करने वाली सार्वजनिक क्षेत्र की अग्रणी कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) की भविष्य की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए अगले 5 से 7 साल के दौरान ईंधन और ऊर्जा के विविध क्षेत्रों में दो लाख करोड़ रुपये निवेश की योजना है. कंपनी अपनी मौजूदा रिफाइनरियों का विस्तार करने के साथ ही स्वच्छ ईंधन और उत्पादन बढ़ाने में नयी प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल को बढ़ावा दे रही है.
डेढ़ गुणा हुई पानी की कीमत कारोबार भी डेढ़ गुणा बढ़ा
गहराये जलसंकट से पानी के कारोबार में जबर्दस्त उछाल आ गया है. इसमें करीब डेढ़ गुणा का इजाफा हो गया है. मांग बढ़ी देख कारोबारियों ने कीमत भी बढ़ा दी है. कारोबार की ही तरह दर में भी डेढ़ गुणा वृद्धि कर दी है. उल्लेखनीय है कि इस वर्ष जलसंकट ने आपदा का रूप धारण कर लिया है.
नेपाल के वित्त मंत्री ने भारतीय कंपनियों को निवेश का न्योता दिया
काठमांडू : नेपाल के वित्त मंत्री युवराज खातीवाडा ने बृहस्पतिवार को भारतीय कंपनियों को अपने देश में निवेश का न्योता दिया. उन्होंने कहा कि नेपाल में राजनीतिक स्थिरता है, जो कारोबार करने की दृष्टि से अनुकूल है.
इंडिगो के मालिकों में मतभेद के बावजूद सीईओ का दावा, कारोबार वृद्धि के लिए रणनीति में बदलाव नहीं
नयी दिल्ली : निजी विमानन कंपनी इंडिगो के दो मालिकों के बीच मतभेद के बीच उसके सीईओ ने दावा किया है कि कारोबार वृद्धि के लिए रणनीति में कोई बदलाव नहीं किया जायेगा. इंडिगो एयरलाइन की कारोबार में वृद्धि की रणनीति अब भी पूर्ववत बनी हुई है और उसे लागू करने के लिए इंडिगो के प्रबंधकों को कंपनी के निदेशक मंडल का पूरा समर्थन है.
आया बदलाव: अच्छा कारोबार करती हैं हॉलीवुड फिल्में
पटना : मोना सिनेमा के मैनेजर शरद गुप्ता हॉलीवुड फिल्मों की बढ़ती लोकप्रियता पर कहते हैं कि ये 30 साल से कम के यूथ में काफी पसंद की जा रही हैं. इसमें ध्यान देने की बात है कि पटना या बिहार के युवाओं को हॉलीवुड की क्लासिक फिल्में पसंद नहीं आती.
न शराबबंदी मुद्दा, न अवैध कारोबार की ही चर्चा
पटना : राज्य में वर्ष 2016 से पूर्ण शराबबंदी लागू है. शराबबंदी के बाद से ही राज्य में सत्ता पक्ष इसको अपनी उपलब्धि मानता रहा है. सता के नेता बड़े मंचों से शराबबंदी की लगातार प्रशंसा करते रहे हैं. वहीं राज्य में जदयू के साथ आने के बाद भाजपा के नेता भी इसे बड़ी उपलब्धि ही मानते रहे हैं.
टाटा केमिकल्स के फूड ट्रेड का टाटा ग्लोबल बेवरेजेज में होगा विलय
नयी दिल्ली : टाटा समूह ने बुधवार को अपने खाद्य कारोबार को टाटा केमिकल्स लिमिटेड (टीसीएल) से अलग करके टाटा ग्लोबल बेवरेजेज लिमिटेड (टीजीबीएल) को स्थानांतरित करने की घोषणा की है. यह पूरा सौदा शेयरों के आधार पर होगा और इससे एक बड़ी 9,000 करोड़ रुपये की कंपनी खड़ी होगी. टाटा ग्लोबल बेवरेजेज लिमिटेड इस सौदे में टाटा केमिकल्स से नमक, मसाले और दाल कारोबार को खरीदेगा और बदले में उसे शेयर देगा. इस सौदे के बाद टाटा ग्लोबल बेवरेजेज का नाम बदलकर टाटा कंज्यूमर प्रोडेक्ट्स लिमिटेड हो जायेगा.
एक दिन की तेजी के बाद 204 अंक टूटकर सेंसेक्स हुआ धड़ाम, निफ्टी भी 11,200 अंक से आया नीचे
मुंबई : एक दिन की तेजी के बाद बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स बुधवार को मिले-जुले वैश्विक रुख के बीच उतार चढ़ाव भरे कारोबार में 203.65 अंक टूट गया. बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स करीब 500 अंक घूमने के बाद अंत में 203.65 अंक या 0.55 फीसदी की गिरावट के साथ 37,114.88 अंक पर आ गया.
'यूरोप में विभिन्न कारोबारी विकल्पों की खोज जारी रखेगी टाटा स्टील'
नयी दिल्ली : थाइसेनक्रुप के साथ प्रस्तावित विलय फंसने के बीच टाटा स्टील के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा कि कंपनी ने यूरोप में अपने कारोबार के विलय की योजना छोड़ी नहीं है. उन्होंने प्रस्तावित विलय पर यूरोपीय आयोग की आपत्ति को स्पीड ब्रेकर (गति अवरोधक) बताया है. यूरोपीय आयोग ने टाटा स्टील के यूरोपीय कारोबार के जर्मनी की कंपनी थाइसेनक्रुप के साथ विलय पर आपत्ति उठायी थी. इसके चलते दोनों कंपनियों की संयुक्त उद्यम स्थापित करने की योजना अटक गयी है.
सबसे बड़ी एफएमसीजी कंपनी आइटीसी को 35 साल में नयी ऊंचाई पर पहुंचाने के बाद देवेश्वर युग खत्म
विविध क्षेत्रों में कारोबार करनेवाली देश की नंबर वन एफएमसीजी कंपनी आइटीसी ने कंपनी के एमडी संजीव पुरी को प्रोमोट करके चेयरमैन नियुक्त कर दिया है. इसके साथ ही वह प्रबंध निदेशक (सीमएडी) की भी जिम्मेदारी संभालेंगे. इसी के साथ आइटीसी में देवेश्वर युग समाप्त हो गया.
दुग्ध उत्पादक कंपनी अमूल को वर्ष 2019-20 में राजस्व 20 फीसदी बढ़कर 40,000 करोड़ रुपये होने की उम्मीद
नयी दिल्ली : देश में दुग्ध उत्पादन की जनक अमूल ब्रांड के तहत डेयरी उत्पादों का विपणन करने वाली संस्था गुजरात को-ऑपरेटिव मिल्क मार्केटिंग फेडरेशन (जीसीएमएमएफ) को अपने उत्पादों की मात्रा और मूल्य अधिक मिलने की वजह से चालू वित्त वर्ष में अपना कारोबार 20 फीसदी बढ़कर लगभग 40,000 करोड़ रुपये हो जाने की उम्मीद है. कंपनी के एक शीर्ष अधिकारी ने यह जानकारी दी है.