34 results found for ''कहानी''
‘दबंग 3’ चुलबुल की जिंदगी की कहानी - सलमान खान
सलमान खान एक बार फिर चुलबुल पांडे के अंदाज में रुपहले पर्दे पर नजर आनेवाले हैं. सलमान अपनी इस फिल्म को खास करार देते हैं. उनका मानना है कि यह उनके करियर की उन चुनिंदा फिल्मों में से एक है, जिन्होंने न सिर्फ उनके करियर बल्कि हिंदुस्तानी सिनेमा का रूप-रंग बदल दिया था. उनकी इस फिल्म और दूसरे विषयों पर हुई बातचीत के अंश.
रांची के "रवि रॉकर" मुंबई में बना रहे खास पहचान
इंडियन फिल्म प्रोजेक्ट के तहत रवि-रॉकर को सुपरमून सेल्फी नामक फिल्म बनाने का मौका मिला. इस फिल्म के लिए उन्हें 50 घंटे का वक्त दिया गया. इतने कम समय में फिल्म की कहानी से लेकर शूटिंग और एडिटिंग का काम पूरा किया. इस फिल्म में रवि को पहला पुरस्कार मिला.
देख लीजिए दो सिर वाला सांप, चमत्कार ही है, लोग पिला रहे दूध और...
कोलकाता: आपने अक्सर दो मुंह वाले सांप की कहानी अपनी नानी से सुनी होगी, लेकिन क्या आपने कभी इसे वास्तव में देखा है. नहीं देखा तो आज हम आपको दिखाते हैं. ऐसा सांप पश्‍चिम बंगाल में मिला है जिसकी चर्चा हर किसी की जुबान पर है.
अपराधी से ज्यादा शराब कारोबारी के पीछे परेशान रहती है पुलिस : अजय
मधेपुरा : सोमवार को दिनदहाड़े स्वर्ण व्यवसायी को गोली मारकर लाखों की जेवरात लूट ली गयी, जबकि थाने की दूरी महज 500 मीटर की है. यह सिर्फ मधेपुरा की कहानी नहीं है, पूरे सूबे में अपराधियों की सामानांतर सरकार चल रही है. बिहार की पुलिस अपराधियों की खोज कम और शराब के पीछे परेशान रहती है.
#ChhapaakTrailer: कौन हैं लक्ष्‍मी अग्रवाल? जिनपर बनीं है फिल्‍म 'छपाक'
दीपिका पादुकोण की आनेवाली फिल्‍म छपाक का ट्रेलर रिलीज हो गया है. पिछले काफी दिनों से इस फिल्‍म की चर्चा है. यह फिल्‍म एसिड सर्वाइवर लक्ष्‍मी अग्रवाल की कहानी है जिसके किरदार में दीपिका नजर आ रही हैं. दीपिका के किरदार का नाम मालती है. दीपिका ने इस किरदार में जान फूंक दी है.
प्रेमचंद के ‘पूस की रात’ हो सकती है गुजरे जमाने की बात, सिमट रही सर्दी
पूर्णिया : कथा सम्राट मुंशी प्रेमचंद की कहानी ‘पूस की रात’में ठंड की पराकाष्ठा की बानगी है. इसका पात्र हल्कू कहता है-‘किस तरह रात कटे,आठ चीलम तो पी चुका हूं.’ ‘कंपकपाने वाली ठंड की काली रात गुदड़ी के सहारे कैसे कटे, ऐसन ठंड में तो अलाव ही सहारा है पर का करें यहां तऽ लकड़ी और गोईठा पर पईसा ने पाला मार दिया है.’
अथ प्याज-कथा
पुरानी कहानियों का गरीब आदमी अकसर ब्राह्मण होता आया है और कहानियां अकसर शुरू ही इस वाक्य से होती रही हैं कि एक गरीब ब्राह्मण था, मानो ब्राह्मण का गरीब होना ही सबसे बड़ा मुद्दा हो और सब लोगों का कर्तव्य हो कि ब्राह्मण की गरीबी दूर करें और यह भी कि अगर वह ब्राह्मण गरीब न होता, तो कोई कहानी भी न होती.
टीवी शो में नजर आयेंगे धौनी, सुनायेंगे बहादुर सैनिकों की कहानी
भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी प्रसिद्ध सेना अधिकारियों की कहानियों से संकलित एक कार्यक्रम का निर्माण करेंगे.
राकेश तिवारी को मिला रमाकांत स्मृति कहानी पुरस्कार, कहा कहानी का बदलना अनिवार्य
बीसवां रमाकांत स्मृति कहानी पुरस्कार कथाकार राकेश तिवारी को उनकी कहानी ‘मंगत की खोपड़ी में स्वप्न का विकास’ के लिए दिया गया. उन्हें यह पुरस्कार राजधानी के गांधी शांति प्रतिष्ठान में दिया गया. राकेश तिवारी को यह पुरस्कार वरिष्ठ आलोचक विश्वनाथ त्रिपाठी, वरिष्ठ कवि विष्णु चंद्र शर्मा तथा वरिष्ठ कथाकार पंकज बिष्ट ने प्रदान किया.
विलक्षण कथाकार
विलक्षण कथाकार स्वयं प्रकाश की मशहूर कहानी ‘पार्टीशन’ को पढ़ते वक्त मुझे रामवृक्ष बेनीपुरी की किताब ‘माटी की मूरतें’ के अविस्मरणीय चरित्र सुभान खां की याद आ गयी. ऐसा लगा कि कुर्बान भाई उसी परंपरा के हैं और ‘मियां’ कहकर उनका ही उपहास उड़ाया जा रहा है और उन्हें जबरन सांप्रदायिक बनने के लिए विवश किया जा रहा है. इसी तरह ‘रशीद का पाजामा’ पढ़ते वक्त भी मुझे प्रेमचंद की एक यादगार कहानी ‘ईदगाह’ और उसके बाल नायक हामिद की याद आयी.
समकालीनता को चित्रित करतीं क्षेत्रीय फिल्में
इस साल दादा साहब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित मलयालम के चर्चित फिल्म निर्देशक अदूर गोपालकृष्णन की एक फिल्म-सुखयांतम देखी थी. यह फिल्म तीन छोटी कहानियों के इर्द-गिर्द बुनी गयी है, जिसके केंद्र में आत्महत्या है. पर हर कहानी का अंत सुखद है. हास्य का इस्तेमाल कर निर्देशक ने समकालीन सामाजिक-पारिवारिक संबंधों को सहज ढंग से चित्रित किया है. यह एक मनोरंजक फिल्म है, जो बिना किसी ताम-झाम के प्रेम, संवेदना, जीवन और मौत के सवालों से जूझती है.
हैदराबाद एनकाउंटर की 'कहानी' में कितना दम: नज़रिया
हैदराबाद पुलिस ने जो 'कहानी' बताई, क्या उस पर आंख मूंदकर भरोसा किया जा सकता है.
उन्नाव रेप केस: दोस्ती, शादी, बलात्कार और जलाकर मार डालने की कहानी- ग्राउंड रिपोर्ट
रेप पीड़िता की जलने से मौत हो गई है और मामले के पांच अभियुक्त न्यायिक हिरासत में हैं.
हैदराबाद डॉक्टर रेप केसः चारों अभियुक्तों के मारे जाने की पूरी कहानी
हैदराबाद पुलिस ने अभियुक्तों को मारे जाने की क्या वजह बताई और इसको लेकर क्या प्रतिक्रियाएं रही हैं.
Hyderabad Case : 'एनकाउंटर' को लेकर पुलिस के दावों पर उठ रहे पांच बड़े सवाल
पुलिस की कहानी में वो कौन से हिस्से हैं जिनपर सवाल उठ रहे हैं और क्यों लोगों को इस कहानी पर विश्वास नहीं हो रहा?
हैदराबाद डॉक्टर रेप केसः चारों अभियुक्त के मारे जाने की पूरी कहानी
हैदराबाद पुलिस ने अभियुक्तों को मारे जाने की क्या वजह बताई और इसको लेकर क्या प्रतिक्रियाएं रही हैं.
'सरकार ने राहत नहीं दी, तो वोडाफोन-आइडिया की कहानी का हो जायेगा पटाक्षेप'
नयी दिल्ली : वोडाफोन-आइडिया ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट के हालिया फैसले के बाद उसके सामने खड़ी पुरानी सांविधिक देनदारियों के मामले में सरकार की ओर से राहत नहीं मिली, तो उसका बाजार में बने रखना मुश्किल है. कंपनी के चेयरमैन कुमार मंगलम बिड़ला ने शुक्रवार को यहां एक मीडिया समिट में एक सवाल के जवाब में कहा कि यदि हमें कुछ नहीं मिलता है, तो मेरा मानना है कि इससे वोडाफोन-आइडिया की कहानी का पटाक्षेप हो जायेगा. उनसे सरकार से राहत नहीं मिलने की स्थिति में कंपनी की आगे की रणनीति के बारे में पूछा गया था.
Film Review: फिल्‍म देखने से पहले जानें कैसी है फिल्‍म 'पानीपत'
एक वक्त था जब निर्माता-निर्देशक आशुतोष गोवारिकर पीरियड फिल्मों के पर्याय हुआ करते थे. ''लगान'' और ''जोधा अकबर'' जैसी फिल्में इसकी गवाह रही है. हालांकि पिछले कुछ समय से इस विधा में उनकी पकड़ पहले जैसी मजबूत नहीं रही है. इस बार उन्होंने पानीपत की कहानी को चुना है.
Film Review : फिल्‍म देखने से पहले जानें कैसी है 'पति पत्नी और वो'
रीमेक फिल्मों के बढ़ते ट्रेंड में ''पति पत्नी और वो'' 1978 में आयी संजीव कुमार की सुपरहिट फिल्म का रिमेक है।कहानी को आज के परिवेश में कहा गया है. कहानी पति पत्नी के रिश्ते में भरोसे के महत्व को समझाने के साथ साथ यह भी कहती है कि आदमी तो आदमी ही रहेगा. लेकिन अब हमारे समाज की महिलाएं ज्यादा समझदार हो गई हैं. अगर आदमी के पास हज़ार ऑप्शन्स हैं तो महिलाओं के पास उनसे एकाध ज़्यादा ही होंगे तो आदमी हद में रहे. उसी में समझदारी है.
मुंबई हमलों में जीवित बचा इजराइल के मोशे को पीएम मोदी ने भेजा पत्र, पढ़ कर हुआ भावुक
वर्ष 2008 में हुए मुंबई हमले में अपने माता-पिता को खो चुके इजराइली बालक मोशे होल्ट्जबर्ग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संदेश पाकर भावुक हो उठा. पत्र में मोदी ने किशोर की कहानी को चमत्कार के समान बताया जो लगातार हर किसी को प्रेरणा देती है