16 results found for ''आस्था''
आस्था और व्यवसाय का केंद्र बना है राजापुर मेला
सासामुसा : मौनी अमावस्या के अवसर पर लगने वाला राजापुर मेला आस्था के साथ व्यवसाय के केंद्र बन गया है. शुक्रवार को मौनी अमावस्या है. इस अवसर पर राजापुर में लगने वाले मेले में श्रद्धालु जहां नारायणी में आस्था की डुबकी लगायेंगे, वहीं दो करोड़ से अधिक के फर्नीचर की बिक्री होगी.
18 फरवरी से चलेगी आस्था सर्किट स्पेशल ट्रेन
हाजीपुर : इंडियन रेलवे कैटरिंग टूरिज्म कारपोरेशन लिमिटेड ( आईआरसीटीसी), ने पर्यटकों के विशेष मांग पर आस्था सर्किट स्पेशल ट्रेन चलाने की योजना बनायी है. आईआरसीटीसी के वरीय पर्यवेक्षक राजेश कुमार ने हाजीपुर रेलवे स्टेशन के फूड प्लाजा में प्रेस वार्ता के दौरान बताया कि पर्यटकों के विशेष मांग पर आईआरसीटीसी द्वारा नांवमी बार आस्था सर्किट स्पेशल ट्रेन चलाया जा रहा है. यह ट्रेन 18 फरवरी को रक्सौल से खुलेगी. प्रति यात्री किराया शुल्क 11 हजार 340 रुपए होगा. यह यात्रा 11 से 12 दिन का होगा.
नारायणी के तट पर लगेगी आस्था की डुबकी
गोपालगंज : माघ मास को अत्यंत पावन होने से विधि-विधान से स्नान-ध्यान एवं साधना का विशेष महत्व है. मौनी अमावस्या के दिन इसका अत्यधिक महत्व है. यही कारण है कि बड़ी संख्या में श्रद्धालु सुख-समृद्धि और मोक्ष की कामना लिए पवित्र नदियों में डुबकी लगाते हैं. हिंदू पंचांग के अनुसार माघ मास के कृष्ण पक्ष की अमावस्या को मौनी अमावस्या या माघी अमावस्या मनायी जाती है. इस वर्ष मौनी अमावस्या 24 जनवरी शुक्रवार को पड़ रही है. नारायणी नदी में डुबकी लगाने के लिए आस्था का सैलाब तटों पर उमड़ेगा.
पटना : संगम स्नान के साथ करें ज्योतिर्लिंग दर्शन यात्रा
पटना : सूबे के पर्यटकों की मांग पर आइआरसीसीटी ने एक और आस्था सर्किट स्पेशल ट्रेन चलाने का निर्णय लिया है. यह ट्रेन 18 फरवरी को रक्सौल से खुलेगी और सीतामढ़ी, दरभंगा, समस्तीपुर, मुजफ्फरपुर, हाजीपुर, पाटलिपुत्र जंक्शन व दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन होते हुए जायेगी. इन स्टेशनों पर बोर्डिंग की व्यवस्था है.
होली के बाद सहरसा से दक्षिण भारत की यात्रा करायेगा रेलवे, 16 कोच की होगी स्पेशल ट्रेन
सहरसा : कोसी क्षेत्र के लोग एक बार फिर से धार्मिक व तीर्थ स्थलों की टूर कर सकेंगे. इस बार श्रद्धालु यात्री दक्षिण भारत की यात्रा कर सकेंगे. आइआरसीटीसी द्वारा सहरसा जंक्शन से दक्षिण भारत यात्रा के लिए आस्था सर्किट दक्षिण भारत स्पेशल ट्रेन चलाने के लिए प्रपोजल तैयार किया गया है. उम्मीद जतायी जा रही है कि होली के बाद आगामी 20 मार्च को या मार्च के अंतिम सप्ताह में सहरसा जंक्शन से दक्षिण भारत यात्रा के लिए ट्रेन रवाना होगी.
श्रद्धालुओं ने नदियों-तालाबों में लगायी आस्था की डुबकी
जिला मुख्यालय समेत जिले के अन्य प्रखंडों में मकर संक्रांति 15 जनवरी को पारंपरिक व हर्षोल्लास के साथ मनायी गयी. इस मौके पर श्रद्धालुओं ने अहले सुबह शहर के विभिन्न जलाशयों में स्नान किया.
श्रद्धालुओं ने कोयल नदी में लगायी आस्था की डुबकी
जिले के सेन्हा थाना क्षेत्र के चितरी गांव में कोयल नदी तट के किनारे मकर संक्रांति पर मेला का आयोजन किया गया. बुधवार को अहले सुबह से लोग चितरी कोयल नदी पहुंचने लगे. लोगों ने नदी में स्नान व पूजा-अर्चना की. यहां पर कई लोग परिवार के साथ पिकनिक भी मनाये और मेला का आनंद उठाया.
#MakarSankranti2020: गंगासागर में आस्था की डुबकी, देखें कुछ खास तस्वीरें
#MakarSankranti2020: गंगासागर में आस्था की डुबकी, देखें कुछ खास तस्वीरें
RJD को बड़ा झटका, JDU के दही-चूड़ा भोज में पहुंचे RJD विधायक, NRC को लेकर तेजस्वी पर बोला हमला, कहा...
पटना : जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह की ओर से बुधवार को आयोजित दही-चूड़ा भोज में दरभंगा के केवटी से आरजेडी विधायक फराज फातिमी के पहुंचते ही बिहार की सियासी सरगर्मी बढ़ गयी. मालूम हो कि आरजेडी के मुखिया लालू प्रसाद के करीबी रहे दरभंगा से सांसद और केंद्रीय मंत्री रहे अली अशरफ फातमी पिछले साल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में आस्था जताते हुए जेडीयू का दामन थाम चुके हैं, जबकि उनके बेटे फिलहाल आरजेडी में विधायक हैं.
बाजार में रौनक, दान-पुण्य का त्योहार मकर संक्रांति आज
हिंदू सनातन धर्मावलंबियों की सदियों पुरानी पारंपरिक दान-पुण्य का त्योहार मकर संक्रांति आज आस्था पूर्वक मनाया जायेगा. चार बजे भोर से ही जिले के पवित्र नदियों बागमती, अधवारा समूह की विभिन्न नदियों समेत लक्ष्मणा गंगा आदि नदियों एवं तालाबों में हजारों श्रद्धालु आस्था की डुबकी लगाएंगे.
आस्था का केंद्र है पलामू के बृद्धखैरा का वेणुगोपाल मंदिर, 1956 से मकर संक्रांति पर लग रहा है मेला
पांडू (पलामू) : झारखंड के पलामू जिला के पांडू के बृद्धखैरा में स्थित वेणुगोपाल मंदिर में मकर संक्रांति के अवसर पर पांच दिवसीय मेला का आयोजन होता है. मेला कमेटी के सदस्य एक महीना पहले ही तैयारी शुरू कर देते हैं. बताया जाता है कि इस मंदिर परिसर में 14 जनवरी, 1956 से मकर संक्रांति के अवसर पर मेला लग रहा है.
आस्था का केंद्र है पलामू के बृद्धखैरा का वेणुगोपाल मंदिर, 1956 से मकर संक्रांति पर लग रहा है मेला
पांडू (पलामू) : झारखंड के पलामू जिला के पांडू के बृद्धखैरा में स्थित वेणुगोपाल मंदिर में मकर संक्रांति के अवसर पर पांच दिवसीय मेला का आयोजन होता है. मेला कमेटी के सदस्य एक महीना पहले ही तैयारी शुरू कर देते हैं. बताया जाता है कि इस मंदिर परिसर में 14 जनवरी, 1956 से मकर संक्रांति के अवसर पर मेला लग रहा है.
मकर संक्रांति 2020 : हजारीबाग के बरकट्ठा में 14 जनवरी से होता है सूर्यकुंड मेला का शुभारंभ
बरकट्ठा : झारखंड में हजारीबाग जिला के बरकट्ठा प्रखंड स्थित सूर्यकुंडधाम में मकर संक्रांति के पर्व पर हर साल 14 जनवरी को सूर्यकुंड मेला लगता है. प्रकृति का अनुपम उपहार गर्म जल का कुंड चर्म रोगियों के लिए चिकित्सीय वरदान है. सूर्यकुंडधाम धार्मिक आस्था के साथ भू-गर्भ विज्ञान और पर्यटन के लिए धरोहर है. यहां अनवरत गर्म जल निकलता रहता है.
मकर संक्रांति 2020 : हजारीबाग के बरकट्ठा में 14 जनवरी से होता है सूर्यकुंड मेला का शुभारंभ
बरकट्ठा : झारखंड में हजारीबाग जिला के बरकट्ठा प्रखंड स्थित सूर्यकुंडधाम में मकर संक्रांति के पर्व पर हर साल 14 जनवरी को सूर्यकुंड मेला लगता है. प्रकृति का अनुपम उपहार गर्म जल का कुंड चर्म रोगियों के लिए चिकित्सीय वरदान है. सूर्यकुंडधाम धार्मिक आस्था के साथ भू-गर्भ विज्ञान और पर्यटन के लिए धरोहर है. यहां अनवरत गर्म जल निकलता रहता है.
स्टैच्यू ऑफ यूनिटी, शिरडी व ज्योतिर्लिंग यात्रा का मौका
आइआरसीटीसी (इंडियन रेलवे कैटरिंग टूरिज्म कॉरपोरेशन लिमिटेड) ने झारखंड/बिहार से पर्यटकों की विशेष मांग पर स्टैच्यू ऑफ यूनिटी, शिरडी, विभिन्न ज्योतिर्लिंग यात्रा के लिए आस्था स्पेशल ट्रेन चलाने की योजना बनायी है. इसके तहत यात्रियों को उज्जैन के महाकालेश्वर व ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग, द्वारिकाधीश मंदिर व नागेश्वर ज्योतिर्लिंग, सोमनाथ ज्योतिर्लिंग, शिरडी साई दर्शन, त्रयंबकेश्वर ज्योतिर्लिंग व स्टैच्यू ऑफ यूनिटी का भ्रमण कराया जायेगा.
आस्था सर्किट स्पेशल ट्रेन से भागलपुर से 400 यात्री दक्षिण भारत के लिए रवाना
भागलपुर : भारत दर्शन आस्था सर्किट स्पेशल ट्रेन से पूर्व बिहार के सैकड़ों यात्री दक्षिण भारत के तीर्थ स्थलों के लिए रवाना हुए. रविवार सुबह नौ बजे के करीब मुंगेर से चलकर यह स्पेशल ट्रेन भागलपुर पहुंची. भागलपुर से यात्री सवार हुए और आस्था सर्किट ट्रेन सुबह 9.25 बजे रवाना हुई. आस्था सर्किट ट्रेन भागलपुर से दुमका होते हुए सोमवार को रेणुंगटा स्टेशन पहुंचेगी. रात्रि विश्राम के बाद अगले दिन सुबह में तिरुपति बालाजी का दर्शन करायेगा.