18 results found for ''आसमान''
मैदान से पहाड़ तक बारिश-बाढ़ का कहर, पुर्वोत्तर में बिगड़े हालात, 10 लाख से ज्यादा प्रभावित
महाराष्ट्र के बाद बिहार, उत्तर प्रदेश, असम सहित पूरे पूर्वोत्तर राज्यों में आसमान से आफत बरसने का सिलासिला थम नहीं रहा है. मॉनसूनी बारिश अब कहर बहपा रही है.
बारिश ने हरी सब्जियों की कीमतों में लगायी आग
रांची : बारिश के मौसम शुरू होने के बाद से ही राजधानी रांची में हरी सब्जियों भाव तेजी बढ़े हैं. मौजूदा हालत यह है कि आलू को छोड़ कर प्याज समेत ज्यादातर हरी सब्जियां महंगी हो गयी हैं. फ्रेंचबीन और शिमला मिर्च के भाव तो मानो आसमान छू रहे हैं. इन दोनों ने ही 100 रुपये से 120 रुपये प्रति किलो का आंकड़ा छू लिया है.
आसमान में दिखा हवा में उठने वाला बवंडर, दर्जनों घरों को हुआ नुकसान
छातापुर : छातापुर के आसमान में गुरुवार की शाम करीब सवा छह बजे हवा में उठने वाले बवंडर का नजारा देखा गया. जमीन से उठकर आसमान में समाती दिखती बवंडर दर्जन घरों को उड़ाकर ले गयी. तकरीबन पांच मिनट तक देखी गयी बवंडर से लोगबाग सहम गये. घीवहा पंचायत सहित घीवहा से पूरब अन्य पंचायतों से होकर यह बवंडर पूरब की ओर निकल गयी.
पटना : वित्त विभाग के दफ्तर पर गिरा ठनका, मची अफरा-तफरी, बाल-बाल बच गये बजट ऑफिसर
पटना : वित्त विभाग में मंगलवार की दोपहर को मूसलाधार बारिश के दौरान अचानक ठनका गिर पड़ा. आसमान से गिरी इस आफत से पूरे विभाग में थोड़े देर के लिए अफरा-तफरी मच गयी. बिजली का शॉर्ट सर्किट हो गया और अंधेरा हो गया. यह ठनका वित्त विभाग में बजट पदाधिकारी के चैम्बर के पास गिरा, जिससे वे और उनके सेक्शन में काम करने वाले तमाम कर्मी बाल-बाल बच गये. ठनका गिरने का असर विभाग में साफतौर पर दिख रहा था.
कल से आपस में टकरायेंगे बादल, होगी तेज गर्जना
पूर्णिया : आगामी 11 व 12 जुलाई को आसमान में अधूरे व टूटे-फूटे बादल रहेंगे. ये बादल आपस में टकरायेंगे और गर्जन-तर्जन का माहौल रहेगा. बारिश से ज्यादा आसमान में गरज होगी. मंगलवार को मौसम विभाग ने पूर्णिया के इलाके के लिए ऐसा ही पूर्वानुमान जारी किया है.
आसमान से गिरती रहीं राहत की बूंदें, लौटी चेहरे पर मुस्कान
गया : रविवार की तरह सोमवार को भी शहर पर मौसम मेहरबान रहा. इससे लोगों के चेहरे पर मुस्कान लौट आयी है. पिछले कुछ सप्ताह से लगातार प्रचंड गर्मी की तपिश व मौत की लू का सामना कर रहे लोग अब बारिश की बूंदों से राहत की सांस ले रहे हैं. मौसम विभाग का कहना है कि अगले एक सप्ताह तक लगातार बारिश के साथ ही तेज हवा चलेगी.
माॅनसून सक्रिय, हो रही रिमझिम बारिश, किसानों को मिली राहत
देर से पहुंचा मानसून जिले में पूरी तरह से सक्रिय हो गया है. बीते 24 घंटे से रुक-रुक बारिश हो रही है. आसमान में डेरा जमाये बदाल बता रहे हैं कि अभी और बारिश होगी. इससे उमस भरी गर्मी से काफी हद तक आम लोगों को राहत मिली है. वहीं खरीफ उत्पादक किसानों की बांछे भी खिलने लगी है. हालांकि ग्रामीण इलाकों में अब तक कहीं भी जल-जमाव की स्थिति पैदा नहीं हुई है. किसानों का कहना है कि लंबे अंतराल व तीखी धूप के बाद हुई हल्की बारिश ने धूल उड़ रहे खेतों को थोड़ी राहत जरुर दी है.
उम्मीदों की बारिश होते ही खेती में जुटे किसान
औरंगाबाद शहर : आखिरकार इंद्रदेव ने अपनी कृपा की बारिश कर ही दी. मॉनसून के दस्तक के साथ शुरुआत में हल्की बारिश हुई थी. इसके बाद जैसे इंद्रदेव रुठ गये थे. आसमान में बादल जरूर छा रहे थे, मगर फुहाराें के रूप में बरस कर फिर से भीषण गर्मी के रूप में सीितम ढा रहे थे.
जलते घर से जोखिम उठाकर ग्रामीणों ने बच्चियों को निकाला, मकान ध्वस्त
बड़शोल थाना क्षेत्र की गोपालपुर पंचायत के धवाचांदड़ा निवासी हेमंत गिरि के एडवेस्टर के घर में शुक्रवार सुबह अचानक आग लग गयी. इससे घर समेत सभी सामान जल कर खाक हो गये. वहीं घटना में घर का कुछ हिस्सा में ध्वस्त हो गया. इससे हेमंत गिरि का परिवार खुले आसमान के नीचे आ गया है.
उदयमान पुरस्कार से सम्मानित हुए शिवेंदु
जमुई : मशहूर कवि दुष्यंत कुमार की पंक्तियां हैं कि कौन कहता है कि आसमान में सुराख नहीं हो सकता, एक पत्थर तो तबीयत से उछालो यारों. कहने का तात्पर्य है कि अगर किसी भी काम को करने कि मन में ठान ली जाए तो फिर सफलता निश्चय ही मिलती है. कुछ इसी कहावत को चरितार्थ कर दिखा रहे हैं जमुई जिले के कटौना गांव के रहने वाले डॉ. शिवेंदु आलोक, जिन्होंने शिक्षा के क्षेत्र में अपना सर्वस्व समर्पित कर दिया और उनके इस योगदान के लिए उन्हें उदयमान अवार्ड से नवाजा गया है.
बादलों से घिरा रहा आसमान, शाम को हुई बूंदाबांदी
आरा : रविवार से ही आसमान में बादलों का आना-जाना लगा हुआ है. पिछले कई दिनों से गर्मी से परेशान लोगों को मंगलवार की सुबह से ही सुहाने मौसम से काफी राहत मिली. पूरे दिन आसमान में बादलों का साम्राज्य रहा. कभी-कभार सूर्य देवता दिखायी दिये. फिर बादलों की लुकाछिपी में छिप जा रहे थे. दोपहर में थोड़ी देर छोड़कर अधिकांश समय आसमान बादलों से घिरा रहा.
दो दिनों के बाद बढ़ेगी मॉनसून की सक्रियता
ग्रामीण कृषि मौसम सेवा, कृषि मौसम विभाग डॉ राजेंद्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय पूसा, समस्तीपुर की ओर से सात जुलाई तक के लिए जारी मध्यावधि मौसम पूर्वानुमान के अनुसार इस अवधि में उतर बिहार के जिलों के आसमान में मानसूनी बादल छाये रह सकते हैं. अगले दो-तीन दिनों के दौरान कहीं-कहीं हल्की वर्षा हो सकती है.
उड़ान के वक्त तेजस विमान का ईंधन टैंक गिरा, जांच शुरू
उड़ान के दौरान एक तेजस विमान का ईंधन टैंक मंगलवार तड़के तमिलनाडु में कोयंबटूर शहर के बाहर एक खेत में गिर गया. चेन्नई में रक्षा सूत्रों ने इस बात की पुष्टि की कि तेजस का ईंधन टैंक गिर गया. उन्होंने कहा, ‘‘सभी सुरक्षित हैं.'''' पुलिस ने बताया कि इरुगुर गांव के खेत में जब 1200 लीटर का पेट्रोल टैंक आसमान से अचानक गिरा तो वहां काम कर रहे किसान भौचक्के रह गये.
भीषण गर्मी के कारण एक बार फिर बदला स्कूल टाइम
मुंगेर : भीषण गर्मी और आसमान से बरस रही आग के कारण एक बार पुन: जिले में संचालित सरकारी और गैर सरकारी विद्यालय के टाइम में फेर बदल किया गया है. ताकि हीट स्ट्रोक का शिकार होने से बच्चों को बचाया जा सके. शिक्षा विभाग द्वारा जारी नये आदेश के मद्देनजर विद्यालय शनिवार तक सुबह 6 बजे से पूर्वाह्न 11 बजे तक ही संचालित होगा.
धूप व गर्मी से जीना मुश्किल आज हो सकती है बारिश
मुंगेर : पिछले एक सप्ताह से उमस भरी गर्मी से आम जनों का बुरा हाल हो गया है. लोगों को न तो बाहर चैन है और न ही घर में आराम है. हर कोई पसीने से लथपथ नजर आ रहे हैं. हर किसी की आंखें आसमान की ओर टिकी हुई है.
लोग पूछ रहे- कहां गया मॉनसून, 5 दिन बारिश के आसार नहीं
पटना : बिहार में मॉनसून तो प्रवेश कर गया, थोड़ी बहुत बारिश भी हुई. राज्य के ज्यादातर हिस्सों में पिछले कुछ दिनों से आसमान में बादल नजर नहीं आ रहे हैं. लगभग पूरे राज्य में चिपचिपाहट वाली गर्मी पड़ रही है. अगले तीन दिन तक हीट वेव चलने (लू) का पूर्वानुमान व्यक्त किया गया है. फिलहाल अगले पांच दिनों तक मॉनसूनी वर्षा के कोई संकेत भी नहीं है. प्रदेश में अभी पछुआ हवा चल रही है.
बेलसरा व बहंगी गांव में टनका के कारण दो की मौत
रानीगंज/ताराबाड़ी : अररिया में सुबह को हुई बारिश मानो आसमान से मौत का रूप लेकर बरसी. सुबह में रानीगंज के बेलसरा में मां व पुत्री मुंग तोड़ कर घर वापस लौट रही थी. इसी क्रम में विंदेश्वरी शर्मा की 35 वर्षीय पत्नी रेखा देवी व उसकी पुत्री राजकुमारी वज्रपात की चपेट में आ गयी. वज्रपात की चपेट में आयी रेखा देवी की मौत हो गयी. जबकि पुत्री राजकुमारी झुलस गयी. वहीं अररिया प्रखंड के पोखरिया पंचायत के बहंगी गांव में संजय कुमार पासवान का 20 वर्षीय पुत्र सुमित कुमार पासवान नदी में नहा रहा था.
जलावन चुनने गयी महिला की वज्रपात से मौत
बेलदौर : थाना क्षेत्र के कैंजरी पंचायत के वार्ड संख्या 12 बीराघाट मुसहरी की एक महादलित महिला की मौत ठनका गिरने से हो गयी. मौत की खबर सुनते ही परिजनों में चीत्कार मच गयी. जानकारी के मुताबिक बुधवार की सुबह साढ़े सात बजे उक्त महादलित टोले के दुखन सादा की 30 वर्षीय पत्नी शिरोमणी देवी समीप के बहियार में जलावन चुन रही थी. इसी क्रम में गरज से साथ आसमान में बिजली कड़की व बारिश शुरू हो गयी.