इनके व्यापार-व्यवसाय में होगी उन्नति......जानें अपने राशिफल के बारे में

रोजी-रोजगार की स्थिति में सुधार होगी. आर्थिक समस्याओं का समाधान. व्यापार वृद्धि, चतुर्दिक हर्ष तथा उल्लास का वातावरण बनेगा

आत्मिक शक्ति के विस्तार का महीना है श्रावण

श्रावण हिंदू कैलेंडर का पंचम माह है, जिसे वर्ष के सर्वाधिक पवित्र मास में से एक माना जाता है. वर्षा ऋतु के इस महीने में तामसी शक्ति का दमन कर सतोगुण से ऐश्वर्य प्राप्ति की कोशिश की जाती है. यह महीना आत्मिक शक्ति के विस्तार के बोध व परमात्मा को जानने का काल है.

इनका पारिवारिक वातावरण होगा सुखमय....जानें अपने राशिफल के बारे में

सामाजिक-राजनीतिक व्यक्तियों के लिए समय लाभप्रद रहेगा. प्रियजनों का आवागमन. सुख-संपदा, लोकप्रियता की वृद्धि होगी.

देवघर : श्रावणी मेले का अर्थशास्त्र : "275 करोड़ के कारोबार का हैं अनुमान

देवघर : बाबा नगरी की अर्थव्यवस्था को विश्व प्रसिद्ध श्रावणी मेले से गति मिलती है. पिछले कुछ वर्षों के आंकड़ों को देखें, तो श्रावणी मेले के दौरान 45 से 50 लाख श्रद्धालु बैद्यनाथ धाम आते हैं. हजारों लोगों को रोजगार देनेवाले इस एक माह के मेले में इस बार करीब 275 करोड़ रुपये के कारोबार का अनुमान है. पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष कई सामग्रियों की दरों में बढ़ोतरी होने से 10 फीसदी अधिक कारोबार होने की उम्मीद जतायी जा रही है.

ज्‍योतिष परामर्श

क्या घर में वुडन फ़्लोरिंग अशुभ है ? जानें क्या कहते हैं सद्‌गुरु स्वामी आनंद जी

सद्‌गुरु स्वामी आनंद जी एक आधुनिक सन्यासी हैं, जो पाखंड के धुरविरोधी हैं और संपूर्ण विश्व में भारतीय आध्यात्म व दर्शन के तार्किक तथा वैज्ञानिक पक्ष को उजागर कर रहे हैं. सद्‌गुरुश्री के नाम से प्रख्यात कार्पोरेट सेक्टर से अध्यात्म में क़दम रखने वाले यह आध्यात्मिक गुरु नक्षत्रीय गणनाओं तथा गूढ़ विधाओं में पारंगत हैं तथा मनुष्य के आध्यात्मिक, सामाजिक एवं मनोवैज्ञानिक व्यवहार की गहरी पकड़ रखते हैं. आप भी इनसे अपनी समस्याओं को लेकर सवाल पूछ सकते हैं. इसके लिए आप इन समस्याओं के संबंध में लोगों के द्वारा किये गये सवाल के अंत में पता देख सकते हैं...

वास्तविकता के साथ जीने की कला सीखना ही है जीवन का सत्य

व्रत से होता है आध्यात्मिक लाभ

हर काम में रुकावट, पितृदोष तो नहीं!

धर्म-कर्म

आत्मिक शक्ति के विस्तार का महीना है श्रावण

श्रावण हिंदू कैलेंडर का पंचम माह है, जिसे वर्ष के सर्वाधिक पवित्र मास में से एक माना जाता है. वर्षा ऋतु के इस महीने में तामसी शक्ति का दमन कर सतोगुण से ऐश्वर्य प्राप्ति की कोशिश की जाती है. यह महीना आत्मिक शक्ति के विस्तार के बोध व परमात्मा को जानने का काल है.

देवघर : श्रावणी मेले का अर्थशास्त्र : "275 करोड़ के कारोबार का हैं अनुमान

श्रेष्ठ है सोमवारी पर शिवलिंग-पूजन, जानें पूजा की विधि

शिव के अर्द्धनारीश्वर रूप और भृंगी का रहस्य

सावन खास : हर सोमवारी को करें शिवलिंग की आराधना, परेशानी दूर करने के लिए करें ये उपाय