ताजा खबर

कहानी :  सियाबर सिपाही
कहानी : सियाबर सिपाही3 days ago

अपने समय का खुरदरापन है मेरी रचनाओं की पहचान
अपने समय का खुरदरापन है मेरी रचनाओं की पहचान9 days ago

100@ कैफी आजमी : कोई खिड़की इसी दीवार में खुल जायेगी
100@ कैफी आजमी : कोई खिड़की इसी दीवार में खुल जायेगी6 days ago

शरतचंद्र जिन्होंने अपनी रचनाओं में नारी को इंसान के रूप में जगह दी और माना सतीत्व ही मर्म नहीं जीवन का
शरतचंद्र जिन्होंने अपनी रचनाओं में नारी को इंसान के रूप में जगह दी और माना सतीत्व ही मर्म नहीं जीवन का4 days ago

सम्मान पाने के बाद बोले डॉ उत्तम पीयूष, भरोसा बढ़ता है कि शब्द की यात्रा में सबकुछ चूक नहीं गया ...
सम्मान पाने के बाद बोले डॉ उत्तम पीयूष, भरोसा बढ़ता है कि शब्द की यात्रा में सबकुछ चूक नहीं गया ...3 days ago

World Hindi Day : 44 साल पहले नागपुर से शुरू होकर विश्व फलक पर परचम लहरा रही हिंदी
World Hindi Day : 44 साल पहले नागपुर से शुरू होकर विश्व फलक पर परचम लहरा रही हिंदी11 days ago

‘सरस्वती सम्मान' से नवाजे जायेंगे गुजराती साहित्यकार सितांशु यशश्चंद्र
‘सरस्वती सम्मान' से नवाजे जायेंगे गुजराती साहित्यकार सितांशु यशश्चंद्र11 days ago

अभिषेक कुमार की कविता ‘विश्वास’
अभिषेक कुमार की कविता ‘विश्वास’30 days ago

ईश-वंदना
ईश-वंदना38 days ago

जो कुछ नहीं करता, जो कुछ नहीं सोचता, वह मर जाता है, Jharkhand Literary Meet 2018 में बोले उदय प्रकाश

Highlights

जो कुछ नहीं करता, जो कुछ नहीं सोचता, वह मर जाता है, Jharkhand Literary Meet 2018 में बोले उदय प्रकाश43 days ago

सोशल मीडिया आज का आविष्कार है, इसकी ताकत का इस्तेमाल होना चाहिए : नीलोत्पल मृणाल
सोशल मीडिया आज का आविष्कार है, इसकी ताकत का इस्तेमाल होना चाहिए : नीलोत्पल मृणाल43 days ago

हिंदी में चित्रा मुद्गल और संताली में श्याम बेसरा सहित 24 को साहित्य अकादमी पुरस्कार

Highlights

हिंदी में चित्रा मुद्गल और संताली में श्याम बेसरा सहित 24 को साहित्य अकादमी पुरस्कार46 days ago

भारत में जन्मी पाकिस्तानी कवयित्री फ़हमीदा रियाज़ का लंबी बीमारी के बाद निधन
भारत में जन्मी पाकिस्तानी कवयित्री फ़हमीदा रियाज़ का लंबी बीमारी के बाद निधन59 days ago

भगवान वैद्य ‘प्रखर’ और हरीश कुमार ‘अमित’ को मिलेगा वर्ष 2018 का आर्य स्मृति साहित्य सम्मान
भगवान वैद्य ‘प्रखर’ और हरीश कुमार ‘अमित’ को मिलेगा वर्ष 2018 का आर्य स्मृति साहित्य सम्मान59 days ago

बराक ओबामा की पत्नी मिशेल ओबामा की किताब ‘Becoming’ की रिकॉर्ड बिक्री
बराक ओबामा की पत्नी मिशेल ओबामा की किताब ‘Becoming’ की रिकॉर्ड बिक्री59 days ago

  • प्रभात साहित्य
  • वीडियो
  • बिहार
  • झारखंड
  • बंगाल
  • उत्तर प्रदेश
  • देश
  • अंतरराष्ट्रीय
  • खेल
  • टेक्नोलॉजी
  • L&S
  • इंटरटेनमेंट
  • Opinion
  • कारोबार
  • अध्यात्म
  • Women
  • बी पॉजिटिव

पुरोधा

सफदर हाशमी की पुण्यतिथि आज: पढ़ना-लिखना सीखो ओ मेहनत करने वालो...

इन जादुई पंक्तियों से आप जरूर रूबरू होंगे, लेकिन अगर यह भूल गये हैं कि इनके रचनाकार कौन हैं, तो हम आपको याद दिलाते हैं. जीहां, इन पंक्तियों के रचनाकार हैं मशहूर नाटककार और गीतकार सफदर हाशमी. इस गीत का प्रयोग साक्षरता मिशन के एक विज्ञापन में किया गया था, जो लोगों की जुबां पर चढ़ गया था.

यौमे पैदाईश राहत इंदौरी, पढ़ें कुछ दिलकश शायरी

#MirzaGhalib 221वीं जयंती : कहते हैं कि ग़ालिब का है अन्दाज़-ए बयां और...

आज पद्मश्री डॉ धर्मवीर भारती का जन्मदिन है, आप जानते हैं उन्हें...?

119वीं जयंती : शराब से नफरत करते थे रामवृक्ष बेनीपुरी, मधुशाला छपी तो हरिवंश राय से हुए थे नाराज

संस्मरण/यात्रा वृतांत

बराक ओबामा की पत्नी मिशेल ओबामा की किताब ‘Becoming’ की रिकॉर्ड बिक्री

न्यूयॉर्क : अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा की पत्नी मिशेल ओबामा के संस्मरण ‘बिकमिंग’ को लोग काफी पसंद कर रहे हैं. एक हफ्ते में ही किताब की 14 लाख से ज्यादा प्रतियां बिक चुकी हैं. क्राउन पब्लिशिंग ने बताया कि 13 नवंबर को रिलीज हुई किताब की अमेरिका और कनाडा में डिजिटल और प्रिंट समेत 14 लाख प्रतियां बिक चुकी हैं. मांग के आधार पर प्रकाशकों ने किताब की 30 लाख प्रतियां छपवायी हैं.

कालजयी

पढ़ें, गीत चतुर्वेदी की चार कविताएं

गीत चतुर्वेदी का जन्म 27 नवंबर 1977 को मुंबई हुआ है और अबतक इनकी नौ किताबें प्रकाशित हैं. इनका ताजा कविता संग्रह ‘न्यूनतम मैं’ हिंदी की बेस्टसेलर किताबों की सूची में शामिल है. कई देशी-विदेशी प्रकाशन-संस्थान उन्हें भारतीय भाषाओं के सर्वश्रेष्ठ लेखकों में से एक मानते हैं. उनकी रचनाएं दुनिया की 19 भाषाओं में अनूदित हो चुकी हैं.

नवसृजन

कहानी : अतीत की खूंटी

पिछले 8 साल से शेखर का मन उसी अतीत की खूंटी से टंगा है. खूंटी के सहारे कुछ यादें लटकी हैं , जिनमें से अधिकतर को जंग लगने लगा है. कितनी बार शेखर को लगा कि खूंटी उखाड़ कर फेंक दे पर कुछ था जो रोक रहा था. जाने क्या था...जो भी था शेखर के अहं को तुष्ट करता था. आदमी का अहं तुष्ट होना ही उसके जीवन की सार्थकता है

पढ़ें, सच के करीब ध्रुव गुप्त की लिखी एक कहानी ‘आस’

खबर

World Hindi Day : 44 साल पहले नागपुर से शुरू होकर विश्व फलक पर परचम लहरा रही हिंदी

नयी दिल्ली : आज 10 जनवरी है. यही वह तारीख है, जब बीते एक दशक से विश्व हिंदी दिवस का आयोजन किया जा रहा है, मगर यह बहुत कम लोग ही जानते हैं कि आज से करीब 44 साल पहले 10 जनवरी, 1975 को नागपुर में विश्व हिंदी सम्मेलन की शुरुआत की गयी थी. करीब चार दशक से अधिक के वक्त में गैर-हिंदी भाषी क्षेत्र से सफर शुरू करने के बाद इस समय हमारे देश की राजभाषा हिंदी विश्व फलक पर अपना परचम लहरा रही है.

‘सरस्वती सम्मान' से नवाजे जायेंगे गुजराती साहित्यकार सितांशु यशश्चंद्र

विश्व पुस्तक मेले का उद्‌घाटन, जावड़ेकर ने कहा पढ़ने की संस्कृति का विस्तार होना चाहिए

भगवान वैद्य ‘प्रखर’ और हरीश कुमार ’अमित’ को ममता कालिया ने प्रदान किया आर्य स्मृति साहित्य सम्मान

देश के सर्वोच्च साहित्य सम्मान ज्ञानपीठ पुरस्कार पाने वाले अंग्रेजी के पहले लेखक बने अमिताव घोष