पाठक का पत्र

बाढ़ से बचाव की पहल करे केंद्र व राज्य की सरकार

Prabhat Khabar

एक और जहां हम चंद्रयान दो के सफल प्रक्षेपण का जश्न मना रहे हैं, वहीं कुछ पूर्वोत्तर भारत में बाढ़ की विभीषिका से भी रूबरू हो रहे हैं. खासकर बिहार में जहां नेपाल द्वारा छोड़े गये पानी के कारण हर साल करोड़ों रुपये की क्षति व जान-माल का नुकसान हो रहा है. पुराने समय में कोसी परियोजना गंडक परियोजना के जरिये नहर बनाकर बाढ़ के पानी को खेतों की ओर मोड़ दिया जाता था, जिससे पटवन के समय इसका उपयोग किया जाता था.

Columns

हिमालय से हिंद महासागर तक संघर्ष

प्रो सतीश कुमार

भारत और चीन के बीच अनौपचारिक वार्ता एक नये संबंध का आगाज बन सकता है. प्रधानमंत्री मोदी की कूटनीति ...

Columns

शहरों की विफलता के जिम्मेदार

प्रभु चावला

गैतिहासिक काल के मोहनजोदड़ो से शुरुआत कर वैदिक काल के इंद्रप्रस्थ और प्राचीन रोम तक शहरों पर उनके ...

Columns

सच्चे अर्थों में लोकनायक थे जेपी

कृष्‍ण प्रताप सिंह

ग्यारह अक्तूबर, 1902 को उत्तर प्रदेश व बिहार की सीमा पर स्थित, बलिया व सारण जिलों के बीच बंटे और ...

Columns

बदल रही है युद्ध प्रणाली

आकार पटेल

अखबारों से पता चला कि भारतीय वायु सेना 200 लड़ाकू विमान और लेना चाहती है और इस संबंध में विभिन्न ...

Columnists

भारत-चीन संबंधों का नया दौर

भारत-चीन संबंधों की सरगर्मी क्षेत्रीय शांति व विकास की शुरुआत का एक बड़ा कदम माना जा सकता है. सीमा विवाद, कश्मीर और तिब्बत से जुड़े मतभेदों को दरकिनार कर द्विपक्षीय आर्थिक और राजनैतिक हितों को आगे बढ़ाना सकारात्मक कदम है.

संस्कृति विभाग हो राज्यव्यापी

वर्षों पूर्व के प्रस्ताव पर मुहर लगाते हुए बिहार सरकार ने कला-संस्कृति विभाग को राज्यव्यापी बनाने के उद्देश्य से प्रत्येक जिले में कला-संस्कृति कार्यालय की स्थापना और कला-संस्कृति पदाधिकारी व अन्य कर्मियों की नियुक्ति का फैसला लिया है, जो स्वागत योग्य है. झारखंड सरकार को इसका अनुकरण करना चाहिए. गौरतलब है कि झारखंड में कला-संस्कृति सर्वाधिक उपेक्षित विभाग है.

पीएम का स्वच्छता का संदेश

चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ अनौपचारिक वार्ता के लिए मामल्लपुरम के ऐतिहासिक नगर में मौजूद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जिस तरह समुद्र तट पर ''प्लॉगिंग'' की, वह अभूतपूर्व है. उन्होंने सुबह की सैर के दौरान प्लास्टिक का कूड़ा, पानी की बोतलें और दूसरे प्रकार के कचरे को उठा कर एक खूबसूरत अंदाज में स्वच्छता का संदेश दिया.

स्कूली फर्जीवाड़े पर प्रहार!

स्कूल ही शिक्षा के असली मंदिर हैं, जिनके व्यापक और पारदर्शी सुधार के बिना आगे नहीं बढ़ा जा सकता. खबर है कि देश के सभी सरकारी, प्राइवेट और सहायता प्राप्त स्कूलों से फर्जीवाड़े को खत्म करने के लिए इन्हें जियो टैग से जोड़ा जायेगा. इसके लिए इनका व्यापक सर्वे होगा, ताकि इनका पूरा और सही विवरण आसानी से मिल सके.

शी जिन पिंग से कोई उम्मीद नहीं

1962 की धोखेबाजी से डोकलाम विवाद तक चीन सुधरा नहीं है. यह सामंतवादी देश केवल और केवल व्यापार और भूमि पर कब्जा करने की मानसिकता से संबंध रखता है.

देश से रावण रूपी बुराई जाती क्यों नहीं

यक्ष प्रश्न यह है कि हम एक अरब पैंतीस करोड़ भारतीय हर साल बुराई के प्रतीक हजारों-लाखों रावणों को दशहरा के अवसर पर जलाकर, कथित बुराई पर अच्छाई की जीत का जश्न खूब धूमधाम से मनाते हैं, तो अगले साल फिर से ये हजारों-लाखों रावण फिर से क्यों और कहां से पैदा हो जाते हैं, जिससे कि उन्हें फिर से जलाने की जरूरत आ पड़ती है.

राफेल की शस्त्र पूजा पर गर्व है

विजयादशमी और वायुसेना दिवस के शुभ मौके पर भारत ने हवाई क्षेत्र में गेमचेंजर समझे जाने वाले लड़ाकू जेट राफेल को औपचारिक रूप से हासिल कर लिया है. अपने पहले राफेल की शस्त्र पूजा के उपरांत भारतीय रक्षा मंत्री ने जब उसमें उड़ान भरी तो प्रत्येक भारतीय का सीना गर्व से चौड़ा हो गया. गौरतलब है कि फ्रांस की दसॉ एविएशन कंपनी से करार किए गए सभी 36 राफेल अप्रैल-मई 2022 तक ही भारत को मिल पायेंगे, लेकिन इस अवसर का सांकेतिक महत्व बड़ा है.

बेटियों के साथ न हो अन्याय

बात हैरान करने वाली है मगर खबरों पर यकीन करें, तो हैरतअंगेज से कम नहीं. दिल्ली की एक आइवीएफ क्लिनिक पर छापा क्या पड़ा, समाज का क्रूर चेहरा सामने आ गया. दिन के उजाले में प्रशासन की नाक के नीचे बेटों की तस्करी का धंधा फलता-फूलता रहा. अपने देश में भ्रूण परीक्षण प्रतिबंधित है.

सीरिया में और बढ़ेगी अशांति

सीरिया पिछले एक दशक से गृह युद्ध झेल रहा है. वहां हिंसा में इजाफा होने वाला है? अमेरिका का यह एलान कि वह अपने दो हजार सैनिकों को सीरिया से बाहर निकालेगा, दुखद निर्णय है. अफगानिस्तान से सैनिकों की वापसी नहीं हो पायी तो, अपने मतदाताओं को रिझाने के लिए उन्होंने ने यह एलान किया है. जबकि उनके दल के ही सांसद ऐसा करने से मना कर रहे हैं, क्योंकि ऐसा होने पर कुर्द लड़ाकों के लिए मुश्किलात खड़ी हो जायेगी. इस्लामिक स्टेट से यही संगठन अमेरिका के साथ मिलकर लड़ता रहा है.

पर्यावरण के प्रति सभी को पूर्ण सजगता रखनी होगी

हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के भीतर और अंतरराष्ट्रीय मंचों से पर्यावरण के रक्षार्थ उठाये जा रहे कदमों की जानकारी बार-बार दी गयी. उन्होंने नागरिकों से भी अपील करते की कि सिंगल यूस प्लास्टिक के इस्तेमाल से बचें.

प्लास्टिक का इस्तेमाल पूरी तरह से बंद होना चाहिए

एक बार इस्तेमाल होने वाली प्लास्टिक से बनी वस्तुओं के विकल्प रातों-रात उपलब्ध नहीं कराये जा सकते, लेकिन इस दिशा में तेजी से कदम उठाया जाना आवश्यक है. प्लास्टिक के खिलाफ शुरू किया जाने वाला अभियान केवल प्लास्टिक की थैलियों की जगह जूट या कपड़े के थैले या फिर प्लास्टिक के कप के स्थान पर कुल्हड़ के इस्तेमाल को बढ़ावा देने तक ही सीमित नहीं रहना चाहिए.

देवी की पूजा तभी पूर्ण है, जब नारी का सम्मान हो

नवरात्रि का महोत्सव पूरे उत्साह के साथ मनाया जा रहा है. लोग देवी के नौ रूपों की पूजा कर रहे हैं. हम सब जानते हैं कि भारतीय संस्कृति में नारी को देवी का रूप माना जाता है, जिसकी पूजा हम पूरी निष्ठा और आदरभाव के साथ करते हैं. वहीं दूसरी ओर आये दिन महिलाओं के साथ दुर्व्यवहार की खबरें भी आ रही हैं. नाबालिग बच्चियों को भी हवस का शिकार बनाया जा रहा है.