Columns

संविधान संशोधन का अर्थ

रामबहादुर राय

आजकल संविधान को लेकर जो बहस चल रही है, उसके गुण-दोष को छोड़ दें, तो एक अच्छी बात यह है कि संविधान की ओर लोगों का ध्यान गया है. इस बहस से एक बात अच्छी निकलकर कर आयेगी कि अब लोग संविधान के बारे में अधिक से अधिक लोग जान सकेंगे, साक्षर हो सकेंगे और जागरूक हो सकेंगे. दरअसल, इन चीजों को बहुत अभाव था, और अब भी है. पिछले कई सालों से मेरा प्रयास रहा है कि संविधान के प्रति जागरूकता बढ़े और लोग साक्षर हों.

Columns

कॉलेजियम व्यवस्था पर सवाल

विजय कुमार चौधरी

पिछले दिनों कोच्चि (केरल) में आयोजित एक कार्यक्रम में उच्चतम न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश कुरियन ...

Columns

संन्यास का फैसला धौनी पर छोड़ें

आशुतोष चतुर्वेदी

महेंद्र सिंह धौनी एक बार फिर सुर्खियों में है. कुछ-कुछ दिनों बाद धौनी चर्चा में आ जाते हैं. भारतीय ...

Columns

संविधान का मूल विचार

अनुज लुगुन

पिछले वर्ष सुप्रीम कोर्ट का एक आदेश सुर्खियों में था, जिसमें उसने करीब दस लाख से ज्यादा आदिवासियों ...

Columns

पीओके पर फैसले का समय

अवधेश कुमार

थलसेना अध्यक्ष जनरल मनोज मुकुंद नरवणे का यह बयान काफी महत्वपूर्ण है कि अगर संसद चाहे, तो पाकिस्तान ...

Columnists