• जामताड़ा : हल चलाते किसान पर गिरा 11 हजार वोल्ट का तार, दो बैलों सहित किसान की मौत

    जामताड़ा जिले में खेत जोतने गये किसान की मौत बिजली के 11 हजार वोल्ट की तार के चपेट में आने से हो गयी. घटना में किसान सहित दो मवेशी की भी मौत हो गयी. जानकारी के अनुसार रविवार की सुबह 5.30 बजे कुंडहित प्रखंड के अंबा पंचायत अंतर्गत सियारसुली गांव के 55 वर्षीय किसान मुक्तिपद माजी गांव से आधा किलोमीटर दूर भूतरबाद खेत में हल लेकर जा रहे थे,

  • झारखंड के ठग ने पंजाब के CM की पत्नी के 23 लाख उड़ाये, अमिताभ बच्चन से लेकर PMO के ऑफिसर को ठग चुके हैं

    जामताड़ा : जामताड़ा के साइबर ठगों ने इस बार पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह की सांसद पत्नी परनीत कौर को ही निशाना बना लिया है. साइबर ठग अताउल अंसारी ने परनीत कौर के खाते से 23 लाख रुपये उड़ा लिये. उसने सांसद के मोबाइल फोन कर कॉल कर खुद को एसबीआइ का मैनेजर बताते हुए कहा कि एकाउंट में सैलरी भेजनी है. एटीएम और सीवीवी नंबर बता दें, देर होने पर सैलरी अटक जायेगी. इसके बाद उसने ओटीपी लेकर रुपये उड़ा लिये. मैसेज देखते ही परनीत के होश उड़ गये.

  • जामताड़ा : पैसे की लालच में दंपती ने अपने ही नवजात का कर डाला सौदा

    मिहिजाम कुर्मीपाड़ा के एक नि:संतान दंपती को बेचा था बच्चा जामताड़ा : जामताड़ा के मिहिजाम थाना क्षेत्र से मानवता को शर्मशार करने वाली घटना सामने आयी है. जिसमें मिहिजाम के लीला नगर निवासी एक दंपती ने अपने नवजात बच्चे को बेच दिया. इस बात का खुलासा तब हुआ, जब बच्चे के दादा-दादी ने लीगल राइट्स सोशल डेवलपमेंट फाउंडेशन संस्था से संपर्क कर अपने बेटे और बहू पर ही बच्चा बेचने का आरोप लगाया.

  • फेस एप के खिलाफ जामताड़ा के मौलाना ने किया फतवा जारी

    जिले में अब फेस एप पर फतवा जारी हो गया है. जामताड़ा के मौलाना मोहम्मद इरफान ने यह फतवा जारी किया है. उन्होंने फेस एप को इस्लाम के खिलाफ बताया है. मुस्लिम धर्मगुरु का कहना है कि फेस एप में जो अपनी तस्वीर को बुढ़ा बनाकर फेसबुक में डाल रहे हैं यह अल्लाह के निजाम के खिलाफ है.

  • जामताड़ा : बालू का अवैध उठाव को रोकने गये डीएमओ को बनाया बंधक, विधायक की पहल पर छोड़े गये

    जामताड़ा :भंडारो घाट से बालू की अवैध उठाव को रोकने गये जिला खनन पदाधिकारी राजाराम प्रसाद को ग्रामीणों ने बंधक बना लिया. ग्रामीण अवैध बालू उठाव को रोकने के बदले गोलपहाड़ी माइंस को बंद कराने की मांग कर रहे थे. करीब पांच घंटे के बाद विधायक डॉ इरफान अंसारी की पहल पर डीएमओ मुक्त हुए. बताया जाता है कि रविवार की सुबह करीब आठ बजे गुप्त सूचना के आधार पर डीएमओ भंडारो घाट से हो रही बालू चोरी को रोकने के लिए गये थे.