• सिसई : बघनी कांड पर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डॉ रामेश्वर ने कहा : यह प्रजातंत्र है, पुलिस का शासन नहीं

    कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डॉ रामेश्वर उरांव घटना की सूचना पर सिसई पहुंचे. वे पहले अस्पताल गये और मृतक के परिजनों व ग्रामीणों से बात कर घटना की जानकारी ली. मौके पर प्रभात खबर के प्रतिनिधि से बात करते हुए डॉ रामेश्वर उरांव ने कहा कि बघनी गांव में घटित घटना की न्यायिक जांच हो. मृतक के परिवार को 20 लाख रुपये मुआवजा दिया जाये. जो घायल हैं. उनकी इलाज की व्यवस्था हो.

  • सिसई : बेटे की मौत के बाद पुलिस के सामने खड़ी हुई मां, कहा- बेटे की तरह मुझे भी गोली मार दो, जानें पूरा मामला

    गुमला के सिसई प्रखंड में बघनी गांव है. यहां उर्दू स्कूल है. जहां बूथ नंबर 36 था. इसी बूथ पर पुलिस व ग्रामीणों के बीच हिंसक झड़प हुई. पुलिस फायरिंग में गांव के जिलानी अंसारी की मौत हो गयी. जिलानी की मौत से इस गांव में गम व आक्रोश है. लोगों में गुस्सा इस कदर है कि कभी भी वह उग्र रूप ले सकता है. यहां बता दें कि सुबह सवा नौ बजे गांव में हिंसक झड़प हुई.

  • झारखंड चुनाव 2019 : गुमला के सिसई में पुलिस फायरिंग में वोटर की मौत के बाद वोटिंग बंद, गांव में तनाव, Video

    गुमला : सिसई विधानसभा क्षेत्र के बघनी गांव में मतदान के दौरान पुलिस और पब्लिक के बीच झड़प में एक मतदाता की मृत्यु हो गयी, जबकि दो गंभीर रूप से घायल हैं. क्षेत्र में मतदान करा रही पुलिस और ग्रामीणों के बीच झड़प हो गयी. आक्रोशित लोगों ने पुलिस पर पथराव कर दिया. इसके बाद पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की. अंधाधुंध फायरिंग में तीन युवक घायल हो गये, जिसमें एक की मौत हो गयी.

  • गुमला : सूई लगने के बाद बच्ची की तबीयत बिगड़ी, मौत

    गुमला : सिसई प्रखंड के मकुंदा गांव की बच्ची नेहा कुमारी की तबीयत दो दिन पहले सरकारी अस्पताल में सूई लगाने के बाद बिगड़ गयी. बाद में शुक्रवार की सुबह में बच्ची की इलाज के लिए गुमला अस्पताल लाने के क्रम में मौत हो गयी. बच्ची के पिता दुर्गा साव का कहना है कि वह पत्नी किरण देवी के साथ अपनी बेटी नेहा को गांव के ही मकुंदा अस्पताल में ले गये, जहां उसे टीका लगवाया था. इसके बाद शाम में बच्ची को बुखार होने लगा. गुरुवार को वह लोग बच्ची को लेकर रेफरल अस्पताल सिसई पहुंचे और चिकित्सक से मुलाकात की. चिकित्सक ने कहा कि खसरा के इंजेक्शन का दर्द होने से बुखार हो गया है.

  • बाइक दुर्घटनाग्रस्त, मजदूर की मौत, दो लोग घायल

    सदर थाना क्षेत्र के असनी गांव निवासी बंधना लोहरा (45) की शुक्रवार को खोरा गांव के पुल के समीप सड़क हादसे में मौत हो गयी. वहीं इस घटना में बंधना का साला भरदा गांव निवासी जितेंद्र लोहरा (30) व कुंवर लोहरा (35) गंभीर रूप से घायल हो गये. बंधना पत्थर तोड़ने का काम करता था.

  • हत्या के दो आरोपियों को आजीवन कारावास

    गुमला के एडीजे-छह राकेश कुमार मिश्रा की अदालत ने कामडारा थाना क्षेत्र के टुरूंडू निवासी रवींद्र प्रधान की हत्या के मामले में गांव के दो आरोपी मुन्नू प्रधान व ताऊ टोपनो को शुक्रवार को आजीवन कारावास की सजा सुनायी. दोनों आरोपियों को धारा 302 के तहत आजीवन कारावास की सजा व 20-20 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया गया है.

  • मारपीट व दहेज प्रताड़ना की प्राथमिकी दर्ज

    रायडीह थाना क्षेत्र के बोकटा सेमरटोली निवासी नेहा कुमारी ने अपने पति दुर्गा गोप के खिलाफ गुमला कोर्ट में मारपीट व दहेज प्रताड़ना का परिवाद दायर किया था. इसके आलोक में रायडीह थाना में दुर्गा गोप के खिलाफ मारपीट व दहेज प्रताड़ना का प्राथमिकी दर्ज की गयी. प्राथमिकी में कहा गया है कि नेहा कुमारी का विवाह दुर्गा महतो के साथ 23 जून 2018 को हुआ था.

  • बच्ची की मौत, इलाज में लापरवाही का आरोप

    सिसई प्रखंड के मकुंदा गांव की 15 माह की बच्ची नेहा कुमारी की मौत हो गयी. घटना शुक्रवार की सुबह की है. नेहा कुमारी काे सूई (15 माह में लगने वाला) उसके परिजनों ने गांव के ही सरकारी अस्पताल में बुधवार को दिलवाया था. नर्स ने सूई दी थी. सूई पड़ने के बाद बच्ची बीमार हो गयी और शुक्रवार को गांव से गुमला अस्पताल लाने के क्रम में मौत हो गयी.

  • पालकोट अब तक नहीं बना पर्यटन स्थल

    पालकोट प्रखंड को अब तक पर्यटन स्थल का दर्जा प्राप्त नहीं हुआ है, जबकि इस क्षेत्र की जनता लंबे समय से पालकोट को पर्यटन स्थल बनाने की मांग रहे हैं. लोकसभा चुनाव हो या विधानसभा चुनाव, यहां जो भी नेता चुनाव लड़ते हैं, पर्यटन स्थल का दर्जा दिलाने का वादा करते हैं, परंतु चुनाव खत्म होते ही नेता अपना वादा भूल जाते हैं.

  • टीकाकरण के दो दिन बाद बच्ची की मौत, माता-पिता ने अस्‍पताल पर लगाया लापरवाही का आरोप

    गुमला जिला अंतर्गत सिसई प्रखंड के मकुंदा गांव की 15 माह की बच्ची नेहा कुमारी की स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही के कारण मौत हो गयी. घटना शुक्रवार की सुबह की है. नेहा को 15 माह में पड़ने वाला सूई उसके परिजनों ने गांव के ही सरकारी अस्पताल में बुधवार को दिलवाया था. नर्स ने सूई दी थी. सूई पड़ने के बाद बच्ची बीमार हो गयी और शुक्रवार को गांव से गुमला अस्पताल लाने के क्रम में मौत हो गयी.

  • डायन कहना पड़ा महंगा, 10 हजार रुपये जुर्माना वसूला, पीटा भी

    गुमला में अक्सर अंधविश्वास में वृद्धों को पीटा जाता है. हत्या तक कर दी जाती है. परंतु गुमला में अंधविश्वास का एक अनोखा मामला सामने आया है. एक व्यक्ति द्वारा डायन कहने पर उसके परिवार को ग्रामीणों ने पीटा. गांव में बैठक कर 10 हजार रुपये जुर्माना भी वसूल लिया. मामला गुमला सदर थाना के गढ़सारू गांव का है.

  • मर्डर के दो आरोपियों को उम्रकैद की सजा, 20-20 हजार रुपये का जुर्माना भी लगा

    गुमला के एडीजे-छह राकेश कुमार मिश्रा की अदालत ने शुक्रवार को कामडारा थाना क्षेत्र के टुरूंडू निवासी रविंद्र प्रधान की हत्या के मामले में गांव के दो आरोपी मुन्नू प्रधान व ताऊ तोपनो को आजीवन कारावास की सजा सुनायी. दोनों आरोपियों को धारा 302 के तहत आजीवन कारावास की सजा व 20-20 हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया है. जुर्माना की राशि नहीं देने पर दो साल की अतिरिक्त सजा भुगतनी पड़ सकती है.

  • 332 मतदान केंद्रों में सात को पड़ेंगे वोट

    सिसई विधानसभा सीट के लिए सात दिसंबर को प्रात: सात बजे से अपराह्न तीन बजे तक वोट डाले जायेंगे. मतदान की सभी तैयारी पूरी कर ली गयी है. यह जानकारी जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह उपायुक्त शशि रंजन ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में दी. श्री रंजन ने बताया कि सिसई विधानसभा क्षेत्र में मतदान के लिए कुल 332 मतदान केंद्र एवं 50 कलस्टर बनाये गये हैं.

  • निष्पक्ष व शांतिपूर्ण मतदान के लिए सतर्कता जरूरी : डीसी

    विधानसभा चुनाव के द्वितीय चरण में सिसई विधानसभा सीट के लिए सात दिसंबर को वोट पड़ेंगे. मतदान की तैयारी को लेकर जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह उपायुक्त शशि रंजन व पुलिस अधीक्षक अंजनी कुमार झा ने गुरुवार को नगर भवन गुमला में सेक्टर पदाधिकारियों व पुलिस पदाधिकारियों के साथ बैठक की.

  • चल रहा था वनभोज, प्रशासन पहुंचा, तो भागने लगे

    पालकोट प्रखंड के गोबरसिल्ली आम बगान के समीप वनभोज का आनंद उठा रहे लोगों को उस समय भागना पड़ा, जब प्रशासन के लोग वहां पहुंच गये और वीडियो रिकॉर्डिंग करने लगे. अफरा तफरी का माहौल हो गया. कुछ लोग हेलमेट पहन कर चेहरा छिपाते नजर आये. कुछ नेता भी मौजूद थे. प्रशासन ने जब पूछताछ शुरू

  • कच्ची सड़क व गंदगी है शहीद के गांव के पहचान

    सिसई विधानसभा सीट के लिए मतदान सात दिसंबर को है. चुनावी सरगर्मी उफान पर है, परंतु विधानसभा क्षेत्र के कई गांव अभी भी चुनावी माहौल से दूर हैं. इसी क्षेत्र में शहीद संतोष गोप का पैतृक गांव टेंगरा भी है. यह बसिया प्रखंड में पड़ता है. 12 अक्तूबर 2019 को भारत-पाक बॉर्डर पर पाकिस्तान द्वारा की गयी गोलीबारी में संतोष गोप शहीद हुए थे.

  • गुमला : चल रहा था चुनावी वनभोज, प्रशासन को देखते ही सभी लगे भागने

    सिमडेगा विधानसभा के पालकोट प्रखंड के गोबरसिल्ली आम बगान के समीप वनभोज का आनंद उठा रहे लोगों को उस समय भागना पड़ा, जब प्रशासन वहां पहुंचकर वीडियो रिकॉर्डिंग करने लगा. अफरा-तफरी का माहौल हो गया. जिसे जहां मिला, वह उधर भाग निकला. कुछ लोग हेलमेट पहनकर चेहरा छिपाते नजर आये. कुछ नेता भी मौजूद थे. प्रशासन ने जब पूछताछ शुरू की तो नेताओं की बोलती बंद हो गयी. सभी नेता इधर-उधर की बातें करते हुए वहां से खिसक गये.

  • गुजरात का कोई मोदी आयेगा और बैंक में रखे आपके सारे पैसे ले जायेगा, गुमला में बोले हेमंत सोरेन

    झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने भाजपा और रघुवर सरकार पर गुरुवार को गुमला में जमकर हमला बोला. कई लोकलुभावन वायदे किये. जनता से अपील की कि वे अपने पैसे बैंकों में न रखें. वर्ना एक दिन गुजरात से कोई मोदी आयेगा और उनके सारे पैसे लेकर विदेश भाग जायेगा. श्री सोरेन ने अपील की कि इस बार झामुमो की सरकार बनायें. उन्हें मुफ्त बिजली मिलेगी. बेरोजगार युवाओं को हर महीने 5,000 रुपये बेरोजगारी भत्ता मिलेगा.

  • अंधविश्वास में जकड़े हैं सिसई के कई गांव, शक में कईयों की हो चुकी है हत्या

    सिसई विधानसभा क्षेत्र के कई गांवों को आज भी अंधविश्वास ने जकड़ रखा है. इन गांवों में डायन-बिसाही के शक में कई वृद्धों को प्रताड़ित किया जाता रहा है, लेकिन दुर्भाग्य है कि कभी कोई विधायक ने अंधविश्वास के खिलाफ काम नहीं किया. यही वजह है कि आज भी कई ऐसे गांव हैं, जहां वृद्ध होना उस वृद्ध के लिए अभिशाप बन जाता है.

  • समाज हित की बात करने वाले को देंगे समर्थन

    प्रखंड कांग्रेस पार्टी के चुनाव कार्यालय में अखिल भारतीय केशरवानी वैश्य समाज के मंत्री कमला प्रसाद केसरी व राष्ट्रीय कार्यकारी सदस्य लालमोहन केसरी ने समाज के लोगों से मुलाकात की. उन्होंने कहा कि समाज के हित में जो आरक्षण 27 प्रतिशत था, उसे भाजपा सरकार ने घटा कर 14 प्रतिशत कर दिया.

  • शांति सदन को सामािजक संस्था जीवन ने एक माह का राशन दिया

    गुमला के एसडीओ जितेंद्र कुमार देव, एथलेटिक्स संघ के अध्यक्ष फादर रामू भिंसेंट मिंज व सामाजिक संस्था जीवन के अनिकेत कुमार, कौशल मंत्री, सौरव नायक, राहुल केसरी, सुमित केसरी, सोनू कुमार, सूचित अग्रवाल ने बुधवार को गुमला के अरमई बेहराटोली स्थित महिला मानसिक रोगियों के लिए संचालित शांति सदन का दौरा किया.

  • जनता हित की बात करने वाले को ही समर्थन

    बसिया प्रखंड के कुम्हारी गांव स्थित महतो होटल में पकौड़ी व चाय के साथ एक घंटे तक चुनावी परिचर्चा चली. परिचर्चा में सभी लोग अलग-अगल बातें कर रहे थे, लेकिन सभी की सोच एक थी, जो सिसई व बसिया सड़क बनवाने का वादा करेगा, उसी नेताजी को वोट देंगे. कुछ लोगों ने कुम्हारी अस्पताल को चालू कराने का भी मुद्दा उठाया.

  • गुमला में शिक्षक पर सहकर्मी की पत्नी के साथ छेड़खानी का आरोप, मामला दर्ज

    गुमला सदर थाना के टोटो गांव की महिला ने गुमला थाना में लिखित आवेदन सौंप कर झारगांव स्कूल के शिक्षक राजेश कुमार सोनी पर छेड़खानी का आरोप लगाते हुए प्राथमिकी दर्ज करायी है.

  • गुमला :भाई और भाभी की हत्या के आरोपी को उम्रकैद की सजा

    गुमला : बिशुनपुर थाना क्षेत्र के डीपाडीह करमटोली निवासी सुशील उरांव को दोहरे हत्याकांड के एक मामले में मंगलवार को एडीजे-छह राकेश कुमार मिश्रा की अदालत ने आजीवन करावास की सजा सुनायी है.

  • आश्वासन देनेवाले नेताओं को सबक सिखाने के मूड में हैं वोटर

    चुनावी बेला और गांवों का भ्रमण. एक अलग ही मजा व रोमांच होता है. गांव की दुर्दशा सामने आती है. वोटरों के मुंह से कई तरह की बातें निकलती है. नेताओं से नाराजगी दिखती है, तो नेताओं के कामों से कहीं लोग खुश नजर आते हैं. ऐसे ही चुनावी भ्रमण में मंगलवार को प्रभात खबर के प्रतिनिधि दुर्जय पासवान ने सिसई विधानसभा क्षेत्र के शहीद तेलंगा खड़िया की जन्म व कर्मभूमि पहुंचे.

  • जन-जन तक पहुंचा है योजनाओं का लाभ

    साधु संत समाज और झारखंड सरकार को धन्यवाद, जो गौ रक्षा कानून को सुदृढ़ किया. धर्मांतरण अधिनियम 2017 पारित किया, जिससे धर्मांतरण में रोक लगी है. ये बातें साधु संत समाज के प्रांत संगठन मंत्री सह मोदी मिशन के संत स्वामी दिव्यज्ञान महाराज जी ने मंगलवार को सिसई प्रवास के दौरान प्रेसवार्ता में कही.

  • अभिभावकों को मतदान के लिए प्रेरित करें: प्राचार्य

    लचरागढ़ स्थित प्रस्तावित उच्च विद्यालय में प्रभात खबर द्वारा वोट करें राज्य गढ़ें कार्यक्रम के तहत मतदाता जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया. मतदाता जागरूकता के तहत विद्यालय के छात्र-छात्राओं ने जागरूकता रैली भी निकाली. इस क्रम में लोगों को मतदान करने के लिए प्रेरित किया.

  • भाई-भाभी की हत्या के आरोपी को उम्रकैद

    बिशुनपुर थाना क्षेत्र के डीपाडीह करमटोली निवासी सुशील उरांव को दोहरे हत्याकांड के एक मामले में मंगलवार को एडीजे-छह राकेश कुमार मिश्रा की अदालत ने आजीवन करावास की सजा सुनायी है. सुशील ने अपने भाई भोला उरांव व भाभी की हत्या की थी.

  • अलग-अलग हादसे में तीन लोगों की हुई मौत

    गुमला जिले के तीन अलग-अलग स्थानों में हुए हादसे में तीन लोगों की मौत हो गयी, जिसमें महुआडांड़ के परहाटोली निवासी शंकर नगेशिया (45), पतागाई डीपाटोली निवासी अमित उरांव (13) व लोंडरा करंज निवासी सुकरा मुंडा उर्फ पानो मुंडा (50) शामिल हैं.

  • भैया-भाभी की हत्या करने वाले आरोपी छोटे भाई को आजीवन कारावास की सजा

    बिशुनपुर थाना क्षेत्र के डीपाडीह करमटोली निवासी सुशील उरांव को दोहरे हत्याकांड के एक मामले में मंगलवार को गुमला के एडीजे राकेश कुमार मिश्रा की अदालत ने आजीवन करावास की सजा सुनायी है.

  • 'लोकतंत्र खातिर तेलंगा शहीद होलक, अब ई नेता मन उकर वंशज के चादर-धोती देवेना, इकर से का पेट भरी'

    ''वीर स्वतंत्रता सेनानी शहीद तेलंगा खड़िया लोकतंत्र कर खातिर जान देलक. अब नेता मन उकर वंशज के चादर-धोती देवैंना. इकर से का पेट भरी. नेता मन अपन जेब भरत हैं. मुदा, देश खातिर जान देवेक वाला शहीद कर वंशज उपरे नेता मन कर ध्यान नखे''. यह कहना है तेलंगा खड़िया के वंशज सोमरा पहान का.

  • अंधविश्वास में मां-बेटे पर जानलेवा हमला

    बिशुनपुर थाना क्षेत्र के घाघरा पंचायत के पिपराटोली गांव में ग्रामीणों ने अंधविश्वास में आकर गांव की ही वृद्ध महिला जितनी नागेशिया (92) व बेटा शनिचरवा नगेशिया पर रविवार की रात को जानलेवा हमला किया. दोनों किसी तरह भाग कर रात भर जंगल में रहे और सोमवार की सुबह बिशुन

  • हत्या व दुष्कर्म के िखलाफ एबीवीपी का आक्रोश मार्च

    अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद गुमला ने देश भर में महिलाओं व छात्राओं के साथ हो रहे छेड़खानी, हत्या व दुष्कर्म जैसे मामले के विरोध में आक्रोश मार्च निकाला. वहीं हैदराबाद में पशु चिकित्सक के साथ हुई घटना की निंदा की. परिषद कार्यकर्ताओं ने केओ कॉलेज परिसर से आक्रोश मार्च निकाल कर विरोध किया गया.

  • डर से कोई नेता वोट मांगने गांव नहीं घुसता

    बसिया प्रखंड में डाकिया गांव है. यह सिसई विधानसभा क्षेत्र में आता है. आज भी इस गांव के लोग वर्ष 2011 की घटना को नहीं भूले हैं. बढ़ई परिवार के पांच भाइयों की उग्रवादियों ने हत्या कर दी थी. इनका कसूर बस इतना था कि इन लोगों ने प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन पीएलएफआई के खिलाफ आवाज उठायी थी.

  • आठ साल पहले गांव में उग्रवादियों ने की थी पांच भाईयों की हत्या, डर से कोई नेता वोट मांगने नहीं आता

    बसिया प्रखंड में डाकिया गांव है. यह सिसई विधानसभा क्षेत्र में आता है. आज भी इस गांव के लोग वर्ष 2011 की घटना को नहीं भूले हैं. बढ़ई परिवार के पांच भाईयों की उग्रवादियों ने हत्या कर दी थी. इनका कसूर बस इतना था, कि इन लोगों ने प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन पीएलएफआई के खिलाफ आवाज उठायी थी. उस घटना के आठ साल हो गये. लेकिन अभी तक बढ़ी परिवार के सदस्यों को सरकार द्वारा जो मदद मिलनी चाहिए. वह मदद नहीं मिली है.

  • पुलवामा में शहीद विजय सोरेंग के पिता ने कहा : नक्सलवाद के खिलाफ करेंगे वोट, मेरे लिए जान नहीं, देश है प्यारा

    पुलवामा में हुए शहीद विजय सोरेंग के पिता बिशु सोरेंग ने नक्सलियों को खुली चुनौती देते हुए कहा है कि राज्य की जनता डरे नहीं. खुलकर वोट करें. नक्सलवाद के खिलाफ जबतक वोट नहीं होगा. राज्य व देश की तरक्की नहीं होगी. श्री सोरेंग रविवार को अपने घर बसिया प्रखंड के फरसामा गांव में प्रभात खबर से बात कर रहे थे. श्री सोरेंग गांव में ही रहकर खेतीबारी का काम देख रहे हैं. वे खुद सेना के जवान रह चुके हैं. 18 साल सेना व 19 साल सीआईएसएफ में नौकरी की है.

  • पहले चरण की वोटिंग के बाद रिलैक्स हैं प्रत्‍याशी, फैमिली व फ्रेंड्स को दे रहे टाइम

    गुमला विधानसभा का मतदान खत्म हो गया. मतदान के बाद सभी प्रत्याशियों ने राहत की सांस ली. कई प्रत्याशी एक महीने की मेहनत व भागदौड़ के बाद आराम के मूड में हैं. प्रभात खबर ने गुमला विधानसभा के तीन प्रत्याशियों की दिनचर्या की जानकारी ली है. अधिकांश प्रत्याशी अपने घर में आराम करते नजर आये. कोई अपने परिवार व दोस्तों के साथ समय दे रहा है. तो कुछ प्रत्याशी अपने पार्टी नेताओं से यह जानकारी प्राप्त करने में लगे हुए हैं कि किस बूथ से कितना वोट प्राप्त हुआ है.

  • गुमला से ग्राउंड रिपोर्ट : उग्रवाद का डर नहीं, विकास की छटपटाहट है

    प्रकृति का नियम है. समय के साथ बदलाव होता है. प्रकृति का यह नियम मनुष्य से लेकर पशु, पक्षी, पेड़-पौधे यहां तक कि विकास के कामों पर भी लागू होता है. कुछ इसी प्रकार के बदलाव की कहानी सिसई विधानसभा का बसिया प्रखंड बयां कर रही है. एक समय था. बसिया प्रखंड में उग्रवाद चरम पर था. यहां नरसंहार तक कि घटना घटी है. एक ही परिवार के पांच सदस्यों तक की हत्या उग्रवादियों ने कर दी है. इस क्षेत्र में विकास का काम कराना चुनौती साबित होता था.

  • बिशुनपुर विधानसभा क्षेत्र : वोट के साथ दिया नक्सली मंसूबे पर चोट

    गुमला : बिशुनपुर विधानसभा क्षेत्र में दहशत के बीच 67.04 प्रतिशत मतदान हुआ है. इस क्षेत्र में सभी आशंकाएं निर्मूल साबित हुई. बंदूक की जगह लोकतंत्र की जीत हुई. ऐसे वोटरों के मन में दहशत था. परंतु लोकतंत्र की मतबूती करने का जज्बा व उत्साह भी था. क्योंकि बिशुनपुर के कुछ इलाकों में जिस प्रकार हथियारबंद उग्रवादियों ने अपनी उपस्थिति दर्ज करायी थी.

  • गुमला विधानसभा क्षेत्र: पहली बार न कोई विध्न, न कोई डर, शांतिपूर्ण हुआ मतदान

    गुमला : न कोई विध्न पड़ा. न कहीं डर दिखा. राजनीतिक पार्टियों में भी कोई नोकझोंक नहीं हुई. गुमला विधानसभा में पहली बार शांतिपूर्ण 67.30 प्रतिशत वोटिंग हुआ है. 1951 के बाद 2019 का चुनाव यह पहला अवसर है. जब गुमला सीट में शांतिपूर्ण मतदान हुआ है. गुमला के अधिकांश बूथों में सुबह छह बजे से ही वोटर पहुंच गये थे. जैसे-जैसे पारी आयी. वोटरों ने बड़े आराम से वोट किया है. गुमला के संत पात्रिक स्कूल के बूथ संख्या 222 को सखी व मॉडल बूथ बनाया गया था.

  • गुमला : वोट बहिष्कार के फरमान से बेखौफ शहीद की पत्नी ने किया मतदान

    गुमला : नक्सलियों से मुठभेड़ में पति की शहादत के सात दिन बाद ही लालमणि देवी ने लोकतंत्र के महापर्व में शामिल हो सबको एक संदेश दिया कि लोकतंत्र की मजबूती में ही हमारी भी ताकत है. शनिवार को उन्होंने गुमला के घाघरा प्रखंड स्थित अपने ससुराल चुन्नू गांव में मतदान किया. उल्लेखनीय है कि नक्सलियों ने इस क्षेत्र में वोट बहिष्कार की घोषणा कर रखी थी.

  • गुमला में नक्सलियों ने विस्फोट किया, पलामू में कांग्रेस प्रत्याशी ने निकाला रिवाल्वर, हुसैनाबाद में आजसू और एनसीपी में भिड़ंत

    रांची : छिटपुट घटनाओं को छोड़ दें, तो झारखंड विधानसभा चुनाव के पहले चरण में राज्य के छह जिलों चतरा, गुमला, लोहरदगा, लातेहार, पलामू और गढ़वा के 13 विधानसभा क्षेत्रों में शनिवार को मतदान शांतिपूर्ण संपन्न हुआ.

  • झारखंड विस चुनाव : गुमला प्रशासन ने भेजी गाड़ी, फिर भी वोट के लिए नहीं गयीं अलबर्ट एक्का की पत्नी बलमदीना एक्का

    जारी : परमवीर चक्र विजेता अलबर्ट एक्का की पत्नी बलमदीना एक्का विधानसभा चुनाव में वोट नहीं डाला. इससे पहले लोकसभा व विधानसभा चुनाव (2009) में भी मतदान नहीं कर सकी थीं. इस बार बीमार होने के कारण वह बूथ नहीं जा सकीं. इधर शनिवार को जिला प्रशासन ने बलमदीना एक्का के लिए वाहन की व्यवस्था की थी, परंतु बलमदीना ने बीमार होने का हवाला देकर बूथ जाने से इंकार कर दिया.

  • गुमला व बिशुनपुर विस क्षेत्र में शांतिपूर्ण मतदान

    विधानसभा निर्वाचन 2019 के निमित गुमला विधानसभा क्षेत्र में 67.30 और बिशुनपुर विधानसभा क्षेत्र में 67.04 प्रतिशत मतदान हुआ है. यह जानकारी जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह उपायुक्त शशि रंजन ने शनिवार की देर शाम प्रेस कॉन्फ्रेंस में दी. उन्होंने कहा कि गत विधानसभा चुनाव की अपेक्षा इस बार के विधानसभा चुनाव में तीन प्रतिशत मतदान बढ़ा है, जो लोकतंत्र के लिए काफी अच्छा है.

  • लोगों ने वोट से दिया गोली का जवाब

    सुबह 7.30 बजे संत पात्रिक स्कूल गुमला के बूथ नंबर 222 पर सूचना मिली कि बिशुनपुर विधानसभा क्षेत्र के घाघरा पंचायत स्थित कठठोकवा पुल को उड़ाने के लिए नक्सलियों ने शक्तिशाली बम विस्फोट किया है. ग्रामीण दहशत में हैं.

  • शहीद अलबर्ट एक्का की पत्नी नहीं कर सकी वोट

    परमवीर चक्र विजेता अलबर्ट एक्का की पत्नी बलमदीना एक्का इसबार भी विधानसभा चुनाव में वोट नहीं कर सकी. इससे पहले लोकसभा व विधानसभा चुनाव में भी वह मतदान नहीं कर सकी थी. हालांकि इस बार बीमार होने के कारण वह बूथ नहीं पहुंच सकी. ऐसे प्रशासन ने बलमदीना एक्का के लिए वाहन की व्यवस्था की थी, परंतु बलमदीना ने बीमार होने का हवाला देकर बूथ जाने से इंकार कर दिया.

  • दो सूरदास बहनों ने किया वोट

    बिशुनपुर विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत प्राइमरी स्कूल जमगाई में बूथ संख्या 183 में कुल 518 वोट में 426 वोट पड़े. इस बूथ में दो सूरदास बहनें राजमुनी कुमारी व शांति कुमारी ने वोट किया.

  • वोट बहिष्कार के फरमान से बेखौफ शहीद की पत्नी ने किया मतदान

    नक्सलियों से मुठभेड़ में पति की शहादत के सात दिन बाद ही लालमणि देवी ने लोकतंत्र के महापर्व में शामिल हो सबको एक संदेश दिया कि लोकतंत्र की मजबूती में ही हमारी भी ताकत है.

  • गुमला : बिशुनपुर में दहशत के बीच 67.04 % वोटिंग, गुमला में शांतिपूर्ण 67.30 % वोटिंग

    बिशुनपुर विधानसभा क्षेत्र में दहशत के बीच 67.04 प्रतिशत वोटिंग हुआ है. इस क्षेत्र में सभी आशंकाएं निर्मूल साबित हुई. बंदूक की जगह लोकतंत्र की जीत हुई. एक ओर वोटरों के मन में दहशत था. परंतु लोकतंत्र की मजबूती का जज्बा व उत्साह भी था. क्योंकि बिशुनपुर के कुछ इलाकों में जिस प्रकार हथियारबंद उग्रवादियों ने अपनी उपस्थिति दर्ज करायी थी. शुरू में लग रहा था कि 50 प्रतिशत भी वोटिंग नहीं होगी. परंतु जैसे-जैसे धूप खिलती गयी.

  • शहीद अलबर्ट एक्‍का की बीमार पत्नी नहीं कर पायी मतदान, शहीद सुकरा की पत्नी ने वोट डाल दी नक्सलियों को चुनौती

    परमवीर चक्र विजेता शहीद अलबर्ट एक्का की पत्नी बलमदीना एक्का इसबार भी विधानसभा चुनाव में वोट नहीं कर सकीं. इससे पहले लोकसभा व विधानसभा चुनाव में भी वह मतदान नहीं कर पायी थीं. हालांकि इसबार बीमार होने के कारण वह बूथ नहीं पहुंच सकी. वैसे प्रशासन ने बलमदीना के लिए वाहन की व्यवस्था की थी. परंतु बलमदीना ने बीमार होने का हवाला देकर बूथ तक जाने से इनकार कर दिया.

  • बिशुनपुर विधानसभा सीट पर शुरू हुआ मतदान, मतदाताओं में दिख रहा है वोटिंग का उत्साह

    झारखंड विधानसभा चुनाव-2019 के लिए प्रथम चरण के तहत 13 विधानसभा सीटों पर मतदान शुरू हो गया है. गुमला जिला स्थित बिशुनपुर विधानसभा सीट में सुबह से मतदान शुरू हो गया. सुबह होने और ठंड के बावजूद लोगों में मतदान को लेकर उत्साह दिख रहा है.

  • मतदानकर्मियों ने किया हंगामा

    गुमला विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत गुमला शहर से सटे तिर्रा गांव स्थित कलस्टर संख्या पांच में रहने और सोने की व्यवस्था नहीं होने के कारण पीठासीन व मतदान पदाधिकारियों में रोष दिखा. कलस्टर में अव्यवस्था को लेकर पदाधिकारियों ने हंगामा भी किया. तिर्रा गांव के राजकीयकृत उत्क्रमित मध्य विद्यालय को कलस्टर बनाया गया है.

  • गुमला के तिर्रा कलस्टर संख्या-5 में ठहरने और सोने की व्यवस्था नहीं, मतदानकर्मियों ने किया हंगामा

    गुमला विधानसभा अंतर्गत गुमला शहर से सटे तिर्रा गांव के कलस्टर संख्या पांच में रहने और सोने की व्यवस्था नहीं होने के कारण पीठासीन व मतदान पदाधिकारियों में रोष दिखा. कलस्टर में अव्यवस्था को लेकर पदाधिकारियों ने हंगामा भी किया. तिर्रा गांव के राजकीयकृत उत्क्रमित मध्य विद्यालय को कलस्टर बनाया गया है. जहां पुलिस जवानों सहित पांच बूथों (बूथ संख्या 155, 156, 157, 158 एवं 159) के पीठासीन व मतदान पदाधिकारियों एवं कलस्टर मजिस्ट्रेट के ठहरने के लिए विद्यालय के चार कमरों की व्यवस्था की गयी थी.

  • झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 : भ्रष्टाचार से मुक्त करेंगे झारखंड को : मुख्यमंत्री रघुवर दास

    सिसई (गुमला) : झारखंड में आतंक व भ्रष्टाचार से मुक्त होना चाहते हैं, तो मिलावटी गठबंधन से दूर रहें. आप झारखंड निर्माण के 14 साल देख चुके हैं. कांग्रेस व झामुमो की नियत लूटने की है. अल्पमत सरकार के कारण 2014 के पूर्व हर वर्ष सरकार गिरती थी.

  • गुमला : अस्पताल में आठ दिन की बच्ची को छोड़ मां-बाप भागे

    गुमला : गुमला सदर अस्पताल के एसएनसीयू में भर्ती आठ दिन की बच्ची को छोड़कर उसके मां-बाप भाग गये हैं. बच्ची 18 नवंबर को पैदा हुई थी. अस्पताल प्रबंधन के अनुसार बेटी के जन्म की सूचना से परिवार का मनोबल टूट गया था.

  • गुमला : 8 दिन की नवजात बच्‍ची को अस्‍पताल में छोड़कर भागे दंपती

    आज भी कुछ लोग बेटा व बेटी पर फर्क करते हैं. ऐसा ही मामला गुमला में प्रकाश में आया है. गुमला सदर अस्पताल में एक परिवार नवजात बेटी को अस्पताल में छोड़कर भाग गया. बेटी के जन्म की सूचना से परिवार उदास था. अस्पताल प्रबंधन के अनुसार जब परिवार को पता चला कि नवजात बच्ची को कई प्रकार की बीमारी है तो वे लोग हताश हो गये. बच्ची को एसएनसीयू में भर्ती कराने के बाद बच्ची को छोड़कर भाग गये.

  • गुमला विस में तीर धनुष चलेगा या कमल खिलेगा? बिशुनपुर में अशोक व चमरा के बीच महात्मा की इंट्री

    गुमला विधानसभा सीट से 12 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं. लेकिन यहां मुकाबला भाजपा व झामुमो के बीच है. भाजपा के प्रत्याशी मिशिर कुजूर व झामुमो के प्रत्याशी भूषण तिर्की हैं. दोनों पार्टियों के प्रत्याशी ने चुनाव जीतने के लिए खूब तैयारी की है. कड़ी मेहनत भी की है. लेकिन भाजपा व झामुमो के बीच के मुकाबले में ऐसे भी प्रत्याशी हैं जो इन दोनों पार्टियों की जीत में रोड़ा बने हुए हैं. क्योंकि इसबार के चुनाव में भाजपा व झामुमो का वोट काटने के लिए कई उम्मीदवार मैदान में हैं.

  • बिशुनपुर विधानसभा: जीत के लिए भाजपा उम्मीदवार ने किये वादे, कहा- विकास की गंगा बहा दूंगा

    गुमला : बिशुनपुर विधानसभा सीट के लिए 30 नवंबर को मतदान है. यहां से 12 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं. इस सीट पर शुरू में भाजपा के अशोक उरांव व झामुमो के चमरा लिंडा के बीच मुकाबला माना जा रहा था, लेकिन जेवीएम के महात्मा उरांव ने भी क्षेत्र में लगातार मेहनत की जिस कारण मुकाबला अब त्रिकोणीय हो चुका है. इस विधानसभा सीट पर लगातार वोटरों का रूझान बदल रहा है. यहां की जनता का मानना है कि बिशुनपुर सीट में दिलचस्प टक्कर होगी और रिजल्ट भी चौंकाने वाला होगा. इसी बीच प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने भाजपा उम्मीदवार अशोक उरांव से बातचीत की.

  • नक्सलियों के गढ़ में लोकतंत्र गढ़ने पहुंचे मतदानकर्मी, कहा, मन में कोई डर नहीं, हम सफल होंगे

    लोकतंत्र की जय. जहां लोकतंत्र की बात होती है. वहां हर हथियार झुक जाता है. मन में न कोई आशंका है. न कोई डर व भय है. बस हमारा एक ही लक्ष्य है. मतदान कराना. उक्त बातें मतदानकर्मियों ने कही. 30 अप्रैल को पहले फेज का मतदान होगा. गुमला प्रशासन ने नक्सल प्रभावित बूथों के लिए पूरी तैयारी की है. गुरुवार को गुमला के पुग्गू हवाई अडडा से मतदानकर्मियों को सेना के हेलीकॉप्टर से पेशरार कलस्टर भेजा गया.

  • बिशुनपुर से ग्राउंड रिपोर्टः खेत देख रहे पानी की राह, रोजगार-शिक्षा के लिए परदेस जाना भी मजबूरी

    गुमला जिले के बिशुनपुर विधानसभा क्षेत्र में मतदान 30 नंवबर को है. ऐसे में सवाल यह है कि किस मुद्दे को लेकर चुनाव लड़ा जा रहा है और यहां की जनता क्या चाहती है? यहां की जनता क्या सिर्फ नेताओं के चेहरे पर वोट करेगी या स्थानीय मुद्दों का महत्व होगा ?

  • गुमला : आजाद भारत में गुमनाम जी रहे डहूपानी के ग्रामीण, तारणहार का है इंतजार

    गुमला जिले के पालकोट प्रखंड में डहूपानी पंचायत है. बीहड़ जंगल व पहाड़ी इलाके में यह पंचायत बसी है. यहां के ग्रामीण अपने को वनराज कहते हैं. कारण, यह पूरा इलाका जंगली है, इसलिए ग्रामीण खुद को जंगल का राजा भी कहते हैं. लेकिन इस क्षेत्र के करीब पांच हजार ग्रामीण आज भी उम्मीदों में जी रहे हैं. पूरी पंचायत को किसी तारणहार का इंतजार है, ताकि पंचायत की तकदीर व तसवीर बदल सके.

  • गुमला में चुनाव प्रचार में उग्रवादी डाल रहे खलल, प्रत्याशी व समर्थकों के प्रवेश पर रोक लगायी

    गुमला जिले के घाघरा, गुमला व लोहरदगा जिले के सेन्हा प्रखंड के कई इलाकों में हथियारबंद उग्रवादी चुनाव प्रचार में खलल डाल रहे हैं. साथ ही प्रत्याशी के प्रवेश पर रोक लगा दी है. समर्थकों को भी चुनाव प्रचार करने से रोक दिया है. यहां तक कि उक्त प्रत्याशी के झंडा भी कई गांवों में लगाने नहीं दिया गया है. उग्रवादियों के डर से प्रत्याशी के समर्थक चुनाव प्रचार करने से कतरा रहे हैं. एक उम्मीदवार के समर्थक से मिली जानकारी के अनुसार घाघरा, आंजन, कुल्ही के कई इलाकों में हथियारबंद उग्रवादियों का जमावड़ा है.

  • चुनाव में उठ रहे मुद्दे : जनता के सवालों के चक्रव्यूह में फंस रहे गुमला, सिसई व बिशुनपुर विधानसभा प्रत्याशी

    गुमला, सिसई व बिशुनपुर विधानसभा सीट पर कब्जा करने के लिए सभी प्रत्याशी मैदान में कूद चुके हैं. सभी क्षेत्र भ्रमण में है. कुछ प्रत्याशियों के लिए कई दिग्गज नेता गुमला पहुंच रहे हैं. वोट मांग रहे हैं. कुछ बड़े नेता गांवों में घूम रहे हैं, ताकि वोट प्राप्त कर चुनाव जीत सके.

  • बिशुनपुर विधानसभा: धीमा है चुनावी शोर, उम्मीदों का जोर हावी, स्थानीय मुद्दे गायब

    महात्मा गांधी के अनुयायियों की धरती बिशुनपुर में इन दिनों चुनावी शोर उतना ज्यादा तो नहीं है, लेकिन डीजे युक्त प्रचार वाहन चुनावी माहौल बना रहे हैं. आचार संहिता का असर कहें या कुछ और मगर यह सच है कि इस क्षेत्र में कहीं भी चुनाव प्रचार सामग्री मसलन, पर्चे, पताके, झंडे- गमछे इत्यादि देखने को नहीं मिले. हां कुछ गांव में प्रत्याशियों के बैनर घरों पर लगे दिख जायेंगे.

  • लोकतंत्र का महापर्व खुशी-खुशी मनायें, वोट जरूर करें : शोभनाथ

    मतदाता जागरूकता के तहत प्रभात खबर गुमला ने मंगलवार को कल्याण गुरुकुल सिलम में वोट करें, राज्य गढ़ें कार्यक्रम का आयोजन किया. कार्यक्रम में गुरुकुल के प्रशिक्षणार्थी युवकों को सशक्त और मजबूत लोकतंत्र के निर्माण के लिए वोट करने के लिए प्रेरित किया गया.

  • मिशन बदलाव ने मिशिर के पक्ष में किया प्रचार

    गुमला विधानसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी मिशिर कुजूर के पक्ष में मिशन बदलाव के सदस्य उतर आये हैं. मंगलवार को प्रत्याशी के साथ मिशन बदलाव के सदस्यों ने गुमला विस क्षेत्र के कई इलाकों में चुनाव प्रचार किया. भूषण भगत ने कहा कि मिशिर कुजूर ने गुमला की समस्याओं को लेकर आवाज उठायी है.

  • युवा वोटरों ने कहा : विकास व रोजगार देने वाला विधायक हो

    सिसई विधानसभा सीट के लिए चुनाव सात दिसंबर को है. जैसे-जैसे चुनाव की तिथि नजदीक आ रही है, चुनावी सरगर्मी तेज हो रही है. सिसई विस सीट से 10 उम्मीदवार हैं.

  • गाड़ियों से ढोकर जुटायी गयी भीड़ : रमेश चीनी

    कांग्रेस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष रमेश कुमार चीनी ने कहा है कि 25 नवंबर को गुमला के एरोड्रमा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चुनावी सभा हुई. इसमें सात विधानसभा के प्रत्याशी आये थे. इन प्रत्याशियों के लिए पीएम ने गुमला की जनता से वोट मांगा. परंतु सभा में जो भीड़ थी, वह भीड़ स्वत: नहीं आयी थी. बल्कि प्रत्याशियों द्वारा गाड़ियों से ढोकर जुटायी गयी भीड़ थी. अगर कोई एक लाख भीड़ होने की बात कर रहा है, तो यह झूठ है.

  • खतरनाक हो गया है बिशुनपुर का लोंगा पुल, जान हथेली पर रखकर पार करते हैं लोग

    बिशुनपुर प्रखंड का लौंगा पुल जो मुख्‍यालय से 25 गांव को जोड़ती है. इस पुल से हजारों लोग आना-जाना करते हैं, लेकिन वे अपनी जान हथेली पर रखकर उसे पार करने के लिए मजबूर हैं. इस पुल को देखकर आपकी रूह कांप उठेगी. लोंगा पुल तीन जगहों से टूटी हुई है और पुल के तीनों स्लैब धसे हुए हैं.

  • गुमला : चुनावी शोरगुल से दूर पूर्व विधायक

    गुमला : 2009 के चुनाव में कमलेश उरांव गुमला सीट से विधायक बने थे. इसके बाद से 2014 में शिवशंकर उरांव को पार्टी ने प्रत्याशी बनाया. वहीं अब 2019 के चुनाव में भाजपा ने मिसिर कुजूर को पार्टी प्रत्याशी बनाया है. इस पूरी परिस्थिति से नाराज चल रहे पूर्व विधायक कमलेश उरांव पार्टी-पॉलिटिक्स से दूर धान मिसनी में लगे हैं. यह तस्वीर सोशल मीडिया में डाली गयी है.

  • झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 : मेदिनीनगर और गुमला में बोले प्रधानमंत्री मोदी, अगली डबल इंजन सरकार में खत्म हो जायेंगे नक्सली

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को मेदिनीनगर और गुमला में चुनावी सभाओं को संबोधित कर झारखंड में अपने चुनावी अभियान का आगाज किया. मेदिनीनगर के चियांकी में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने पलामू की जनता को डबल इंजन की सरकार के फायदे गिनाये. साथ ही रघुवर दास को झारखंड का वर्तमान और भावी मुख्यमंत्री बताया. दूसरी ओर गुमला के एयरोड्रम मैदान में आयोजित सभा में पीएम मोदी ने नक्सलियों पर निशाना साधते हुए कहा कि अगली बार डबल इंजन की सरकार बनी, तो नक्सलवाद जड़ से समाप्त हो जायेगा.

  • झारखंड विस चुनाव 2019 : पलामू और गुमला में बोले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी- 14 साल वनवास के बाद राम बने मर्यादा पुरुषोत्तम

    मेदिनीनगर/गुमला : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को पलामू के चियांकी मैदान से झारखंड विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार अभियान की शुरुआत की. पलामू के बाद पीएम ने गुमला में भी रैली को संबोधित किया. पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कई बार भगवान श्रीराम का उल्लेख किया.

  • झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 : अर्जुन मुंडा ने कहा- आदिवासियों के विकास की नयी सोच के साथ पीएम मोदी आगे बढ़ रहे हैं

    रांची : केंद्रीय जनजातीय कल्याण मंत्री अर्जुन मुंडा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की गुमला में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए कहा कि आदिवासियों की विकास की नयी सोच के साथ पीएम मोदी आगे बढ़ रहे हैं. उन्होंने कहा कि पीएम ने मोदी ने केवल देश को आगे बढ़ाया बल्कि विश्व पटल पर भारत के सम्मान को भी बढ़ाया है.

  • गुमला में बोले पीएम मोदी - झारखंड को बदनाम करने वाली कांग्रेस और JMM को सिखाना है सबक

    झारखंड विधानसभा चुनाव को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज मेदिनीनगर और गुमला में विशाल जनसभा को संबोधित किया. उन्‍होंने गुमला में रैली को संबोधित करते हुए कहा की धरती वीर पुरुषों, त्यागियों की भूमि है. ऐसे ही प्रेरणा देने वाले व्यक्तित्व भारत में झारखंड की भूमि को विशेष स्थान दिलाते हैं.

  • बाहरी लोगों के हाथों से राज्य को बचाना है

    झारखंड विकास मोर्चा के केंद्रीय अध्यक्ष सह पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी रविवार को घाघरा प्रखंड पहुंचे. उन्होंने एसएस उवि मैदान में चुनावी सभा को संबोधित कर बिशुनपुर विधानसभा के जेवीएम प्रत्याशी महात्मा उरांव के पक्ष में मतदान कर विजयी बनाने की अपील की. उन्होंने कहा कि बाहरी लोगों के हाथों से हमारे राज्य को बचाना है, तभी हमारे राज्य का विकास संभव है.

  • झारखंड से बेइमानों की सरकार को उखाड़ फेंकना है

    रायडीह प्रखंड के मांझाटोली में झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने महागठबंधन प्रत्याशी भूषण तिर्की के समर्थन में चुनावी सभा की. वे मांझाटोली सभा स्थल पर हेलीकॉप्टर से चार बजे पहुंचे, जहां महागठबंधन के कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया. सभा में श्री सोरेन ने सरकार पर हमला किया.

  • पीएम के आने से डर गये हैं विपक्षी: दीपक

    लोकतंत्र में राजनीति के साथ मीडिया की भूमिका महत्वपूर्ण है. 25 नवंबर को देश के पीएम अपने प्रत्याशियों को विजयी बनाने के लिए गुमला आ रहे है. पीएम के आगमन से गुमला, सिसई, बिशुनपुर, लोहरदगा, सिमडेगा, कोलेबिरा के क्षेत्रों में काफी प्रभाव पड़ेगा. उक्त बातें संगठन महामंत्री दीपक प्रकाश ने रविवार को भाजपा चुनावी कार्यालय में प्रेसवार्ता में कहीं.

  • मेदिनीनगर और गुमला में पीएम की चुनावी सभा आज

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 नवंबर को झारखंड में दो चुनावी सभाओं को संबोधित करेंगे. पहली सभा मेदिनीनगर के चियांकी हवाई अड्डा मैदान में और दूसरी सभा गुमला के पुगु हवाई अड्डा मैदान में होगी. विधानसभा चुनाव को लेकर झारखंड में यह प्रधानमंत्री की पहली सभा है.

  • नक्सली वारदात के बाद मुस्तैद हुई पुलिस: पीएम मोदी की सभा को लेकर गुमला में बढ़ी चौकसी

    गुमला : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 नवंबर को गुमला आ रहे हैं. वे गुमला शहर से तीन किमी दूर हवाई अड्डा में चुनावी सभा को संबोधित करेंगे. मोदी के आगमन से तीन दिन पहले लातेहार के चंदवा में नक्सली हमला के बाद झारखंड राज्य की पुलिस अलर्ट हो गयी है. चुनावी जनसभा को लेकर विशेष सतर्कता बरती जा रही है. एसपीजी (स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप) ने समारोह स्थल को अपनी निगरानी व सुरक्षा में ले लिया है. समारोह स्थल में मंच बनाने से लेकर घेराबंदी तक हर काम एसपीजी की निगरानी में हो रही है.

  • #Jharkhand : शहीद की बेटी का सवाल- नक्सली बतायें, मेरे पिता का क्या था कसूर

    लातेहार जिला के चंदवा में नक्सली हमले में शहीद हुए दारोगा सुकरा उरांव का पार्थिव शरीर शनिवार को उनके पैतृक गांव घाघरा प्रखंड के चुमनू गांव लाया गया. तिरंगे में लिपटा शहीद का पार्थिव शरीर घर के सामने जैसे ही रखा गया, उनके अंतिम दर्शन के लिए लोग उमड़ पड़े. पूरा गांव जय हिंद, भारत माता की जय, शहीद सुकरा उरांव जिंदाबाद के बोल से गूंज उठा. हर व्यक्ति की आंखें नम थी.

  • गुमला : रिश्वत ले रही सीडीपीओ गिरफ्तार

    बसिया(गुमला) : आंगनबाड़ी सेविका बनाने के एवज में 25 हजार रुपये रिश्वत लेती बसिया की सीडीपीओ अपर्णा कर्मकार को एसीबी की टीम ने गिरफ्तार कर लिया. गुरुवार को सीडीपीओ अर्पणा बसिया प्रखंड स्थित बाल विकास परियोजना कार्यालय में शिकायतकर्ता एलेक्सिया बारला से रिश्वत ले रही थी.

  • रिश्वत ले रही सीडीपीओ गिरफ्तार

    आंगनबाड़ी सेविका बनाने के एवज में 25 हजार रुपये रिश्वत लेती बसिया की सीडीपीओ अपर्णा कर्मकार को एसीबी की टीम ने गिरफ्तार कर लिया. गुरुवार को सीडीपीओ अर्पणा बसिया प्रखंड स्थित बाल विकास परियोजना कार्यालय में शिकायतकर्ता एलेक्सिया बारला से रिश्वत ले रही थी.

  • पर्यटन स्थल का दर्जा प्राप्त करने को तरस रहा गुमला

    अदभुत प्राकृतिक छटा. धार्मिक स्थल. ऐतिहासिक धरोहर. कल-कल बहती नदी की धारा. सुंदर पत्थर. आसपास घने जंगल. ऊंचे पहाड़. शांत वातावरण. यह पहचान गुमला जिला की है. गुमला अपने अंदर कई ऐतिहासिक व धार्मिक स्थलों का समेटे हुए हैं, लेकिन अभी तक इसे पर्यटन स्थल का दर्जा नहीं मिला है.

  • 20 वर्ष बाद यूपी से गुमला का बंधुआ मजदूर मुक्त

    उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले से 20 वर्ष बाद 35 वर्षीय बंधुआ मजदूर मलिक गोप मुक्त हुआ. उसे बंधुआ मजदूर के रूप में जौनपुर के सुनील सिंह अपने घर में रखा हुआ था. जब इसकी जानकारी जौनपुर के डीएम सत्य प्रकाश और मिशन बदलाव उत्तर प्रदेश के सदस्य रवि यादव को हुई, तो मलिक को मुक्त कराया गया. मलिक गोप गुमला जिला अंतर्गत पालकोट प्रखंड का रहने वाला है.

  • चुनाव में 103 नये मतदान केंद्र बढ़े

    जिला प्रशासन गुमला ने इस बार के विधानसभा चुनाव में मतदान केंद्रों को मतदाताओं के समीप पहुंचाने का काम किया है. पिछले लोकसभा चुनाव तक जिले में (लोहरदगा जिला का पेशरार, सेन्हा व भंडरा प्रखंड का कुछ हिस्सा भी शामिल) 891 मतदान केंद्र था, परंतु इस बार के चुनाव में जिला प्रशासन ने मतदान केंद्रों का विस्तार किया है.

  • आपके क्षेत्र का बेटा है, आप समर्थन दें

    रायडीह प्रखंड के बांसडीह गांव में बुधवार को भाजपा की जनसभा हुई. इसमें मुख्य अतिथि केंद्रीय आदिवासी मामले के मंत्री अर्जुन मुंडा शामिल हुए. हेलीकॉप्टर से उतरने के बाद भाजपाइयों ने उनका स्वागत किया. साथ ही परसा पंचायत के महिला मंडल की सदस्यों ने उन्हें कार्यक्रम स्थल लाया.

  • झारखंड की राजनीति का फ्लैश बैक : 1967 में रांची आ कर अटल से मांगा था टिकट, लड़ा था चुनाव

    गुमला : 1967 जब जनसंघ के सर्वमान्य नेता अटलबिहारी वाजपेयी रांची आये थे. रोपना उरांव ने रांची जाकर वाजपेयी से मुलाकात की थी. गुमला विधानसभा सीट के लिए टिकट मांगा था. उस समय वाजपेयी ने रोपना से पूछा था कि टिकट आपको ही क्यों दें? उन्होंने संघ को मजबूत करने और जनता के हित के लिए काम करने का वादा किया था.

  • सिसई विधानसभा : आरएसपी के ननकेश्वर व बहुजन महापार्टी के सुनील का नामांकन रद्द

    सिसई विधानसभा सीट के लिए नामांकन प्रपत्र दाखिल करने वाले प्रत्याशियों के नामांकन प्रपत्रों की स्क्रूटनी (संवीक्षा) मंगलवार को हुई. निर्वाची पदाधिकारी सह बसिया एसडीओ सौरभ प्रसाद ने सभी प्रत्याशियों के नामांकन प्रपत्रों की स्क्रूटनी की. स्क्रूटनी में दो प्रत्याशियों का नामांकन प्रपत्र रद्द हो गया. आरएसपी के प्रत्याशी ननकेश्वर बड़ाइक एवं बहुजन महापार्टी के प्रत्याशी सुनील कुमार कुजूर का नामांकन प्रपत्र रद्द हुआ है.

  • वोट कटवा के कारण खतरे में है लोकतंत्र

    गुमला में चुनावी हलचल तेज हो गयी है. जगह-जगह चुनावी चर्चा हो रही है. चाय की दुकानें मुख्य चुनावी चर्चा का अड्डा बन गयी हैं. ऐसा ही एक चुनावी चर्चा मंगलवार को सिसई रोड की चाय दुकान में हो रही है. चर्चा में गुमला के कुछ युवक थे. इसमें कुछ सरकारी पेशे से थे, तो कुछ समाज सेवी थे.

  • वोट बहिष्कार की चेतावनी

    रायडीह प्रखंड की परसा पंचायत के ग्रामीण गांव का विकास नहीं होने से नाराज हैं. ग्रामीणों ने कहा कि गुमला करमटोली से लेकर कांसीर तक जर्जर सड़क व ध्वस्त

  • गुमला : वायरलेस सेट करते समय करंट से हवलदार की मौत

    गुमला : पॉलिटेक्निक कॉलेज, गुमला में सोमवार सुबह आइटीबीपी के हवलदार शेर सिंह (35) की मौत करंट लगने से हो गयी. करंट लगने के बाद हवलदार को सदर अस्पताल गुमला लाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया. वह मूलत: हिमाचल प्रदेश के थानादारी गांव के रहनेवाले थे. इसकी सूचना मिलने पर एसपी (अभियान) ब्रजेंद्र मिश्र, थानेदार शंकर ठाकुर, सीआरपीएफ के वरीय पदाधिकारी अस्पताल पहुंचे. एसआइ सुख राम ने पंचनामा कर शव का पोस्टमार्टम कराया और जवान के पैतृक गांव भेजवा दिया.

  • वायरलेस सेट करते समय करंट से हवलदार की मौत

    पॉलिटेक्निक कॉलेज, गुमला में सोमवार सुबह आइटीबीपी के हवलदार शेर सिंह (35) की मौत करंट लगने से हो गयी. करंट लगने के बाद हवलदार को सदर अस्पताल गुमला लाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया. वह मूलत: हिमाचल प्रदेश के थानादारी गांव के रहनेवाले थे.

  • भाजपा से दिनेश, झाविमो से लोहरमइन समेत 10 प्रत्यािशयों ने िकया नामांकन

    सिसई विधानसभा चुनाव 2019 के निमित नामांकन प्रपत्र दाखिल करने के अंतिम दिन सोमवार को सिसई विस सीट के लिए कुल 10 प्रत्याशियों ने नामांकन किया.

  • गुमला, सिसई और बिशुनपुर में निर्दलीय उम्मीदवार बिगाड़ सकते हैं खेल

    गुमला, सिसई व बिशुनपुर विधानसभा सीट में इसबार दिलचस्प मुकाबला होगा. रिजल्ट भी चौंकाने वाला हो सकता है. हालांकि जीत का ख्वाब देखने वालों के लिए भी बुरी खबर है. क्योंकि इसबार कई ऐसे निर्दलीय उम्मीदवार हैं, जो वोट काट कर किसी की खुशी को गम में बदल सकते हैं.

  • भारी मात्रा में शराब जब्त, दो गिरफ्तार

    गुमला पुलिस ने विधानसभा चुनाव को देखते हुए शराब की अवैध बिक्री के खिलाफ कोटाम गांव में छापामारी की. छापामारी टीम 4:30 बजे कोटाम गांव में हीरा महतो के होटल में रूकी. पुलिस को देखते ही हीरा महतो फरार हो गया. पुलिस ने होटल की तलाशी ली, जिसमें पुलिस ने मेकडोवले नंबर वन विस्की 375 एमएल का पांच पीस, मैकडोवेल नैंबर वन 180 एमएल का 10 बोतल,

  • गुमला : कार्यक्रम के लिए प्रभारियों की सूची जारी

    भाजपा के चुनाव कार्यालय जशपुर रोड में भाजयुमो की बैठक हुई, जिसमें युवा मोर्चा के जिला प्रभारी दीपक केसरी ने प्रदेश से मिले निर्देश को बताया. कहा कि 30 नवंबर को होने वाले चुनाव के निमित सभी मंडलों में बैठक करेंगे. युवा बूथ टोली बनायेंगे.

  • नदी में मिला अज्ञात शव

    जारी थाना क्षेत्र के भिखमपुर लावा नदी से पुलिस ने एक अज्ञात शव बरामद किया. शव किसी युवक का है, जिसकी उम्र 28 से 30 वर्ष के बीच है. समाचार लिखे जाने तक शव की शिनाख्त नहीं हो पायी थी. पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल गुमला भेज दिया.

  • अपोलो के डॉक्‍टर वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये कर रहे 1 रुपये में गांव के मरीजों का इलाज

    मात्र एक रुपये फीस में वीडियो कांफ्रेंसिंग द्वारा अपोलो के डॉक्टर गांव के मरीजों का इलाज कर रहे हैं. इसमें मरीजों को डॉक्टरी सलाह के साथ-साथ डॉक्‍टर बीमारी की जानकारी पर दवा खाने की परचा भी लिखकर दे रहे हैं.

  • चार आरोपी गिरफ्तार

    भरनो पुलिस ने महादेव चेगरी गांव निवासी बनवारी उरांव, एतो उरांव, प्रदीप उरांव व जोगिया उरांव को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. ज्ञात हो कि शुक्रवार को प्रखंड के महादेव चेगरी गांव में धान काटने को लेकर दो गुटों में मारपीट हुई थी, जिसमें दर्जनों लोग घायल हो गये थे. घटना के बाद पुलिस गांव पहुंची थी.

  • जंगली हाथी के पहुंचने से लोग भयभीत

    प्रखंड क्षेत्र में शनिवार की सुबह एक जंगली हाथी के आने से लोग भयभीत हैं. बताया गया कि हाथी कुछ दिन पूर्व नेतरहाट के पुलिस कैंप के समीप पहुंच गया था. वहां से वन विभाग द्वारा उसे खदेड़ा गया था. वही हाथी जंगल के रास्ते शनिवार की सुबह ओरया गांव होते हुए चेड़ा पहुंचा.

  • ट्रैक्टर की चपेट में आने से छात्रा की मौत

    घाघरा थाना क्षेत्र के सलगी बरटोली गांव निवासी सुनील उरांव की छह वर्षीया बेटी साक्षी कुमारी की मौत ट्रैक्टर की चपेट में आने से घटना स्थल पर हो गयी. वहीं उसका पिता सुनील उरांव घायल हो गया. दुर्घटना के बाद परिजनों ने आनन-फानन में दोनों को सीएचसी घाघरा में लाया, जहां चिकित्सकों ने साक्षी को मृत घोषित कर दिया.

  • छापामारी में 15 ली शराब जब्त, एक गिरफ्तार

    विधानसभा चुनाव को लेकर बसिया पुलिस लगातार छापामारी अभियान चला रही है. इसके तहत शराब के अवैध कारोबार में लगे लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है. इस संबंध में थानेदार राधेश्याम राम ने बताया कि सूचना मिली कि कोनबीर बाजार में प्रतिबंधित रसायन काे मिला कर महुआ शराब की बिक्री धड़ल्ले से हो रही है.

  • गुमला के विकास में सहभागी बनें : डीसी

    झारखंड राज्य का 19वां स्थापना दिवस सह भगवान बिरसा मुंडा जयंती समारोह शुक्रवार को गुमला जिले में धूमधाम से मनाया गया. स्थापना दिवस व जयंती को लेकर जिले भर में विभिन्न स्थानों पर कई प्रकार के कार्यक्रम हुए. वहीं मुख्य कार्यक्रम गुमला के बिरसा मुंडा एग्रो पार्क में हुआ.

  • बिरसा मुंडा के सपनों का झारखंड बनाने के लिए हम मिल कर प्रयास करें : सतीश चाचरा

    भगवान बिरसा मुंडा जयंती सह झारखंड राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर नवयुवक संघ तेलगांव के तत्वावधान में तेलगांव में कार्यक्रम का आयोजन किया गया.

  • भाजपा व झामुमो ने पुराने चेहरे को किया पसंद, दिनेश और जिग्गा फिर मैदान में

    सिसई विधानसभा सीट के लिए दिलचस्प चुनाव होगा, क्योंकि इसबार पुन: विधानसभा अध्यक्ष डॉक्टर दिनेश उरांव चुनाव लड़ रहे हैं. भाजपा ने उनपर दोबारा भरोसा करते हुए टिकट दिया है.2014 के चुनाव में दिनेश उरांव ने झामुमो के जिग्गा मुंडा को पराजित किया था.

  • जदयू प्रत्याशी ने किया चुनावी दौरा

    जनता दल यूनाइटेड की बैठक हुई. अध्यक्षता जिलाध्यक्ष सकलू मेहता ने की, जिसमें बिशुनपुर विधानसभा सीट से जदयू प्रत्याशी कृपालता देवी को विस चुनाव में विजयी बनाने के लिए रणनीति तैयार की गयी. सदस्यों ने विस प्रत्याशी को विजयी बनाने का संकल्प लिया.

  • प्रेक्षकों ने कोषांगों का जायजा लिया

    गुमला के सामान्य प्रेक्षक एनजी हीरा, बिशुनपुर के सामान्य प्रेक्षक दीपक एम मुगलीकर व पुलिस प्रेक्षक बाबू राम ने शुक्रवार को इवीएम, वीवीपैट कोषांग, वज्रगृह, मतगणना केंद्र, प्रशिक्षण कोषांग, मीडिया कोषांग, सामग्री कोषांग, एनआइसी, सी विजिल, सिंगल विंडो व वाहन कोषांग का निरीक्षण किया.

  • गुमला की बच्ची से रांची में दुष्कर्म

    गुमला जिला के बसिया प्रखंड की 13 वर्षीया बच्ची के साथ रांची में दवा खिला कर दुष्कर्म करने का मामला प्रकाश में आया है. पांच माह से उसका शारीरिक शोषण हो रहा था.

  • तीन पुलिसकर्मियों को वीरता पदक

    गुमला, रांची, खूंटी, सिमडेगा व चाईबासा के कुख्यात पीएलएफआइ नक्सली गुज्जू गोप को मार गिराने वाले बसिया अनुमंडल के तीन पुलिसकर्मियों को गुरुवार को रांची में वीरता पदक देकर सम्मानित किया गया और उनकी बहादुरी की प्रशंसा की गयी. इसके अलावा दो पुलिसकर्मियों को झारखंड पुलिस पदक से सम्मानित किया गया.

  • टांगी से मार कर मां की हत्या

    पालकोट थाना क्षेत्र के उग्रवाद प्रभावित क्षेत्र बिलिंगबिरा के राजस्व गांव केराटोली में बुधवार की शाम करीब 6:30 बजे एक बेटे ने टांगी से मार कर अपनी मां तारा देवी (65) की हत्या कर दी.

  • अन्नप्रास फूड प्रोजेक्ट ने ढाई करोड़ रुपये का किया गबन, केस दर्ज

    गुमला जिले में ढाई करोड रुपये से अधिक की सरकारी राशि के गबन मामले में बुधवार को गुमला थाना में केस दर्ज किया गया. जिला आपूर्ति पदाधिकारी अरविंद कुमार लाल ने केस दर्ज कराया है.

  • मिलावटी खाना व मिलावटी सरकार नहीं चलेगी : सीएम

    : मुख्यमंत्री रघुवर दास बुधवार को गुमला पहुंचे. वे गुमला सीट से भाजपा के उम्मीदवार मिशिर कुजूर व बिशुनपुर सीट से अशोक उरांव के नामांकन में शामिल होने हेलीकॉप्टर से पहुंचे थे. नामांकन केंद्र से बाहर निकलने के बाद सीएम श्री दास ने कहा कि जिस प्रकार अब जनता मिलावटी खाना पसंद नहीं करती है

  • भाजपा में सभी कार्यकर्ता एक समान हैं : स्पीकर

    प्रखंड के करंज गांव के जगरनाथ बगीचा में विस चुनाव की तैयारी को लेकर भाजपा कार्यकर्ता सम्मेलन का आयोजन किया गया. मुख्य अतिथि स्पीकर दिनेश उरांव सहित कोर कमेटी के सभी पदाधिकारी शामिल हुए. कार्यकर्ता सम्मेलन में भाजपा के कार्यों से प्रभावित होकर अलग-अलग दल के करीब 100 लोगों ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की.

  • मारपीट कर महिला की हत्या

    गुमला सदर थाना क्षेत्र के मुरकुंडा कुम्हारटोली निवासी फुलमनी देवी (62) की हत्या कर दी गयी. उसी बुरी तरह पीटा गया. हत्या के आरोपी बसिया थाना के पोक्टा गांव निवासी कृष्णा के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है. पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया. मृतक के बेटे मड़वारी महतो ने गुमला थाना में कृष्णा महतो के खिलाफ केस दर्ज कराया है.

  • सेविकाओं का दो दिनी प्रशिक्षण शुरू

    डीएसए सितारा संस्था गुमला सह एनइजी फायर नयी दिल्ली के संयुक्त तत्वावधान में सितारा कार्यालय में आंगनबाड़ी सेविका का दो दिनी प्रशिक्षण का आयोजन किया गया. मुख्य अतिथि शोभारानी नाग ने इसका शुभारंभ किया.

  • गुमला के रोपना उरांव का जब कांग्रेस ने काटा टिकट, तो जनसंघ से जुड़कर दर्ज की दो बार जीत

    गुमला विधानसभा सीट से 1967 व 1969 में दो बार विधायक रहे दिवंगत रोपना उरांव राजनीति के क्षेत्र में ऐसे महान शख्सियत थे. जिन्होंने आम जनता व पार्टी के कार्यकर्ताओं को मान सम्मान देने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी.

  • #JharkhandAssemblyPolls : पहले चरण का नामांकन खत्‍म, गुमला से 14 व बिशुनपुर से 12 उम्‍मीदवारों ने भरा पर्जा

    झारखंड विधानसभा चुनाव के पहले चरण के लिए नामांकन की तिथि आज समाप्‍त हो गयी. गुमला व बिशुनपुर विधानसभा सीट के लिए बुधवार को अंतिम दिन गुमला से 12 व बिशुनपुर से छह उम्मीदवारों ने नामांकन किये.

  • गुमला में बोले रघुवर दास - मिलावटी खाना व मिलावटी सरकार जनता को पसंद नहीं

    मुख्यमंत्री रघुवर दास बुधवार को गुमला पहुंचे. वे भाजपा के गुमला उम्मीदवार मिशिर कुजूर व बिशुनपुर के अशोक उरांव के नामांकन में शामिल होने यहां पहुंचे थे.

  • गुमला व बिशुनपुर से 18 उम्मीदवारों ने पर्चा भरा, भाजपा व झामुमो के उम्मीदवार जुलूस लेकर पहुंचे नामांकन करने

    गुमला : गुमला व बिशुनपुर विधानसभा के 18 उम्मीदवारों ने बुधवार को नामांकन किया. भ