• दुमका में सवारी गाड़ी ने खड़ी हाइवा को मारी टक्कर, तीन की मौत, एक दर्जन घायल

    दुमका नगर : झारखंड के दुमका जिला में दुमका-पाकुड़ मुख्य मार्ग पर गोपीकांदर थाना क्षेत्र के जियापानी गांव के समीप सड़क के किनारे खड़ी हाइवा और सवारी गाड़ी की जोरदार टक्कर में तीन लोगों की मौत हो गयी. एक बच्ची सहित एक दर्जन लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गये.

  • कभी झामुमो के लिए मर मिटने को तैयार थे सुनील अब उसी को मिटाने में जुटे

    आनंद जायसवाल, दुमका : दुमका से चुनाव जीत कर झामुमो के किले को ध्वस्त करनेवाले भाजपा के प्रत्याशी सुनील सोरेन कभी शिबू सोरेन और उनकी पार्टी के लिए मर-मिटने को तैयार थे. जामा के तरबंधा में 6 अप्रैल 1972 को सुफल सोरेन व पकु मरांडी के घर में जन्मे सुनील जब कॉलेज की शिक्षा हासिल कर रहे थे, उसी वक्त उन्होंने झामुमो का दामन थाम लिया था.

  • लोकसभा चुनाव : एग्जिट पोल सीरियल जैसा : हेमंत

    झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष सह पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने लोकसभा चुनाव को लेकर विभिन्न टीवी चैनलों में चल रहे एग्जिट पोल की तुलना तारक मेहता का उलटा चश्मा व कभी सास भी बहू थी जैसे टीवी सीरियल से की है. उन्होंने कहा कि चुनाव खत्म होने के बाद व गिनती शुरू होने के पहले एग्जिट पोल एक छोटा-सा सीरियल है. शाॅर्ट सीरीज है.

  • दुमका : 41 डिग्री में भी न डिगे वोटर बूथों पर वोटों की बारिश

    कड़ी धूप व प्रचंड गर्मी के बावजूद दुमका संसदीय क्षेत्र में वोटर सुबह से ही मतदान केंद्रों की ओर रुख करते दिख रहे थे. शहर ही नहीं ग्रामीण क्षेत्र में भी मतदाता धूप से बचने के लिए सुबह-सुबह ही मतदान केंद्र पहुंच गये थे. अधिकांश बूथों में तो छह-साढ़े छह बजे ही लंबी-लंबी कतारें लग गयीं थीं.

  • शांतिपूर्ण मतदान, महेशपुर में एएसआइ हटाये गये

    राजमहल लोकसभा क्षेत्र के साहिबगंज में सुबह 6 बजे से ही वोटर अपने अपने बुथो में पहला वोटर बनने के लिए खड़े रहे. वही रमजान होने के कारण मुस्लिम वोटर सुबह से ही लाइन में खड़े रहे.

  • उग्रवाद प्रभावित क्षेत्रों में हुई जबरदस्त वोटिंग

    शिकारीपाड़ा/काठीकुंड : दुमका के उग्रवाद