मीन ((दी,दू,थ,झ,ञ,दे,दो,चा,ची))

दैनिक राशिफल

धार्मिक कार्य संपन्न होंगे. पराक्रम के कारण सफलता मिलने के योग बनते हैं. बस आप अपने कार्य करते रहें. कुल देवता का स्मरण करें.

साप्ताहिक राशिफल

मीन : रोग भाव के स्वामी नीच राशि में स्थित बुध के साथ हैं. अापके व्यय स्थान में सूर्य, बुध, केतु, शुक्र और चंद्र इन पांचों ग्रहों की युति हो रही है. कोई रोग हो सकता है. मोटापा, मधुमेह, रक्तचाप, जीभ या गले में तकलीफ, बेचैनी, तनाव आदि समस्याएं हो सकती हैं.

वार्षिक राशिफल

मीन

वार्षिक राशिफल - 2015

जनवरी : धन और शिक्षा के मामलों में यह बहुत ही प्रभावशाली माह रहेगा.  स्वपराक्रम और आत्मबल बढ़ा-चढ़ा रहेगा. राजनीतिक और सामाजिक क्षेत्र में कार्य करनेवालों को बहुत लाभ और सम्मान की स्थिति बनेगी. पिता या बड़े भाई से मनमुटाव और विरोध की परिस्थिति उत्पन्न हो सकती है.

फरवरी : आय और व्यय में संतुलन रहेगा. सुदूर यात्र का योग बन रहा है. पिता के साथ वैचारिक मतभेद उत्पन्न हो सकते हैं. शत्रुओं के कारण लाभ का योग बन रहा है. केवल भाग्य के भरोसे न रहें, कोई आर्थिक जोखिम न उठाएं.

मार्च : भौतिक सुख-सुविधा में वृद्धि होगी. विपरीत लिंगियों से नये रिश्ते बन सकते हैं. कामोत्तेजना चरम पर हो सकती है. इसे थोड़ा नियंत्रित रखें. नये प्रेम संबंध बन सकते हैं, परंतु पुराने रिश्तों में दरार की संभावना भी बन रही है. अहंकार से बचने का प्रयास करें.

अप्रैल : वाहन चलाते समय और यात्र के दौरान जल्दबाजी न करें, न ही आवेशित हों, क्योंकि दुर्घटना का योग बन रहा है. धन का आगमन सामान्य रहेगा. भौतिक सुख-सुविधा में वृद्धि रहेगी. मन बहुत चंचल रहेगा. स्वास्थ्य का ध्यान रखें, विशेषकर अपनी आंखों का.

मई : अपने प्रयास, बुद्धि और मेहनत के बल पर बहुत धन कमायेंगे. जनसंपर्क बहुत तेज और सार्थक रहेगा. चारों ओर आपका प्रभाव बनेगा. नये कार्य प्रारंभ करने के लिए अच्छा समय है. शत्रु परास्त होंगे. भौतिक सुख-सुविधाओं में खूब वृद्धि होगी. कुल मिला कर बेहतर समय है. भरपूर लाभ उठाएं.

जून : मन बेचैन रह सकता है. शिक्षा को लेकर संतान से कुछ परेशानी हो सकती है. आपसी रिश्ते, विशेषकर सगे-संबंधियों से रिश्ते बिगड़ सकते हैं. काम में मन नहीं लगेगा. अनावश्यक तनाव और भय महसूस हो सकता है. स्वास्थ्य को लेकर सचेत रहें. मानसिक तनाव से बचें.

जुलाई : वैवाहिक जीवन के लिए सुखद समय नहीं है. जीवनसाथी के साथ मतभेद हो सकता है. पारिवारिक सुख में कमी रहेगी. वादे निभाने में असफल हो सकते हैं. नये कार्य में हाथ डालने के लिए बिलकुल ही उचित समय नहीं है. क्रोध और वाणी पर नियंत्रण रखें. सोच-समझ कर ही बोलें.

अगस्त : समय थोड़ा प्रतिकूलता लिए आगे बढ़ रहा है, अत: धैर्य और संयम से काम लें. किसी भी कार्य में जल्दबाजी और आवेश नुकसान पहुंचा सकता है, क्योंकि इस समय निर्णय लेने की शक्ति कमजोर रहेगी. कार्य स्थल पर विवाद का योग बन रहा है. स्वास्थ्य का ध्यान रखें.

सितंबर : स्वपराक्रम में वृद्धि और आत्मविश्वास बढ़ेगा. शत्रु परास्त होंगे. धन का आगमन अच्छा रहेगा. कुछ समय के लिए जीवनसाथी से संबंध सामान्य होने के आसार बन रहे हैं. रोग और ऋण से मुक्ति मिलेगी. यात्र सफल होगी. विदेशी संबंधों से लाभ तथा विदेश यात्र का योग प्रबल है.

अक्तूबर : मिला-जुला फल देनेवाला होगा यह माह. पारिवारिक स्थिति और माहौल मनमुताबिक नहीं रहेगा. धन की हानि संभव है. राज्य संबंधी कार्यो, उच्च अधिकारियों से कार्य निकलवाने में सफल होंगे. सुदूर यात्र फलदायी होगी. वाहन से दुर्घटना का योग बन रहा है, थोड़ी सावधानी अपेक्षित है.

नवंबर : अपने वैवाहिक जीवन को संभालें. जीवनसाथी के साथ थोड़ा समय बिताएं और प्रयास करें कि आपके किसी व्यवहार के कारण उन्हें कोई मानसिक आघात न लगे. गहरे पानी से दूरी बनाये रखें.  शत्रु हावी हो सकते हैं. व्यर्थ के यात्र और खर्च परेशान कर सकते हैं, नियंत्रण रखें.

दिसंबर : घर से कुछ समय के लिए दूर जाने का योग बन रहा है. अनावश्यक क्रोध, तनाव और घृणा का शिकार बन सकते हैं. मन और सोच में बहुत उत्तेजना रहेगी. पारिवारिक सुख में कमी, व्यापार में नुकसान, अचानक वाहन या किसी विवाद के कारण धन की हानि संभव है. समय प्रतिकूल है, शांति बनाये रखें और बेहतर है कहीं धार्मिक या सामाजिक यात्र में समय बिताएं.

उपाय : मीन राशि के जातकों के लिए यह वर्ष शारीरिक, आर्थिक और मानसिक रूप से थका देनेवाला होगा. व्यापार में लगातार हानि हो रही हो, तो विष्णु सहस्त्र नाम या गजेंद्र मोक्ष स्तुति करें. यह ऋण, शत्रु और रोग मुक्ति में अद्भुत लाभदायक है. धर्म और न्याय के पथ पर बने रहें तथा पिता, गुरु, कमजोर और बच्चों की सेवा करें.