कर्क ((ही,हू,हे,डू,डे,हो,डा,डी,डो))

दैनिक राशिफल

किये गये कार्य में सफलता मिलेगी. संतान सही दिशा में अपने कार्य में लगे रहें, तो सफलता अवश्य मिलेगी. हनुमान चालीसा का पाठ श्रेयस्कर रहेगा.

साप्ताहिक राशिफल

कर्क : रोग भाव के स्वामी गुरु राहू के साथ हैं. स्वास्थ्य का खूब ख्याल रखना होगा. शारीरिक पीड़ा का ठीक तरीके से निदान होगा. जिन्हें रीढ़ की हड्डी, हृदय, रक्त वाहिनी संबंधी पीड़ा हो, उन्हें अपना विशेष ध्यान रखना होगा. जीभ, गले में पीड़ा या मुंह में छाले पड़ने की भी आशंका है. 

वार्षिक राशिफल

कर्क

वार्षिक राशिफल - 2015

जनवरी : कर्क राशि के जातकों के लिए इस वर्ष का प्रारंभ बहुत कुछ देनेवाला होगा.  आय में थोड़ी कमी रहेगी फिर भी पारिवारिक सुख, दांपत्य सुख मिलेगा.  जायदाद के मामले में सफलता मिलेगी, शत्रु हानि नहीं कर पायेंगे.

फरवरी : यह महीना समय धन, स्वास्थ्य, संतान और शिक्षा के लिए ठीक नहीं है. आपका पुरुषार्थ खूब बढ़ा-चढ़ा रहेगा. आर्थिक स्थिति सुधारने के लिए अधिक परिश्रम करना पड़ेगा. इस समय किसी नये कार्य में हाथ डालने से बचें.

मार्च : भाग्य और पुरुषार्थ के बल पर आप खूब धन कमायेंगे. यदि नौकरी में हैं, तो तरक्की और अच्छी जगह ट्रांसफर संभव है. यदि कोई शत्रु है, तो जरा भी टिक नहीं पायेगा. फिर भी अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें. प्रेमी जनों के लिए अच्छा समय है.

अप्रैल : भाग्य पक्ष कमजोर रहेगा, फिर भी धन आने के अच्छे संकेत हैं. राज्य संबंधी कार्यो में सफलता मिलेगी. समाज में मान-सम्मान बढ़ेगा, संतान से थोड़ा कष्ट मिल सकता है. कोशिश करें कि मित्रों और सहयोगियों से विवाद न हो.

मई : यह माह अत्यंत ही अच्छा जायेगा. यदि आपकी कुंडली में जन्म के समय ग्रहों की स्थिति अच्छी है और दशा भी अच्छी चल रही है, तो लक्ष्मी छप्पर फाड़ के बरसेंगी. राजनीतिक क्षेत्र के लोगों को महत्वपूर्ण पद प्राप्त हो सकता है.

जून : इस समय सोचने-समझने की शक्ति थोड़ी कमजोर रहेगी या बहुत सोचेंगे, जिसमें ज्यादातर बातें निर्थक होंगी. धन का आगमन एक से अधिक स्नेतों से होगा.  नौकरी में तरक्की का योग है. किसी समस्या में बहनों का सहयोग मिलेगा.

जुलाई : आपकी सोच में परिवर्तन आ रहा था, उसका परिणाम इस माह देखने को मिलेगा. खर्च बहुत ज्यादा होगा और आय लगभग रुक जायेगी. अपने मन-मस्तिष्क और क्रिया-कलापों पर नियंत्रण रखें अन्यथा नुकसान उठाना पड़ सकता है.

अगस्त : मन विचलित रहेगा, वाणी पर नियंत्रण रखना होगा. आय बढ़ेगी और नये कार्यो के अवसर भी प्राप्त होंगे, परंतु आपकी बातों से आपको नुकसान हो सकता है. अत: सोच-समझ कर बोलें. जीवनसाथी का भरपूर सहयोग मिलेगा.

सितंबर : आप जरूरत से ज्यादा रोमांटिक हो सकते हैं. नये प्रेम संबंध भी पनप सकते हैं. प्रेमी युगलों के लिए अच्छा माह है, जीवनसाथी का भरपूर प्यार और सहयोग मिलेगा. घूमने-फिरने में अत्यधिक धन व्यय हो सकता है.

अक्तूबर : आपकी सोच में नकारात्मकता रहेगी, जिसके कारण काम पर असर पड़ेगा और परिणामस्वरूप आय में कमी, व्यापार में नुकसान हो सकता है. मन व्यग्र रहेगा, वाणी और आवेग पर नियंत्रण रखें. किसी धार्मिक यात्र पर जा सकते हैं.

नवंबर : कुछ अनचाही मानसिक उलझनों में रहेंगे. पिता और उच्च अधिकारियों से बहुत लाभ होगा. घरेलू सुख में वृद्धि होगी और घर के रख-रखाव में कुछ खर्च भी होगा. मां के स्वास्थ्य की चिंता हो सकती है. अपने स्वास्थ्य के प्रति भी सचेत रहें.

दिसंबर : विषम परिस्थितियों के बावजूद सुख का अनुभव होगा. धन हानि की संभावना बनेगी. संतान से भी परेशानी हो सकती है. शिक्षा के क्षेत्र में सफलता के लिए अधिक परिश्रम करना पड़ेगा. यात्र से दूर रहें. अच्छे समय का इंतजार करें.

उपाय : सफेद वस्त्र, चांदी, चावल, भात एवं दूध का दान चंद्रमा पीड़ित वाले व्यक्ति के लिए लाभदायक होता है. प्यासे व्यक्ति को पानी पिलाने से भी चंद्रमा की विपरीत दशा में सुधार होता है. चंद्रमा से संबंधित वस्तुओं का दान करते समय ध्यान रखें कि दिन सोमवार हो और संध्या काल हो.