सुरेंद्र किशोर

सरकार को ही रखना होगा शिक्षा, स्वास्थ्य और सुरक्षा का ध्यान

सुरेंद्र किशोर

बिहार सरकार गवाहों की सुरक्षा के लिए ‘गवाह सुरक्षा योजना’ लाने जा रही है. इससे बेहतर खबर कोई और नहीं हो सकती. इससे कमजोर व पीड़ित लोगों में सुरक्षा का भाव पैदा होगा. साथ ही, अदालती सजाओं का प्रतिशत बढ़ेगा, जो बिहार में बहुत कम है. केंद्र सरकार 72 सौ करोड़ रुपये की सालाना छात्रवृति योजना को लागू करेगी. उधर, प्रधानमंत्री ने मेडिकल पेशे की कमियों की चर्चा भी की है. ये शुभ लक्षण हैं. यानी सुरक्षा, शिक्षा और स्वास्थ्य की ओर सरकारों का ध्यान जा रहा है, पर उतना नहीं,जितने की जरूरत है.

Columns

संविधान संशोधन का अर्थ

रामबहादुर राय

आजकल संविधान को लेकर जो बहस चल रही है, उसके गुण-दोष को छोड़ दें, तो एक अच्छी बात यह है कि संविधान ...

Columns

कॉलेजियम व्यवस्था पर सवाल

विजय कुमार चौधरी

पिछले दिनों कोच्चि (केरल) में आयोजित एक कार्यक्रम में उच्चतम न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश कुरियन ...

Columns

संन्यास का फैसला धौनी पर छोड़ें

आशुतोष चतुर्वेदी

महेंद्र सिंह धौनी एक बार फिर सुर्खियों में है. कुछ-कुछ दिनों बाद धौनी चर्चा में आ जाते हैं. भारतीय ...

Columns

संविधान का मूल विचार

अनुज लुगुन

पिछले वर्ष सुप्रीम कोर्ट का एक आदेश सुर्खियों में था, जिसमें उसने करीब दस लाख से ज्यादा आदिवासियों ...

Columnists